Contact Us Page

How to Use of Mouse Mouse ka prayog kaise kare

How to Use of Mouse Mouse ka prayog kaise kare (माउस का उपयोग कैसे करें)

Use of Mouse

दोस्तो आप पढ़ चुके हैं कि माउस एक इनपुट डिवाइस है। इसे Pointing Device भी कहा जाता है। कंप्यूटर में इसका प्रयोग बहुत ज्यादा किया जाता है। ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (GUI) के प्रयोग से इसका महत्व और भी बढ़ गया है। दोस्तों Mouse का आविष्कार डॉक्टर डग्लस एंगेलबर्ट ने 1964 में किया था।

https://computernoteshindi.com/how-to-use-of-mouse-mouse-ka-prayog-kaise-kare/

MOUSE

Mouse की सहायता से हम कंप्यूटर में किसी ऑब्जेक्ट को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जा सकते हैं। किसी काम को करने या उसे संबंधित कार्य को संपादित करने के लिए भी किया जाता है। कंप्यूटर मदरबोर्ड पर बने PS2 पोर्ट या USB पोर्ट से जोड़ा जाता है।

माउस के प्रकार

दो प्रकार के होते हैं

  • केबल माउस (Cable Mouse)
  • वायरलेस माउस (Wireless Mouse)

माउस में दो या तीन बटन होते हैं। जिन्हें बाया (Left), दाया (Right) और मध्य (Center) बटन या स्क्रोल (Scroll) बटन कहते हैं। माउस बटन वास्तव में माइक्रो स्विच (Microswitch) है। जिन्हें दबाकर कंप्यूटर को वांछित संदेश प्रेषित किए जाते हैं। इसके नीचे एक रबर बॉल होता है। किसी समतल सतह या माउस पैड पर माउस को मूव करने पर बॉल घूमता है। तथा उसकी गति और दिशा मॉनिटर पर माउस प्वाइंटर की गति और दिशा में परिवर्तित हो जाती है। माउस प्वाइंटर का आकार माउस वाला किए जा रहे कार्य के प्रकार पर निर्भर करता है। ऑपरेटिंग सिस्टम में माउस प्रॉपर्टीज में परिवर्तन कर बाएं और दाएं बटन के कार्यों में अदला-बदली की जा सकती है। ऐसा बाएं हाथ से काम करने वालों की सुविधा के लिए किया जाता है।

माउस के तीन बटन

दोस्तों जैसा कि आपने देखा उसको तीन बटन होते हैं। आइए उन तीनों के बारे में देखते हैं-

  • बयां बटन (Left Button)- यह बटन माउस के बाईं और स्थित होती है। इसका उपयोग Click, Double Click, Point या Drag करने के लिए किया जाता है।
  • दायां बटन (Right Button)- यह बटन माउस के दाएं और स्थित होती है। यह सॉफ्टवेयर के अनुसार कुछ विशेष कार्य व्यवस्था डायलॉग बॉक्स या मेनू बॉक्स खोलने, प्रॉपर्टीज देखने आदि के लिए प्रयोग किया जाता है।
  • मध्य बटन (Center Button)- इसे स्क्रॉल बटन भी कहा जाता है। इसका प्रयोग डॉक्यूमेंट या वेबपेज को ऊपर नीचे करने के लिए किया जाता है। आधुनिक ना उसमें बीच वाले बटन को एक व्हील में बदल दिया गया है। जिसे घुमाकर डॉक्यूमेंट या वेब पेज को ऊपर नीचे किया जा सकता है।

माउस के कार्य (Functions of Mouse)-

  1. पॉइंट और सिलेक्ट करना (Point and Select)– माउस प्वाइंटर को किसी आइकन के ऊपर ले जाने से यदि माउस प्वाइंटर हाथ के आकार का हो जाए तो इसे पॉइंट कहा जाता है। सांची पॉइंट किए गए ऑब्जेक्ट का संक्षिप्त विवरण भी स्क्रीन पर प्रदर्शित हो सकता है।

    माउस का उपयोग किसी आइकन, टेक्स्ट या इमेज को सिलेक्ट करने के लिए ही किया जाता है। सेलेक्ट किए गए Icon, Text, Image के रंग में तात्कालिक परिवर्तन दिखाई पड़ता है। सेलेक्ट किए गए Object को हम Copy, Cut या Delete कर सकते हैं।

  2. क्लिक(Click)- इसे सिंगल क्लिक (Single Click) या लेफ्ट क्लिक (Left Click) भी कहा जाता है। Mouse के बटन को एक बार दबा कर छोड़ना क्लिक कहलाता है। इसका उपयोग किसी Object या Icon को पॉइंट कर उसे सिलेक्ट करने के लिए किया जाता है।
  3. डबल क्लिक(Double Click)- माउस के बाएं बटन (Left Button) को जल्दी-जल्दी दो बार दबा कर छोड़ना डबल क्लिक कहलाता है। डबल क्लिक का उपयोग किसी फाइल या फोल्डर को खोलने या किसी प्रोग्राम को Active या Start करने के लिए किया जाता है।
  4. राइट क्लिक (Right Click)- माउस के दाएं बटन को एक बार दबा कर छोड़ना राइट क्लिक कहलाता है। राइट क्लिक कर्सर स्थिति के अनुसार उससे संबंधित dropdown-menu प्रदर्शित करता है। मेनू संबंधित विकल्पों का समूह है जिसमें से विकल्पों का चयन left-click द्वारा किया जा सकता है। किसी ऑब्जेक्ट की प्रॉपर्टीज जानने के लिए Right Click का उपयोग किया जाता है।
  5. ड्रैग एंड ड्रॉप (Drag and Drop)-  किसी Object के Icon पर माउस प्वाइंटर ले जाकर लेफ्ट बटन दबाना तथा लेफ्ट बटन दबाएं रखकर एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाना Drag कहलाता है। इससे ऑब्जेक्ट का आइकन भी साथ साथ चलता है। अब माउस प्वाइंटर को स्थान पर ले जाकर छोड़ देना ड्रॉप कहलाता है। माउस के इस Drag और ड्रॉप विकल्प का उपयोग किसी आइकन, चित्र, अक्षर, फाइल या फोल्डर को कंप्यूटर स्क्रीन पर एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने या कंप्यूटर मेमोरी में एक फोल्डर से दूसरे फोल्डर तक पहुंचाने के लिए किया जाता है।
  6. Mouse का उपयोग पेंट प्रोग्राम में कलम या Brush की तरह भी किया जाता है।

रोचक तथ्य

डबल क्लिक मींस बटन को एक निश्चित समय अंतराल के भीतर दो बार दबाना पड़ता है। यदि दो क्लिक के बीच का अंतर कंप्यूटर पर चैट किए गए समय अंतराल से ज्यादा है, तो कंप्यूटर के दोस्त सिंगल क्लिक की

तरह पड़ता है। कंप्यूटर सॉफ्टवेयर द्वारा दो सिंगल क्लिक के बीच के समय अंतराल को कम या ज्यादा किया जा सकता है।

ऑप्टिकल माउस (Optical Mouse)

ऑप्टिकल माउस (Optical Mouse) प्रकाश तरंगों के परिवर्तन के आधार पर कार्य करता है। इसमें सतह पर घूमने वाला रब्बर बॉल नहीं होता है। LED या लेजर डायोड द्वारा उत्पन्न प्रकाश तरंगे सतह से परावर्तित होती है। जिन्हें फोटो डायोड सेंसर द्वारा पढ़ा जाता है। Optical Mouse के लिए किसी विशेष सतह या Mouse Pad की जरूरत नहीं होती है। इसे किसी भी अपारदर्शी सतह पर रखकर प्रयोग किया जा सकता है। मैकेनिकल बॉल ना होने के कारण इसमें टूट-फूट की संभावना कम होती है।

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की पोस्ट में मैं आप लोगों को माउस के प्रकार उपयोग आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देने की पूरी कोशिश की है। आशा करता हूं आज की यह पोस्ट आप लोगों को पसंद आया होगा। अगर कोई त्रुटि रह गई हो तो कृपया मुझे कमेंट कर बताएं ताकि मैं उससे सुधार कर सकूं। और बेहतर से बेहतर जानकारी आप लोगों के लिए लेकर आ सकूं। अगर बात अच्छी लगी तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं। इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

जय हिंद!

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

How to Use Keyboard of Computer?

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

 

Objective Computer Questions and Answer In Hindi

Objective Computer Questions and Answer In Hindi

दोस्तों आज की पोस्ट में हेलो आइए पढ़ते हैं कंप्यूटर में Objective Questions और उसके Answer के बारे में जो आप के विभिन्न कंप्यूटर एग्जाम्स में काम आएंगे। तो देखते हैं Objective Computer Questions and Answer In Hindi के बारे में।

https://computernoteshindi.com/?p=2034&preview=true

COMPUTER OBJECTIVE

Objective Computer Questions and Answer

 

वह इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जो डाटा को स्वीकार करती है डाटा प्रोसेस करती है तथा आउटपुट उत्पन्न करती है और परिणामों को भविष्य प्रयोग के लिए स्टोर करती है क्या कहलाती है?

कंप्यूटर।

आपके कंप्यूटर का प्रत्येक घटक कौन से दो चीजों से मिलकर बना है?

सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर।

कंप्यूटर के मुख्य कार्य क्या है?

डाटा को स्वीकार करना;

डाटा को सूचना में प्रोसेस करना;

डाटा और सूचना को स्टोर करना;

सूचनाओं का विश्लेषण करना।

कंप्यूटर प्रोसेस का बुनियादी लक्ष्य क्या है?

डाटा को सूचना में बदलना।

कंप्यूटर डाटा को एकत्र करते हैं जिसका अर्थ है कि उपयोगकर्ताओं को

डाटा इनपुट करने देते हैं।

किसी अर्थ पूर्ण ढंग से व्यवस्थित या प्रस्तुत किए गए डाटा को क्या कहते हैं?

सूचना(Information).

Computer Data को मैन्यू प्लेट करता है जिसे कहते हैं।

प्रोसेसिंग।

Data के तथ्यों का अर्थ ही निरूपण है जबकि सूचना-

अर्थ पूर्ण रूप से व्यवस्थित डाटा है।

वह कौन सी डिवाइस है जो कंप्यूटर सिस्टम बनाती है और जिन्हें आप देख और छू सकते हैं?

हार्डवेयर (Hardware)।

कंप्यूटर के उपयोग करने का क्या लाभ है?

कंप्यूटर तेज गति से गन्ना करता है और इनमें विशाल मात्रा में डाटास्टोर किया जा सकता है।

बैंकिंग लेनदेन ECS का क्या अर्थ है?

इलेक्ट्रॉनिक क्लीयरिंग सर्विस।

कंप्यूटर के पास कौन से काम करने की क्षमता नहीं है?

सोचने की क्षमता।

कंप्यूटर के क्षेत्र में IT का पूरा नाम क्या है?

इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (Information Technology)।

भारत का पहला कंप्यूटर कहां स्थापित किया गया था?

भारतीय सांख्यिकी संस्थान कोलकाता।

देश का पहला कंप्यूटर साक्षरता जिला कौन सा है?

मल्लपुरम (केरल).

विश्व कंप्यूटर साक्षरता दिवस कब मनाया जाता है?

प्रत्येक वर्ष 2 दिसंबर को।

कंप्यूटर साक्षरता का क्या अर्थ है?

कंप्यूटर के कार्य क्षमता की जानकारी रखना।

वैसे कंप्यूटर उपयोगकर्ता जो कंप्यूटर के विशेषज्ञ नहीं है क्या कहलाते हैं?

एंड यूज़र (End User)।

कंप्यूटर इंटरनेट का प्रयोग करने वाले तथा इससे वंचित लोगों के बीच का अंतर क्या कहलाता है?

डिजिटल डिवाइड (Digital Divide)।

क्या आप जानते हैं?

इंटीग्रेटेड सर्किट आईसी का विकास 1958 में  जैक किल्बी तथा  रॉबर्ट नोई  द्वारा किया गया। सिलिकॉन की सतह पर बने इस प्रौद्योगिकी को माइक्रोइलेक्ट्रॉनिक्स का नाम दिया गया। यह चीफ अर्धचालक पदार्थ सिलिकॉन या जर्मे नियम के बने होते हैं।

 

कंप्यूटर विज्ञान का जनक किसे कहा जाता है?

चार्ल्स बैबेज को।

आईबीएम का पूरा नाम क्या है?

इंटरनेशनल बिजनेस मशीन।

संसार का सबसे पहला गणना यंत्र का क्या नाम है?

अबेकस (Abacus)।

विश्व का पहला कंप्यूटर किसने बनाया था?

चार्ल्स बैबेज ने।

विश्व का प्रथम इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल कंप्यूटर कौन सा है?

ऐनियक (ENIAC)।

वाणिज्यक उपयोग के लिए उपलब्ध कराया गया पहला कंप्यूटर कौन सा था?

यूनिवैक (UNIVAC)।

पहली पीढ़ी के कंप्यूटर में प्रयुक्त सॉफ्टवेयर कौन सी भाषा में थी?

मशीनी लैंग्वेज में।

आईसी चिप का निर्माण किससे किया जाता है?

सेमीकंडक्टर से Semiconductor)।

मस्तिष्क की कार्यप्रणाली को नकल करने वाली सबसे छोटा और सबसे तीव्र गति वाला कंप्यूटर कौन होगा?

क्वांटम कंप्यूटर (Quantom Computer)।

किस कंपनी ने सर्वप्रथम माइक्रोप्रोसेसर का विकास किया था?

इंटेल कंपनी (Intel Corporation)।

किस पीढ़ी के कंप्यूटर में माइक्रोप्रोसेसर चिपका प्रयोग पहले किया गया?

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर में।

कार तथा बाइक में लगा गति मापक यंत्र किस कंप्यूटर का उदाहरण है?

एनालॉग कंप्यूटर का (Analog Computer)।

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज के पोस्ट में हमने सीखा विभिन्न तरह के कप्यूटर क्वेश्चन और उनके आंसर के बारे में। इसी तरह के आगे और भी पोस्ट पढ़ने के लिए इस पोस्ट पर लगातार आते रहे। और अपने जानकारी कंप्यूटर के क्षेत्र में प्रतिदिन बढ़ाते रहें। ताकि आप किसी भी परीक्षा के क्वेश्चन का आंसर सही सही दे सके।

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

How to Use Keyboard of Computer?

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

How to Use Keyboard of Computer

How to Use Keyboard of Computer कीबोर्ड का उपयोग कैसे करें।

How to Use Keyboard of Computer  – Keyboard एक प्रचलित Electromachenical  इनपुट डिवाइस है। जिसका प्रयोग कंप्यूटर में Alphanumeric डाटा डालने के लिए किया जाता है। Keyboard पर टाइप किया जाने वाला डाटा कंप्यूटर मॉनिटर के स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। Keyboard का उपयोग माउस की तरह Pointing Device के रूप में भी किया जा सकता है। 

आजकल 104 बटनों वाले ‘QWERTY’ कीबोर्ड का प्रयोग प्रचलन में है। इसमें बाणों की व्यवस्था प्रचलित Typewriter बटनों की तरह होती है। जिसमे अंग्रेजी के सभी अक्षरों को तीन पंक्तियों में व्यवस्थित किया गया होता है। इसे ‘QWERTY’ कीबोर्ड कहा जाता है। क्योंकि अक्षरों के सबसे ऊपर वाली पंक्ति के बायीं ओर के 6 बटन Q, W, E, R, T तथा Y के क्रम में होते हैं। कंप्यूटर कीबोर्ड के कुछ बटन ऐसे भी होते है। जिन्हे प्रयुक्त Software के अनुसार कंप्यूटर को निर्धारित निर्देश देने के लिए प्रयोग किया जाता है। 

KEYBOARD

Keyboard को P/S -2 (Plug Station- 2) पोर्ट द्वारा सीपीयू से जोड़ा जाता है। आजकल, Keyboard को यूएसबी (USB) पोर्ट द्वारा भी जोड़ सकते हैं। वायरलेस कीबोर्ड सिस्टम से भौतिक संपर्क बनाये बिना रेडियो तरंगो पर कार्य करता है। तथा इसे ब्लूटूथ (Bluetooth) द्वारा कंप्यूटर से जोड़ा जाता है। 

कार्य और स्थिति के अनुसार कीबोर्ड को निम्नलिखित भागों में बाँट सकते हैं। 

कीबोर्ड के मुख्य भाग और उसके कार्य 

  1. मुख्य कीबोर्ड (Main Keyboard)- या टाइपराइटर बटन (Typewriter Key) – यह Keyboard के बाएं – मध्य भाग में अंग्रेजी Typewriter के समान व्यवस्थित होता है। इसमें अंग्रेजी के सभी अक्षर (A से Z), अंक (0 से 9) तथा कुछ विशेष चिन्ह रहते हैं। इसे अक्षर बटन (Alphabet Key) यथा संख्यात्मक बटन (Numeric Key) भी कहा जाता है। इनका प्रयोग कंप्यूटर में Alphanumeric डाटा डालने के लिए तथा Word Processing प्रोग्राम में किया जाता है। मुख्य Keyboard में कुछ विराम चिन्ह (Punctuation Keys) भी होते हैं। कीबोर्ड पर स्थित कोई अक्षर, संख्या या प्रतिक जिसे हम कंप्यूटर में टाइप कर सकते हैं, कैरेक्टर (Character) कहलाता है। 
  2. फंक्शन बटन (Function Button ) यह कीबोर्ड के सबसे ऊपर F1 से F12 तक अंकित बटन होते हैं। इनका कार्य प्रयोग किए जाने वाले सॉफ्टवेयर पर निर्भर करता है। वास्तव में यह एक पूरे आदेश के बराबर होते हैं जिनकी हमें बार-बार आवश्यकता पड़ती है। इससे समय की बचत होती है। https://computernoteshindi.com/?p=1984&preview=true
  3. संख्यात्मक कीपैड (Numerical Keypad) कीबोर्ड की दाएं ओर केलकुलेटर के समान स्थित बटनो को संख्यात्मक कीपैड कहा जाता है। इनका प्रयोग संख्या को तीव्र गति से भरने के लिए किया जाता है। जिसमें 0 से 9 तक, दशमलव, जोड़, घटाओ, गुना तथा भाग के साथ न्यूमेरिकल लोक तथा एंटर बटन होते हैं। ध्यान रहे कि 0 से 9 तक की संख्याओं के बटन मुख्य कीबोर्ड पर भी निर्भर होते हैं। तथा दोनों का समान परिणाम होता है।
    https://computernoteshindi.com/?p=1984&preview=true

    NUMERICAL KEY

 

Numeric Keypad के कुछ बटन दो कार्य करते हैं। इन दोनों का प्रयोग कीबोर्ड द्वारा कर्सर को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए माउस के विकल्प के रूप में भी किया जाता है। अतः इन्हें कंट्रोल बटन भी कहा जाता है। इसका उपयोग कंप्यूटर गेम को नियंत्रित करने में भी किया जाता है।

 

यदि Num Lock बटन ऑन हो तो Numerical Keypad का प्रयोग संख्याओं को टाइप करने के लिए किया जाता है। यदि Num Lock बटन ऑफ हो तो इन बटनों का प्रयोग एरो तथा एंड, होम पेज, पेज डाउन, इन्सर्ट तथा डिलीट फंक्शन के लिए किया जाता है। Num Lock होने पर  इनसे संख्या टाइप नहीं की जा सकती है। किसी किसी कीबोर्ड में Num Lock ऑन होने पर एक हरी बत्ती भी जलती है।

कर्सर मूवमेंट बटन Cursar Movement Button)

कीबोर्ड में निचले भाग पर तीर (Arro) के निशान वाले चार बटन होते हैं। इस तीर के निशान वाले बटन का उपयोग पेज में कर्सर को लाइन के ऊपर, नीचे या दाएं, बांये करने के लिए किया जाता है। 

  • होम बटन (Home Key) – इस बटन की सहायता से कर्सर को लाइन के आरम्भ में ले जाने के लिए किया जाता है। 
  • एन्ड बटन (End Key) – इस बटन की सहायता से कर्सर को लाइन के अंत में करने के लिए किया जाता है। 
  • पेज अप बटन (Page Up) – इस पेज अप बटन के द्वारा कर्सर को डॉक्यूमेंट के पिछले पेज में ले जाने के लिए किया जाता है।
  • पेज डाउन बटन (Page Down Key) – इस पेज डाउन बटन के द्वारा कर्सर को डॉक्यूमेंट पेज के आगे वाले  पेज में ले जाने के लिए किया जाता है। 

मोडीफायर बटन (Modifire Key) – कंप्यूटर में बना कुछ बटन या बटनों का समूह जिसके उपयुयग से किसी अन्य बटनों से होने वाली कार्य में परिवर्तन हो जाता है, मोडीफायर कहलाता है। मोडीफायर बटन स्वयं कोई कार्य नहीं करता परंतु दूसरे बटनो के कार्य में बदलाव करता है। मोडीफायर बटन का प्रयोग किसी अन्य बटन के साथ मिलकर किसी विशेष कार्य को पूरा करने के लिए किया जाता है। मोडीफायर बटन निम्नलिखित है। Shift, Alter, Control तथा Windows बटन। इनका प्रयोग कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर के अनुसार बदलता रहता है। सुविधा के लिए कीबोर्ड पर Shift, Alter, Control तथा Windows बटन के दो दो बटन बनाए जाते हैं जो मुख्य कीबोर्ड के दोनों किनारों पर स्थित होते हैं।

क्या आप जानते हैं?

कंप्यूटर यूनिट के साथ मिलकर कीबोर्ड तथा मॉनिटर वीडियो डिस्प्ले टर्मिनल या मात्र टर्मिनल कहलाते हैं। टर्मिनल का अर्थ है वह स्थान जहां संचार पथ का अंत हो जाता है।

मुख्य उद्देश्य बटन

कंप्यूटर कंप्यूटर कीबोर्ड कुछ कुछ खास उद्देश्य के लिए बनाए जाते हैं, जिन्हें स्पेशल पर भी कहा जाता है कुछ स्पेशल परपज बटन निम्नलिखित है-

    • न्यूमैरिक लॉक बटन (Num Lock)- इस बटन का प्रयोग नंबर की को लॉक करने के लिए किया जाता है। लॉक ऑन रहता है तो कीबोर्ड के दाएं और के नंबर बटन काम नहीं करते हैं।
    • कैप्स लॉक बटन (Caps Lock)- इसका उपयोग जब हमें अंग्रेजी के सभी अक्षरों को कैपिटल लेटर में लिखना होता है तो कैप्स लॉक ऑन कर देते हैं। कैप्स लॉक ऑन रहने पर जितने भी बटन टाइप करते हैं वह सारे कैपिटल लेटर में होते हैं। जब हमें सभी लेटर को छोटे अक्षरों में लिखना होता है तो इस Caps Lock ऑन को पुनः  दबाकर ऑफ कर देते हैं। कैप्स लॉक और Num Lock बटन को टॉगल बटन भी कहते हैं। क्योंकि प्रतीक बार प्रेस करने पर इनका फंक्शन उल्टा हो जाता है।
    • शिफ्ट बटन (Shift Key)- इसे संयोजन बटन भी कहा जाता है। क्योंकि इसका उपयोग किसी दूसरे बटन के साथ में किया जाता है। जिस बटन पर दो चिह्न होते हैं उसमें ऊपर वाले चीन को लिखने के लिए Shift Key को दबाकर लिखा जाता है।
    • टैब बटन (Tab Key)- यह कर सको एक निश्चित दूरी, जो रूलर द्वारा तय की जा सकती है तक जंप करते हुए ले जाने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। किसी चार्ट, टेबल या एक्सेल प्रोग्राम में एक खाने से दूसरे खाने तक जाने के लिए भी टैब का प्रयोग किया जाता है।
    • रिटर्न बटन या इंटर बटन (Enter Key)- कंप्यूटर को दिए गए निर्देशों को कार्यान्वित करने के लिए तथा स्क्रीन पर टाइप डाटा को कंप्यूटर में भेजने के लिए इंटर बटन का प्रयोग किया जाता है। वर्ड प्रोसेसिंग प्रोग्राम में नया पैराग्राफ या लाइन आरंभ करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है।
    • एस्केप बटन (Esc Key)- बटन का उपयोग पिछले कार्य को समाप्त करने या चल रहे प्रोग्राम से बाहर जाने के लिए होता है।
    • बैक स्पेस बटन (Back Space Key)- इस बटन के उपयोग से कर सके ठीक भाई और स्थित अक्षर या स्पेस को एक-एक कर मिटाया जाता है। इसका प्रयोग टाइपिंग के साथ गलतियां ठीक करने में किया जाता है।
    • डिलीट बटन (Delete Key)- इस बटन का उपयोग कर सके ठीक दाएं और स्थित अक्षर स्पेस को एक-एक कर मिटाया जाता है। इससे कर सर के बाद के सभी डाटा एक स्पेस बाई और खिसक जाते हैं। इससे चयनित शब्द, लाइन, पैराग्राफ, पेज या फाइल को एक साथ मिटाया जा सकता है।
    • प्रिंट स्क्रीन बटन (Print Screen Key)- इस स्क्रीन पर जो कुछ भी दिख रहा है उसे प्रिंट किया जा सकता है। प्रिंट स्क्रीन बटन कंप्यूटर स्क्रीन का फोटो क्लिपबोर्ड में संग्रहित कर लेता है जिसे बाद में किसी अन्य प्रोग्राम में पेस्ट या एडिट किया जा सकता है।

  • स्क्रोल लॉक बटन (Scroll Lock Key)- इस बटन को दबाने से कंप्यूटर स्क्रीन पर आ रही सूचना एक स्थान पर रुक जाती है। सूचना को फिर से शुरू करने के लिए यही बटन दुबारा दबाना पड़ता है।
  • पॉज बटन (pause Key)- इसका कार्य स्क्रोल लॉक बटन जैसा ही है। किसी भी दूसरे बटन को दबाने पर सूचना पुनः आने शुरू हो जाती है।
  • इन शर्ट बटन (Inser Key)- इसका उपयोग करने के लिए किया जाता है नया टाइप हो जाता है। इन शर्ट बटन दबाकर कोई टाइपिंग बटन दबाने पर कर सके ठीक बाद स्थित आज्ञा अक्षर मिट जाता है। कथा उसके स्थान पर नया टेस्ट टाइप हो जाता है।
  • कंट्रोल + ऑल्ट + डिलीट (Ctrl + Alt + Del)- इन तीनों को एक साथ दबाने से कंप्यूटर में चल रहे प्रोग्राम बंद हो जाते हैं। तथा कंप्यूटर फिर से स्वयं शुरू होने वाली अवस्था में पहुंच जाती है। ऐसा अक्सर तब किया जाता है जब कंप्यूटर हैंग हो जाता है या काम करना बंद कर देता है। अर्थात किसी अन्य बटन के आदेश का पालन नहीं करता। इन्वर्टर नो का उपयोग कर रीस्टार्ट करने के लिए किया जाता है इसे रीसेट भी कहते हैं।
  • स्पेस बार (Space Bar)– यह कीबोर्ड में सबसे नीचे की पंक्ति में स्थित सबसे लंबा बटन होता है। मुख्य रूप से इस बटन का उपयोग टाइप करते समय दो अक्षरों के बीच में खाली स्थान या स्पेस देने के लिए किया जाता है।

आपने क्या सीखा? 

दोस्तों आज की पोस्ट के द्वारा हम कंप्यूटर कीबोर्ड पर काम कैसे करते हैं उसके बारे में विस्तार से। जिसमे कीबोर्ड के प्रकार और उसके बटनों के बारे जाना। आशा करता हूँ। आपको भी मेरी आज की यह पोस्ट पसंद आई होगी। मेरी पुरे पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद्। 

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

Principles of Computing [Computer ki karya padhati] 2022

Principles of Computing [ कंप्यूटर की कार्य पद्धति] 2022

Principles of Computing जैसा की हम जानते हैं एक एक मनुष्य कहे या एक कंप्यूटर। ये दो चीजों से मिलकर बना है। जिसे Software और Hardware कहा जाता है। इन्ही दोनों के मेल से पूरा कंप्यूटर सिस्टम को चलाया जाता है। ये दोनों ही एक दूसरे के बिना अधूरा है। जिस कंप्यूटर में कोई Software न हो। वह कंप्यूटर नहीं सिर्फ लोहे और तारों का जल है। तो दोस्तों अब तक तो आप जान ही गए होंगे की हम किस ओर इशारा कर रहे हैं। जी हाँ कंप्यूटर के सिद्धांत (Principles of Computing) या पद्धति की ओर। 

https://computernoteshindi.com/?p=1940&preview=true

COMPUTER SYSTEM

तो दोस्तों आज को पोस्ट हम सिखने वाे हैं कंप्यूटर कुछ सिद्धांतों के बारे में। आइए जानते हैं कंप्यूटर के इन सिद्धांतों को। जैसा की हम पहले ही देख चुके हैं कंप्यूटर दो चीजों से मिलकर बना है। तो अब देखते हैं इन दोनों के बारे में ये क्या होते हैं। 

हार्डवेयर (Hardware) :

हार्डवेयर वैसे भौतिक वस्तुएं जिन्हे हम अपनी आँखों से देख सकते हैं। छू सकते हैं, और अनुभव कर सकते हैं। हार्डवेयर कहलाते हैं। जैसे -CPU, Monitor, Mouse, Keyboard, Printer, Memory Unit, Hard Disk, Processor आदि।

https://computernoteshindi.com/?p=1940&preview=true

COMPUTER HARDWARE

सॉफ्टवेयर (Software) :

किसी भी मशीन या Hardware में जान डालने या उसे सुचारु रूप से चलने के लिए Software की आवश्यकता होती है। सॉफ्टवेयर प्रोग्रामों, नियमों या अनुदेशों का वह समूह है जो कंप्यूटर सिस्टम के कार्यों को नियंत्रित करता है। तथा कंप्यूटर के विभिन्न हार्डवेयर के बीच समन्वय स्थापित करता है। कोई भी सॉफ्टवेयर यह निर्धारित करता है की कब कौन सा कार्य करेगा। किसी भी सॉफ्टवेयर को हम देख या छू नहीं सकते हैं बस अनुभव कर सकते हैं। और ऐसा कह सकते हैं की अगर हार्डवेयर एक इंजन है तो सॉफ्टवेयर उसका ईंधन। 

कंप्यूटर की कार्यप्रणाली (Working Principle of Computer)

कंप्यूटर की कार्यप्रणाली को मुख्य रूप से पांच भागों में विभाजित किया गया है। जो सभी प्रकार के कंप्यूटर के लिए आवश्यक है।-

  • Input इनपुट
  • Storage भण्डारण 
  • Processing प्रोसेसिंग 
  • Output आउटपुट 
  • Control कण्ट्रोल

आइये देखते हैं इन सब के बारे में एक एक करके विस्तार से 

  1. इनपुट (Input) : कंप्यूटर में डाटा तथा अनुदेशों को डालने का कार्य इनपुट कहलाता है। यह कार्य इनपुट उपकरण के द्वारा सम्पादित किया जाता है। 
  2. भण्डारण (Storage) : डाटा तथा अनुदेशों को मेमोरी यूनिट में स्टोर किया जाता है। ताकि जरुरत के अनुसार उनका पुनः उपयोग किया जा सके। कंप्यूटर द्वारा प्रोसेसिंग के पश्चात प्राप्त अंतिम परिणामों को भी मेमोरी यूनिट में स्टोर किया जाता है। 
  3. प्रोसेसिंग (Processing) : इनपुट द्वारा प्राप्त डाटा पर अनुदेशों के अनुसार अंकगणितीय व तार्किक गणनाएं कर उसे सुचना में बदला जाता है। तथा वांछित कार्य सम्पन्न किये जाते हैं। 
  4. आउटपुट (Output) : कंप्यूटर द्वारा प्रोसेसिंग के पश्चात सुचना सुचना या परिणामों को उपयोगकर्ता के समक्ष प्रदर्शित करने का कार्य आउटपुट कहलाता है। इस तरह के कार्य को आउटपुट उपकरण की सहायता से संपन्न किया जाता है। 
  5. कण्ट्रोल (Control) : विभिन्न तरह के कार्यों में प्रयुक्त उपकरणों, अनुदेशों और सूचनाओं को नियंत्रित करना और उनके बीच तालमेल स्थापित करना कण्ट्रोल कहलाता है। 

मशीन साइकिल (Machine Cycle)

कंप्यूटर द्वारा किसी छोटे से छोटे निर्देश को संपन्न करने के लिए एक प्रोसेस से गुजरना पड़ता है। जिसे मशीन साइकिल कहते हैं। मशीन साइकिल को एक निश्चित क्रम से निष्पादित होने वाले मुख्या चार चरणों में विभाजित किया जाता है। 

  1. फेच (Fetch) : मेमोरी से आवश्यक निर्देश प्राप्त करना। 
  2. डिकोड (Decode) : प्राप्त निर्देशों को कंप्यूटर द्वारा समझे जा सकने वाले कमांड्स में परिवर्तन करना। 
  3. एक्जीक्यूट (Execute) : इन कमांड्स को प्रोसेसर द्वारा एक्जीक्यूट करना।
  4. स्टोर (Store) : एग्जीक्यूशन के बाद प्राप्त परिणाम को मेमोरी में स्टोर करना।

इस प्रकार मशीन साइकिल किसी इंस्ट्रक्शन का एक्जीक्यूशन फेज है। कंप्यूटर में यह प्रक्रिया लगातार चलती रहती है। आधुनिक प्रोसेसर एक सेकंड में लाखों मशीन साइकिल प्रक्रिया पूरा करते हैं। 

आपने क्या सीखा ?

दोस्तों आज को पोस्ट के माधयम से आपने सीखा कंप्यूटर की कार्यपद्धति के बारे में। इसमें हार्डवेयर क्या है, सॉफ्टवेयर क्या है? और कंप्यूटर की कार्यप्रणाली तथा मशीने साइकिल के बारे में। आशा करता हूँ आज को यह छोटी सी जानकारी पसंद आया होगा। और अगर पसंद आया हो तो कृपया अपने दोस्तों को भी शेयर करें। ताकि यह जानकारी उन्हें भी मिल सके। धन्यवाद।

 

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

What is Personal Computer (P C) [2022]

What is Personal Computer (P C) [2022]

Personal Computer- दोस्तों अब तक अपने कई अलग अलग Computer के बारे में सुने और जान चुके हैं। जिसमे Digital Computer, Analog Computer, Hybrid Computer आदि। पर दोस्तों Computer सिर्फ इतना ही नहीं है। इसके अलावे भी और कई तरह के कंप्यूटर होते हैं। जैसे Personal Computer, Laptop Computer, Nano Computer, Notebook Computer, Netbook Computer, Tablet Computer, Palmtop Computer आदि और भी अन्य हैं।

https://computernoteshindi.com/?p=1887&preview=true

Personal Computer

तो दोस्तों आज की पोस्ट में हमलोग सीखेंगे Personal Computer क्या होता है? उसके बारे में। तो आइये बिना देर किये चलते हैं। अपने पोस्ट की ओर और देखते हैं हमारी आज की पोस्ट पर्सनल कंप्यूटर के बारे में।

What is Personal Computer? पर्सनल कंप्यूटर क्या है?

Personal Computer (व्यक्तिगत कंप्यूटर)- वैसे कंप्यूटर होता है। जो सामान्य उद्देश्य, कम लागत, और किसी भी व्यक्ति विशेष के कार्यों को पूरा करने के लिए बनाया गया हो। Personal Computer कहलाता है। यह एक सिंगल CPU (Central Processing Unit) जिसमे एक IC (Integrated Circuit) लगा होता है। इसके माध्यम से किसी भी अंकगणित, तार्किक प्रश्न और नियंत्रण शामिल होती है। इसमें दो प्रकार की मेमोरी लगी होती है। मुख्या मेमोरी (RAM and  ROM) तथा द्वितीयक मेमोरी चुंबकिये Hard Disk, Compact Disk और विभिन्न प्रकार के Input और Output डिवाइस होते हैं। जिसमे एक Mouse, एक Keyboard, एक डिस्प्ले स्क्रीन (Monitor), और Printer शामिल हैं। 

best कंप्यूटर  सेट सस्ते डैम पर।

पर्सनल कंप्यूटर का विकास कब किया गया?

इस Personal Computer का विकास 1981 में किया गया। जिसमे Microprocessor – 8088 का प्रयोग किया गया था। इसमें Hard Disk Drive लगाकर उसकी क्षमता बढ़ाई गयी। तथा इसे पीसी  – एक्स टी (PC- XT- Personal Computer- Advanced Extended Technology) नाम दिया गया। 1984 में नए प्रोसेसर – 80286 से बने PC- AT  ही कहा जाता है। 

Types of Personal Computer पर्सनल कंप्यूटर के प्रकार

PC (Personal Computer) पर्सनल कंप्यूटर कई प्रकार के होते हैं।  जो निम्नलिखित हैं –

  • Desktop Computer डेस्कटॉप कंप्यूटर 
  • Notebook 
  • Tablet
  • Smartphone

Desktop Computer डेस्कटॉप कंप्यूटर 

Desktop Computer वैसे कंप्यूटर होता है जिसे कहीं भी आसानी से किसी डेस्क पर रख कर उपयोग किया जाता है। इसमें एक बड़ा सा बॉक्स होता है जिसे। CPU (सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट) कहा जाता है. इस बक्से के अंदर एक मदर बोर्ड लगा होता है। जहाँ कभी तरह के उपकरणों को जोड़ा जाता है। जैसे – Keyboard, Mouse, Printer, Scanner, Web Camera, Monitor, Hard Disk, RAM आदि। 

https://computernoteshindi.com/?p=1887&preview=true

DESKTOP COMPUTER

Notebook Computer नोट बुक कंप्यूटर – 

Notebook Computer – जैसा कि इसके नाम से तात्पर्य है। यह एक पोर्टेबल कंप्यूटर है। इससे कहीं भी आसानी से ले जा सकते हैं और जरूरत के अनुसार से उपयोग कर सकते हैं। यह हमारे किताब की तरह होता है। इसमें एक माउस पैड तथा साथ में एक कीबोर्ड भी रहता है। आप

https://computernoteshindi.com/?p=1887&preview=true

NOOTE BOOK COMPUTR

चाहे तो अलग से एक्सटर्नल कीबोर्ड और माउस का उपयोग कर सकते हैं। इस Notebook Computer में Desktop  कंप्यूटर की तरह अपने सारे काम तो कर सकते हैं। इस नोटबुक को लैपटॉप भी कहते हैं। नोटबुक आपको अपने कंप्यूटर को लगभग कहीं भी ले जाने की अनुमति देते हैं। कहीं भी बैठकर इंटरनेट पर का प्रयोग कर सकते हैं इंटरनेट के साथ-साथ आप ऑफलाइन काम को भी पूरा कर सकते हैं।

Tablet Computer टेबलेट कंप्यूटर

Tablet एक Portable Computer है जिसमे एक टच स्क्रीन होती है। इसमें अलग से माउस या कीबोर्ड की आवश्यकता नहीं होती है। इसे अपने दोनों हाथों के द्वारा आसानी से उपयोग कर सकते हैं। इसमें लगभग कम्यूटर की बहुत सारी कामों को पूरा किया जा सकता है। इसमें मेमोरी क्षमता सिमित होती है। 

https://computernoteshindi.com/?p=1887&preview=true

TABLET

Smartphone स्मार्ट फ़ोन 

Smartphone– Smartphone एक Mobile Phone है जो Application को चला सकता है। और इसमें इंटरनेट की क्षमता भी होती है। एक टेबलेट और Laptop की तरह हम अपने Smartphone को भी चला सकते हैं।  आजकल के जितने भी Smartphone मार्केट में आ रही हैं। उन सभी में विभिन्न प्रकार की लोकेशन जागरूकता एप्लीकेशन, ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (GPS- Global Positioning System) और मैपिंग प्रोग्राम और स्थानीय, प्रोग्राम और स्थनीये व्यापर गाइड।

https://computernoteshindi.com/?p=1887&preview=true

SMARTPHONE

पर्सनल कंप्यूटर का उपयोग Uses of Personal Computer

पर्सनल कंप्यूटर का उपयोग विभिन्न प्रकार के कामों के लिए किया जाता है। जैसे Word Processing, इंटरनेट संचार, ध्वनि मिक्सिंग और डीटीपी के कार्यों के लिए किया जाता है। Personal Computer पुरे विश्व भर में प्रौद्योगिकी का एक सबसे महत्वपूर्ण भाग है। Personal Computer निम्नलिखित प्रमुख कार्य हैं। 

  • सिंगल ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग करना।
  • वर्ड प्रोसेसिंग जैसे माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, एडोब फोटोशॉप, पेजमेकर, ऑफिस डॉट आर्ग आदि का उपयोग कर कई पत्र लिखना। 
  • माइक्रोसॉफ्ट में स्प्रेडशीट का उपयोग कर डाटा शीट बनाना, ग्राफ बनाना, चार्ट तथा शीट तैयार करना। 
  • डेस्कटॉप पब्लिशिंग सॉफ्टवेयर जैसे – कोरल ड्रा इत्यादि का उपयोग करना। 
  • इंटरनेट की साडी सुविधाओं का प्रयोग करना। 
  • एम एस पावर पॉइंट प्रोग्राम का उपयोग कर आकर्षक प्रेजेंटेशन तैयार करना। 

इन कभी के अलावे आज पर्सनल कंप्यूटर का प्रयोग घरों और ऑफिस के अलावे गेम खेलने और शिक्षा में अधिक से अधिक प्रयोग किया जा रहा है। वर्तमान समय के पर्सनल कंप्यूटर की क्षमता पुराने पर्सनल कंप्यूटर से कहीं अधिकहोती है। जिससे इन्हे कई तरह से उपयोग में लाया सकता है। वर्तमान समय में मनुष्य पर्सनल कंप्यूटर का उपयोग घर में बैठे बैठे इंटरनेट से पैसा कमाने में भी प्रयोग कर रहे हैं। 

वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए इससे अच्छ और नहीं।

पर्सनल कंप्यूटर का कॉन्फ़िगरेशन क्या है What is Configuration of Personal Computer

Dear Friends जब भी आप कोई पर्सनल कंप्यूटर खरीदने के लिए किसी कंप्यूटर की दुकान पर जाते हैं। तो दुकानदार आप से प्रश्न करते हैं। क्या कॉन्फ़िगरेशन की कंप्यूटर चाहिए? अब ये कॉन्फ़िगरेशन क्या होती है ये तो आपको मालूम ही नहीं। तो मैं बताता हूँ। दोस्तों कंप्यूटर में हम अपने उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटर के अंदर हो उपकरण इनस्टॉल करवाते हैं, उसे ही कॉन्फ़िगरेशन कहते हैं। जैसे आज के नवीनतम कंप्यूटर की कॉन्फ़िगरेशन इस प्रकार की होगी। 

Processor:- Intel core i10, 10th Generation

Motherboard: Intel Mother Board

Hard Disk: 1 TB

SSD: 256 GB

RAM: 4/8 GB

Graphics Card: 1/2 GB

Monitor: 15/18.5″

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की पोस्ट में मैंने पर्सनल कंप्यूटर के बारे पूरी विस्तार के साथ जानकारी देने की कोशिश की है। जिसमे पर्सनल कंप्यूटर क्या है। इसके विकास, इसके प्रकार और इसके उपयोग के बारे में बताने की कोशिश की है। आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी। अगर यह पोस्ट आपके काम आये तो इसे अपने दोस्तों तक भी शेयर करे। ताकि उन्हें भी यह जानकारी प्राप्त हो सके। और मुझे कमेंट करे और कोई सुझाव या सवाल हो तो बिना हिचकिचाहट  बोले। 

मेरी पुरे पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद। 

 

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

Computer GK (MCQ) 15

Computer GK (MCQ) 15 [2022]

Computer GK (MCQ) 15 दोस्तों आज समय अब Competition का आ गया है। और ऐसे में बहुत सारा प्रश्न Computer और Social Media से सम्बंधित पूछा जाता है। तो ऐसे में हमें अपने आपको पूरी तरह से हर क्षेत्र में ज्ञान से परिपूर्ण होना चाहिए। जिस तरह से हवा और पानी हमारे जीवन के लिए बहुत जरुरी है। उसी तरह अब कंप्यूटर भी हमारे जीवन का एक अंग बन गया है। अब हर कदम पर कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ती है। 

https://computernoteshindi.com/?p=1869&preview=true

Computer GK 15 [2022]

इन सभी के अलावे जब भी हम कोई भी प्रतियोगी परीक्षा में बैठते हैं। तो वहां कोई न कोई कंप्यूटर या तकनिकी से सम्बंधित प्रश्न जरूर पूछे जाते हैं। इन्ही सब चीजों को देखते हुए मैं सोचा क्यों न कंप्यूटर एवं तकनिकी से सम्बंधित मसक बना दिया जाये। ताकि आपलोगों को अपने प्रतियोगी परीक्षा का सामना करना आसान हो जाये। और जो भी कंप्यूटर एवं तकनिकी से सम्बंधित प्रश्न आये उसे आप देखते ही देखते हल कर पाए। 

कम दामों पर जबरदस्त tripod खरीदें और अपने रिकॉर्डिंग को मस्त बनाये। 

तो दोस्तों आइये बिना देर किये चलते हैं हमारी आज को पोस्ट को ओर जिसक नाम है। Computer GK (MCQ) 15 जहाँ आप देखेंगे विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा जैसे – SSC, JSSC, IBPS, Banking, Railway, BPSC, UPSC, JPSC, MPPSC, RPSC, RRB आदि। और इस तरह की Computer MCQ देखने और सिखने के लिए इस website में आते रहें। 

1.

कंप्यूटर क्या है?

 

 
 
 
 

2.

कंप्यूटर निम्नलिखित में से कौन सा कार्य नहीं करता है

 
 
 
 

3.

वह इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जो डाटा को स्वीकार कर सकती है, डाटा प्रोसेस करती है तथा आउटपुट उत्पन्न करती है. और परिणामों को भविष्य में प्रयोग के लिए स्टोर करती है. क्या कहलाती है?

 
 
 
 

4.

निम्नलिखित में से कौन कंप्यूटर के गुण है

 
 
 
 

5.

डाटा प्रोसेसिंग का अर्थ क्या है?

 
 
 
 

6.

इनमें से कौन कंप्यूटर के गुण नहीं है?

 
 
 
 

7.

विश्व में सबसे अधिक कंप्यूटर वाला देश कौन सा है?

 
 
 
 

8.

कंप्यूटर साक्षरता का क्या अर्थ है?

 
 
 
 

9.

बैंकिंग के लेन-देन में ECS का क्या अर्थ है?

 
 
 
 

10.

वर्ल्ड वाइड वेब या विश्वव्यापी वेब के आविष्कारक किसे कहा जाता है.

 
 
 
 

11.

निम्नलिखित में से कौन-सी भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र द्वारा विकसित सुपर कंप्यूटर है.

 
 
 
 

12.

डिजिटल कंप्यूटर का विकास किस देश के द्वारा किया गया?

 
 
 
 

13.

वह कौन आदमी है जिसे कंप्यूटर का जनक कहा जाता है?

 
 
 
 

14.

कंप्यूटर में प्रयुक्त होने वाली आईसी चिप किस वस्तु का बना होता है?

 
 
 
 

15.

संसार का सबसे पहला गाना क्या अंतर ……………………….. है

 
 
 
 

16.

हाइब्रिड कंप्यूटर क्या होता है?

 
 
 
 

17.

आईबीएम क्या है?

 
 
 
 

18.

वर्तमान पीढ़ी के कंप्यूटर में किस तरह का चीफ का उपयोग किया जाता है?

 
 
 
 

19.

संसार का प्रथम प्रोग्राम आज किसे माना जाता है?

 
 
 
 

20.

कौन मस्तिष्क की कार्य प्रणाली की नकल करने वाला सबसे छोटा और सबसे तीव्र गति वाला कंप्यूटर होगा?

 
 
 
 

अब तक आपने MCQ हल करने के बाद अपने आपको यह अनुभव तो कर ही लिए होंगे की आप कंप्यूटर के क्षेत्र में कितने ज्ञान रखते हैं। दोस्तों यह पोस्ट खास तौर पर आप सभी प्रतियोगियों के लिए बनाया गया है। ताकि मैं भी आपके जीवन को सफल बनाने में कुछ मदद कर सकूँ। 

यह पोस्ट आपलोग को कैसा लगा इस बारे में दोस्तों अपने अनुभव जरूर शेयर करे। और आगे भी अगर इस तरह की पोस्ट चाहिए तो कृपया कमेंट करे। 

 

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

Types of Computer

Types of Computer कंप्यूटर के प्रकार

Dear Friends आज की दुनिया Computer की दुनिया बन गई है। आजकल जिधर देखो उधर Computer ही Computer नजर आता है। चाहे किसी भी Office में चले जाए। किसी कंपनी में चले जाए सभी जगह कंप्यूटर दिखाई देते हैं। जिसमें कई प्रकार के Computer देखने को मिलते हैं।

https://computernoteshindi.com/types-of-computer/

TYPES OF COMPUTER

दोस्तों आइए जानते हैं Types of Computer (कंप्यूटर के प्रकार) के बारे में। कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं? कंप्यूटर के कौन-कौन से प्रकार है? इन सभी के क्या कार्य हैं? 

कंप्यूटर के प्रकार Types of Computer

कंप्यूटर को मुख्य रूप से तीन भागों में बांटा गया है

  1. अनुप्रयोग के आधार पर (Based on Application)
  2. उद्देश्य के आधार पर (Based on Purpose)
  3. आकार के आधार पर (Based on Size)

अब देखते हैं इन सभी के बारे में अलग-अलग एक-एक करके

अनुप्रयोग के आधार पर कंप्यूटर (Based on Application)

 

अनुप्रयोग के आधार पर कंप्यूटर को मुख्य रूप से तीन भागों में बांटा गया है

  1. एनालॉग कंप्यूटर (Analog Computer) 
  2. डिजिटल कंप्यूटर (Digital Computer)
  3. हाइब्रिड कंप्यूटर  (Hybrid Computer)

 

एनालॉग कंप्यूटर (Analog Computer) 

एनालॉग कंप्यूटर क्या होता है? Analog Computer ऐसा कंप्यूटर है जिसका उपयोग मुख्य रूप से विज्ञान और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में किया जाता है। यह कंप्यूटर भौतिक मात्राओं को मापने का काम करता है। जैसे के दाब, तापमान, गति, लंबाई, प्रतिरोध इत्यादि का मापन करके उनके परिणाम को अंको में व्यक्त करते हैं। यह कंप्यूटर किसी भी राशि का मापन तुलना के आधार पर करते हैं जैसे कि थर्मामीटर।

थर्मामीटर गणना नहीं करता बल्कि संसाधित प्रसार की तुलना करके शरीर के तापमान को बताता है।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

tharmameter

एनालॉग कंप्यूटर के अन्य उदाहरण है एक साधारण घड़ी (Digital Watch), गाड़ियों में लगी मीटर (Speedometer), वोल्टमीटर (Voltmeter) इत्यादि।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

Speedo meter

डिजिटल कंप्यूटर (Digital Computer)

डिजिटल कंप्यूटर क्या है? डिजिट (Digit) का अर्थ होता है डिजिटल पद्धति में अंक अपने स्थान से विस्थापित हो सकते हैं। इलेक्ट्रॉनिक घड़ी अथवा केलकुलेटर डिजिटल पद्धति पर ही आधारित है। आजकल बाइक (Bike), कार (Car) इत्यादि में भी डिजिटल मीटर का उपयोग किया जाता है। यह Digital Computer कंप्यूटर का एक उदाहरण है। इनमें सभी अंक 8 पर आधारित होते हैं। क्योंकि, आठ ही ऐसा अंक है जिस के विभिन्न भागों को प्रदर्शित कर के अलग-अलग अंगों को दिखाया जा सकता है। अंक 8 को सात प्रदीप्त तारों से बनाया जाता है। अलग-अलग अंगों के लिए इनमें से कुछ लोगों को प्रदीप्त करके प्रदर्शित किया जा सकता है।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

DIGITAL NUMBER

आज के वर्तमान समय में अधिकांश कंप्यूटर डिजिटल कंप्यूटर की श्रेणी में आते हैं। इसमें गणना करने के लिए द्विआधारी अंक पद्धति 0 या 1 का प्रयोग किया जाता है। इनकी गति बहुत तीव्र होती है।

डिजिटल कंप्यूटर में डाटा और प्रोग्राम 0 और 1 के रूप में संग्रहित होते हैं।

हाइब्रिड कंप्यूटर (Hybrid Computer)

हाइब्रिड कंप्यूटर क्या है? Hybrid Computer में Analog Computer और Digital Computer इन दोनों के गुण पाए जाते हैं। यह कंप्यूटर अनेक गुणों से युक्त होते हैं। इसलिए इसे हाइब्रिड कंप्यूटर कहते हैं। इस कंप्यूटर का उपयोग चिकित्सा में अधिक होता है जैसे एनालॉग कंप्यूटर किसी रोगी के तापमान या रक्तचाप को मारता है और बाद में डिजिटल भागों के द्वारा अंत में बदल दिए जाते हैं। किससे रोगी के स्वास्थ्य के बारे में सही पता चलता है।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटर का प्रकार (Types of Computer Based on Purpose)

उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटर को मुख्य रूप से दो भागों में बांटा गया है।

  1. सामान्य उद्देश्य कंप्यूटर और (General Purpose Computer)
  2. विशिष्ट उद्देश्य कंप्यूटर (Special Purpose Computer)

 

समान उद्देश्य कंप्यूटर (General Purpose Computer)

समान उद्देश्य कंप्यूटर यह वैसे कंप्यूटर हैं जिनमें सामान्य प्रकार के सभी कार्य किए जा सकते हैं, चाहे वह विज्ञान, वाणिज्य, इंजीनियरिंग अथवा शिक्षा आदि किसी भी क्षेत्र से संबंध रखते हैं। विभिन्न प्रकार के कार्यों को एक ही कंप्यूटर से किया जा सकता है। और ऐसा कंप्यूटर जिस पर सभी कार्य संभव है। सामान्य उद्देश्य कंप्यूटर कहलाता है। इस प्रकार के कंप्यूटर सबसे अधिक प्रयोग किए जाते हैं।

विशिष्ट उद्देश्य कंप्यूटर (Special Purpose Computer)

विशिष्ट उद्देश्य कंप्यूटर- ऐसे कंप्यूटर होते हैं जो किसी विशेष कार्य को करने के लिए तैयार किए जाते हैं।

इन कंप्यूटर के CPU की क्षमता सामान्य उद्देश्य कंप्यूटर की तुलना में बहुत अधिक होती है। इन कंप्यूटर का उपयोग अंतरिक्ष विज्ञान, मौसम विज्ञान,, अनुसंधान एवं शोध, यातायात नियंत्रण, प्रक्षेपास्त्र का नियंत्रण, कृषि विज्ञान चिकित्सा, इंजीनियरिंग इन क्षेत्रों में किया जाता है।

सबसे अच्छा लैपटॉप ख़रीदे 

आकार के आधार पर कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer Based on Size)

जो आकार के आधार पर कंप्यूटर को कई भागों में बांटा गया है जो निम्नलिखित हैं।

  • मेनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer)
  • मिनी कंप्यूटर (Mini Computer)
  • माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer)
  • सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

मेनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer)

मेनफ्रेम कंप्यूटर क्या है? – यह वे कंप्यूटर होते हैं जो आकार में काफी बड़े होते हैं। साथ ही इसके कार्य करने की क्षमता अधिक होती है। तथा इसमें माइक्रो प्रोसेसर की संख्या भी अधिक होती है। इसमें अधिक मात्रा में डाटा पर तीव्रता से प्रोसेस किया जा सकता है। और इसके कार्य करने और संग्रहण की क्षमता अधिक तथा गति अत्यंत तीव्र होती है।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

Mainframe Computer

इसमें मुख्य रूप से 32 या 64 बिट Micro Processor का प्रयोग किया जाता है। इस पर एक साथ कई लोग अलग-अलग कार्य कर सकते हैं। इसलिए इनका उपयोग बड़ी कंपनियां, बैंक, टेलीकॉम सर्विस आदि में एक केंद्रीय कंप्यूटर के रूप में किया जाता है।

मेनफ्रेम कंप्यूटर को एक Network या Miro Computer से परस्पर जोड़ा जा सकता है। तथा इसमें ऑनलाइन रहकर बड़ी मात्रा में डाटा प्रोसेसिंग किया जा सकता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से बड़ी कंपनियों, बैंक रक्षा, अनुसंधान अंतरिक्ष आदि क्षेत्रों में किया जाता है।

मिनी कंप्यूटर (Mini Computer)

मिनी कंप्यूटर क्या है? Mini Computer का आकार Micro Computer से बड़ा और Mainframe Compute से छोटा होता है। इस कंप्यूटर की कीमत भी माइक्रो कंप्यूटर से ज्यादा होती है। इस कंप्यूटर पर एक समय में 1 से ज्यादा लोग काम कर सकते हैं। मिनी कंप्यूटर का उपयोग बड़ी-बड़ी कंपनियों में, यातायात में यात्रियों के आरक्षण के लिए, सरकारी ऑफिस में, बैंकों में बैंकिंग कार्यों के लिए किया जाता है।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

MINI COMPUTER

Digital Equipment कॉरपोरेशन ने सन 1965 में PDP-8 यह सबसे पहला मिनी कंप्यूटर तैयार किया था। और इस कंप्यूटर की कीमत $18000 थी। और वह एक रेफ्रिजरेटर के आकार का था।

माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer)

माइक्रो कंप्यूटर क्या है? सन 1970 में माइक्रो कंप्यूटर का विकास हुआ था। यह कंप्यूटर आकार में छोटे होते हैं। यह कंप्यूटर को डेस्क पर या ब्रीफकेस में भी रख सकते हैं। इन छोटे कंप्यूटर को माइक्रो कंप्यूटर कहते हैं।

इस तरह के कंप्यूटर का उपयोग खास तौर पर पर्सनल काम करने के लिए किया जाता है। इसलिए इस कंप्यूटर को पर्सनल कंप्यूटर (Personal Computer) भी कहा जाता है।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

माइक्रो कंप्यूटर एक डिजिटल कंप्यूटर है, जो माइक्रो प्रोसेस पर काम करता है। छोटे बड़े व्यापार में माइक्रो कंप्यूटर का बहुत महत्व है। इस तरह के कंप्यूटर का उपयोग घरों में, विद्यालयों में, ऑफिस में, व्यापार में, चिकित्सा में उत्पादन में, रक्षा में, मनोरंजन इत्यादि में किया जा रहा है।

माइक्रो कंप्यूटर के निम्नलिखित गुण होते हैं।

यह आकार में छोटा होता है, कीमत में सस्ते होते हैं, एक माइक्रोप्रोसेसर से काम करता है, तथा इसके संग्रहण क्षमता सीमित होती है।

सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

सुपर कंप्यूटर क्या है? आज जितने भी कंप्यूटर हैं उन कंप्यूटरों में सुपर कंप्यूटर सबसे बड़ा, सबसे ज्यादा तीव्रता वाले, अधिक संग्रह क्षमता वाले कंप्यूटर होते हैं। इसमें कई माइक्रोप्रोसेसर एक साथ काम करते हैं। और किसी भी समस्याओं का समाधान तुरंत देते हैं।

सुपर कंप्यूटर एक सेकंड में एक अरब गणना कर सकता है। और मेगा फ्लॉप से इसकी गति को मापते हैं। सुपर कंप्यूटर आकार में बड़े होते हैं, और इसे ठंडा करने के लिए विशेष व्यवस्था करने पड़ते हैं।

https://computernoteshindi.com/?p=1809&preview=true

SUPER COMPUTER

सुपर कंप्यूटर में एक से अधिक CPU होते हैं और इस कंप्यूटर पर एक से अधिक व्यक्ति काम कर सकते हैं। इन कंप्यूटर का उपयोग मौसम संबंधित अनुसंधान, अंतरिक्ष यात्रा, सैन्य और वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए किया जाता है। हमारा देश भारत भी उन गिने-चुने देशों की श्रेणी में शामिल है। जिसके पास अपना बनाया गया सुपर कंप्यूटर है। भारत के पास “परम-10000″ नाम का एक सुपर कंप्यूटर है। जिसे C-DAC कंपनी पुणे में सन1988 में तैयार किया। इसकी जन्नत क्षमता 100 गीगा फ्लॉप अर्थात एक खरब गणना प्रति सेकंड है। 

सुपर कंप्यूटर के निर्माण का C-DAC के निदेशक विजय भास्कर को दिया जाता है। इस तरह के सुपर कंप्यूटर विश्व के कुल 5 देशों अमेरिका, जापान, चीन, इजरायल, और भारत के पास भी उपलब्ध है।

यह कंप्यूटर बहुत शक्तिशाली और महंगा होता है।

किताब पढ़े और लोगों को अपने ओर आकर्षित करने की कला सीखें। 

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की पोस्ट में मैंने कंप्यूटर के विभिन्न प्रकार के बारे में विस्तार से जानकारी देने की कोशिश की है। जिसमे कंप्यूटर के विभिन्न प्रकार जैसे एनालॉग कंप्यूटर, डिजिटल कंप्यूटर, हाइब्रिड कंप्यूटर, मेनफ़्रेम कंप्यूटर, माइक्रो कंप्यूटर, मिनी कंप्यूटर, सुपर कंप्यूटर आदि के बारे में जानकारी दी है। आशा करता हूँ यह पोस्ट आपको अच्छा लगा होगा। अगर आपको अच्छा लगा हो तो कृपया अपने दोस्तों को भी शेयर करे ताकि उन्हें भी यह जानकारी मिल सके।

धन्यवाद! 

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

New Computer GK Part 14

Computer MCQ- 14 [2022]

हैल्लो दोस्तों 

कैसे हैं आप सब! आशा करता हूँ बहुत अच्छे होंगे आप सभी। और मेरी अगली कोई नयी पोस्ट के इंतजार में होंगे। तो दोस्तों मैं आ गया हूँ फिर से एक नए पोस्ट लेकर। परन्तु आज की पोस्ट में मैं आपलोगो के लिए Computer MCQ- 6  लेकर आया हूँ। जिससे आप अपने बारे में पता कर सकते हैं की अब तक आप कितना सिख चुके हैं। इसके पहले के MCQ कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1

https://computernoteshindi.com/new-computer-gk-part-14/

My Dear Friend आज की पोस्ट में अधिकतर प्रश्न कंप्यूटर की पीढ़ी से सम्बंधित है। आप मेरी पीछे की पोस्ट में जाकर देख सकते हैं। मैंने कंप्यूटर की पीढ़ी से सम्बंधित नोट्स भी दाल चूका हूँ। अगर आपने अभी तक मेरी पोस्ट नहीं पढ़ी है। तो मैं इस पोस्ट के नीचे लिंक दे दूंगा। आप वहां जाकर मेरे अब तक की सभी पोस्ट को पढ़ सकते हैं। 

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

Dear Friend क्या आप जानते हैं हम टेस्ट क्यों देते हैं। इससे हमारी ज्ञान का पता चलता है। हमने क्या सीखा है और क्या सीखा है इससे जानने के लिए ही हम टेस्ट दबा पड़ता है। इसलिए कभी भी हमें टेस्ट देने से घबराना नहीं चाहिए। तो दोस्तों बिना देर किये आइये चलते हैं। अपने पोस्ट की ओर और देखते हैं हमारी आज की पोस्ट Computer MCQ- 14 [2022] 

तो दोस्तों आइये बिना देर किये चलते हैं अपने क्विज की ओर।

Please go to New Computer GK Part 14 to view the test

       दोस्तों इससे पहले भी मैंने और कई क्विज टेस्ट आपके लिए बना चुका हूँ। जिसमे MS Word, MS Excel, Computer Fundamental, Internet आदि शामिल हैं। अगर अभी तक आप मेरे पुराने टेस्ट नहीं देखे हैं तो इस पोस्ट के नीचे लिंक दिया गया जहाँ से आप जाकर सभी टेस्ट दे सकते हैं। यह टेस्ट भी आपके ज्ञान को बढ़ाने में बहुत मदद करेगी। 

Previous Post Link 

 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

What is Memory of Computer?

What is Memory of Computer?

Memory एक उपकरण है। जो Input Device के द्वारा दिए गए निर्देशों को Computer में संग्रह करके रखता है। इसे Computer की याददाश्त भी कहा जाता है। जिस तरह मनुष्य को कुछ बातों को याद रखने के लिए मस्तिष्क की जरूरत होती है। उसी प्रकार कंप्यूटर में डाटा को याद रखने के लिए 

https://computernoteshindi.com/?p=1761&preview=true

Memory की आवश्यकता होती है। यह Memory CPU का एक मुख्य अंग होता है। इसे कंप्यूटर की Main Memory, Internal Memory या Primary Memory भी कहते हैं।

NOTE:- किसी भी निर्देश सूचना अथवा परिणामों को संग्रहण करके रखना है, मेमोरी कहलाता है।

Computer या Laptop में एक से ज्यादा मेमोरी होती है। हम उनको सामान्यतः प्राथमिक मेमोरी और द्वितीयक मेमोरी कहते है। प्रथिमिक मेमोरी दोनों प्रकारक की होती हैं अस्थिर (Volatile) और स्थिर (Non-volatile)।. अस्थिर मेमोरी किसी भी डाटा को अस्थाई रूप से कंप्यूटर Start होने से लेकर कंप्यूटर बंद होने तक ही रखता है। अर्थात कंप्यूटर अचानक बंद होने पर कंप्यूटर से डाटा को नष्ट कर देता है। स्थिर मेमोरी (ROM) आपके कंप्यूटर को प्रारंभ करने में सहायक होती है। इसमें कुछ अत्यंत उपयोगी होते हैं। जो कंप्यूटर को बूट (Boot) करने में मदद करते हैं। कंप्यूटर को Start करने की प्रक्रिया को Booting कहते हैं। इसे मुख्य मेमोरी भी कहा जाता है। द्वितीयक संग्रह या द्वितीयक मेमोरी वह है जो हमारे डाटा को लंबे समय तक सुरक्षित रखता है। द्वितयक मेमोरी (Secondary Memory) कई रूपों में आते हैं। जैसे Floppy Disk, Hard Disk, CD ROM आदि.

Bit अथवा Byte

दोस्तों  Bit अथवा Byte क्या होता है?

Memory मैं Store किया गया Data 0 या 1 के रूप में परिवर्तित हो जाता है। 0 तथा 1 को सामूहिक रूप से बायनरी संख्या (Binary Number) कहा जाता है। संक्षिप्त में इन्हें बिट (bit) भी कहा जाता है। यह बिट कंप्यूटर की मेमोरी में घेरे  गए स्थान को मापने की सबसे छोटी इकाई होती है।

4 Nibble = 1 Bit

8 Bit =1 Byte

1024 Byte =1 Kilo  Byte

1024 Kilo  Byte = 1 Giga Byte

1024 Giga Byte = 1 Tera Bite 

मेमोरी के प्रकार (Types of Memory)

आइए दोस्तों अब देखते हैं Memory के प्रकार

Memory कितने प्रकार के होते हैं।

Memory दो प्रकार के होते हैं

  1. Primary Memory
  2. Secondary Memory

Primary Memory- Primary Memory कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है। जहां किसी भी डाटा, सूचना, फाइल या प्रोग्राम प्रक्रिया के दौरान उपस्थित रहते हैं। और आवश्यकता पड़ने पर तुरंत उपलब्ध रहते हैं। यह मेमोरी अस्थिर मेमोरी होती है क्योंकि इसमें लिखा हुआ डाटा कंप्यूटर बंद होने या बिजली के चले जाने पर मिट जाता है। Primary Memory कहलाती है। इसे प्राथमिक या मुख्य मेमोरी भी कहते हैं।

Primary Memory मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है

  1. RAM (रैम)
  2. ROM(रोम)

RAM (रैम)

RAM जिसे Random Access Memory भी कहते हैं। यह कंप्यूटर की अस्थाई  मेमोरी होती है। Keyboard जा अन्य किसी Input Device  से इनपुट किया गया डाटा प्रॉसेसिंग से पहले RAM में ही संग्रहित किया जाता है। और CPU द्वारा आवश्यकता अनुसार वहां से प्राप्त किया जाता है। RAM में Data या प्रोग्राम अस्थाई रूप से संग्रहित रहता है। और कंप्यूटर बंद हो जाने या बिजली चले जाने पर RAM में संग्रहित डाटा मिट जाता है। इसलिए RAM को Volatile Memory भी कहते हैं। RAM की क्षमता या आकर कई प्रकार के होते हैं। जैसे कि 4 MB, 8MB,16MB, 32MB, 64 MB, 128MB, 256MB दि। RAM तीन प्रकार की होती है।https://computernoteshindi.com/?p=1761&preview=true

Dynamic RAM

Sychronous RAM

Static RAM

Dynamic RAM क्या है?

Dynamic RAM को संक्षिप्त रूप में DRAM भी कहा जाता है। RAM में सबसे साधारण DRAM है। तथा इसे जल्दी-जल्दी रिफ्रेश करने की आवश्यकता पड़ती है। रिफ्रेश का अर्थ यहां पर चिप को विद्युत अवशेषी करना होता है। यह 1 सेकंड में लगभग हजारों बार रिफ्रेश होता है। तथा प्रत्येक बार रिफ्रेश होने के कारण यह पहले की विषय वस्तु को मिटा देती है। इसके जल्दी-जल्दी रिफ्रेश होने के कारण इसकी गति कम होती है।

Sychronous RAM

Sychronous RAM DRAM की तुलना में ज्यादा तेज है। इसकी तेज गति का  कारण यह है कि CPU की घड़ी की गति के अनुसार रिफ्रेश होती है. इसलिए यह DRAM की तुलना में डाटा को तेजी से स्थानांतरित करता है।

Static RAM क्या है?

Static RAM ऐसी RAM है जो कम रिफ्रेश होती है। कम रिफ्रेश होने के कारण यह डाटा को मेमोरी में अधिक समय तक रखता है। DRAM की तुलना में Static RAM (स्टैटिक रैम) तेज तथा महंगी होती है।

ROM (रोम)

ROM का पूरा नाम Read Only Memory है। यह स्थाई मेमोरी (Permanent Memory) होती है। जिसमें कंप्यूटर के निर्माण के समय प्रोग्राम स्टोर कर दिए जाते हैं। इस मेमोरी में स्टोर प्रोग्राम परिवर्तित और नष्ट नहीं किए जा सकते हैं। उन्हें केवल पढ़ा जा सकता है। इसलिए यह मेमोरी रीड ओनली मेमोरी कहलाती है। कंप्यूटर का स्विच ऑफ होने के बाद भी ROM में डाटा नष्ट नहीं होता है। इसलिए इसे Non-Volatile या स्थाई मेमोरी कहते है। ROM विभिन्न प्रकार के होते हैं जो निम्नलिखित है।

https://computernoteshindi.com/?p=1761&preview=true

PROM (Programable Read Only Memory) प्रोग्रामेबल ओनली मेमोरी

EPROM (Erasable Programable Read Only Memory) इरेजेबल प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी

EEPROM (Electrical Programable Read Only Memory) इलेक्ट्रिकल प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी

PROM क्या है?

PROM का पूरा नाम प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी है। यह एक ऐसी मेमोरी है जिसमें एक बार डाटा संग्रहित कर दिए जाने के बाद इन्हें मिटाया नहीं जा सकता है। और ना ही किसी तरह का बदलाव किया जा सकता है।

EPROM क्या है?

EPROM का पूरा नाम इरेजेबल प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी है। यह PROM की तरह ही होता है। लेकिन इसमें संग्रहित डाटा या प्रोग्राम को पराबैंगनी किरणों के द्वारा ही मिटाया जा सकता है। और नए प्रोग्राम संग्रहित किए जा सकते हैं।

EEPROM का पूरा नाम इलेक्ट्रिकल प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी है। यह एक नई तकनीकी है। जिसमें मेमोरी से प्रोग्राम को विद्युतीय विधि के द्वारा मिटाया जा सकता है।

 मेमोरी से संबंधित कुछ विशेष बातें:-

किसी भी सूचना एवं निर्देशों अथवा परिणामों को स्टोर करके रखना ही Memory कहलाता है।

Memory CPU का एक मुख्य अंग है। इसे कंप्यूटर की मुख्य मेमोरी (Main Memory), आंतरिक मेमोरी (Internal Memory) या प्राथमिक मेमोरी (Primary Memory) भी कहते हैं।

RAM (Random Access Memory) कंप्यूटर की अस्थाई मेमोरी होती है। इससे उड़न शील (Volatile) मेमोरी भी कहा जाता है।

ROM (Read Only Memory) रीड ओनली मेमोरी कंप्यूटर की स्थाई मेमोरी होती है। इसे नॉन उड़नशील मेमोरी भी कहा जाता है।

आपने क्या सीखा?

आज के इस पोस्ट में हमने सीखा कंप्यूटर की Memory के बारे में। कंप्यूटर में कौन-कौन से मेमोरी होती है? और कौन से मेमोरी को क्या कहा जाता है? किस तरह की मेमोरी होती है? मेमोरी की छमता क्या है? इन सब छोटी छोटी जानकारी को विस्तार पूर्वक बताने की पूरी कोशिश की है। आशा करता हूं आपको आज की पोस्ट बहुत अच्छा लगा होगा। यदि मेरी पोस्ट पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्त को भी शेयर करें। ताकि अधिक से अधिक लोग पढ़ सके और जरूरत की जानकारी प्राप्त कर सके। और मुझे कमेंट करें। यदि कोई सुझाव चाहते हैं तो कृपया बताएं। इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

 

Previous Post Link 

 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

Computer MCQ- 6 [2022]

Computer MCQ- 6 [2022]

 

हैल्लो दोस्तों 

कैसे हैं आप सब! आशा करता हूँ बहुत अच्छे होंगे आप सभी। और मेरी अगली कोई नयी पोस्ट के इंतजार में होंगे। तो दोस्तों मैं आ गया हूँ फिर से एक नए पोस्ट लेकर। परन्तु आज की पोस्ट में मैं आपलोगो के लिए Computer MCQ- 6  लेकर आया हूँ। जिससे आप अपने बारे में पता कर सकते हैं की अब तक आप कितना सिख चुके हैं। इसके पहले के MCQ कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021] GK कंप्यूटर क्विज मिक्स पार्ट - 3 [2021]

दोस्तों आज की पोस्ट में अधिकतर प्रश्न कंप्यूटर की पीढ़ी से सम्बंधित है। आप मेरी पीछे की पोस्ट में जाकर देख सकते हैं। मैंने कंप्यूटर की पीढ़ी से सम्बंधित नोट्स भी दाल चूका हूँ। अगर आपने अभी तक मेरी पोस्ट नहीं पढ़ी है। तो मैं इस पोस्ट के नीचे लिंक दे दूंगा। आप वहां जाकर मेरे अब तक की सभी पोस्ट को पढ़ सकते हैं। 

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

दोस्तों क्या आप जानते हैं हम टेस्ट क्यों देते हैं। इससे हमारी ज्ञान का पता चलता है। हमने क्या सीखा है और क्या सीखा है इससे जानने के लिए ही हम टेस्ट दबा पड़ता है। इसलिए कभी भी हमें टेस्ट देने से घबराना नहीं चाहिए। तो दोस्तों बिना देर किये आइये चलते हैं। अपने पोस्ट की ओर और देखते हैं हमारी आज की पोस्ट Computer MCQ- 6 [2022] 

तो दोस्तों आइये बिना देर किये चलते हैं अपने क्विज की ओर।

Please go to Computer MCQ- 6 [2022] to view the test

दोस्तों इससे पहले भी मैंने और कई क्विज टेस्ट आपके लिए बना चुका हूँ। जिसमे MS Word, MS Excel, Computer Fundamental, Internet आदि शामिल हैं। अगर अभी तक आप मेरे पुराने टेस्ट नहीं देखे हैं तो इस पोस्ट के नीचे लिंक दिया गया जहाँ से आप जाकर सभी टेस्ट दे सकते हैं। यह टेस्ट भी आपके ज्ञान को बढ़ाने में बहुत मदद करेगी। 

Previous Post Link 

 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

 

 

What is History of Computer Hindi me

कंप्यूटर का इतिहास और उसका विकास (History and Development of Computer)

दोस्तों किसी भी चीज का निर्माण एक दिन में नहीं होता है। उसके निर्माण में वर्षों लगते हैं। वैसे ही आज हम जिस Computer का उपयोग करते हैं यह कोई एक दो दिन में नहीं बनाये गए हैं। इस ही History of Computer कहते हैं।

Computer इतिहास की जानकारी उस समय से मिलता है। जब मनुष्य ने बड़ी-बड़ी संख्याओं गणना करने का प्रयास किया था। बड़ी-बड़ी समस्याओं को गणना की इस प्रक्रिया में गणना की विभिन्न सदस्यों को जन्म दिया। जैसे-

बेबीलोनियन गणना प्रणाली,

यूनानी गणना प्रणाली,

रोमन गणना प्रणाली,

भारतीय गणना प्रणाली

इनमें से भारतीय संख्या प्रणाली (Indian Number System) सभी जगहों पर स्वीकार किया गया है। यही आधुनिक दशमलव संख्या प्रणाली (0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9) का आधार है। जहां आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि कंप्यूटर दशमलव संख्या प्रणाली (Decimal Number System) नहीं समझता है। और काम करने के लिए गणना की द्विआधारी प्रणाली अर्थात बाइनरी संख्या प्रणाली (Binary System) का प्रयोग करता है।

कंप्यूटर का इतिहास (History of Computer)

प्राचीन समय से ही गणना का प्रचलन देखने को मिलता है। पहले लोग गणना करने के लिए लकड़ी, पत्थर, उँगलियों, और हड्डियों का उपयोग करते थे। उसके बाद गणना करने के लिए एक यन्त्र का अविष्कार किया गया। जिसे आज हम Abacus नाम से जानते हैं। जिसे चीन और जापान जैसे अन्य देश गणना कार्यों में उपयोग में लाते हैं। 

कंप्यूटर के विषय में गणना हेतु प्राचीन कंप्यूटर से लेकर आधुनिक कंप्यूटर का विकास किया गया। जो आज भी मानो उपयोगिता को सरल बनाने हेतु निरंतर सूचना और प्रौद्योगिकी के रूप में आगे बढ़ रहा है।

अबेकस क्या है? (What is Abacus) 

प्राचीन काल में गणना करने के लिए कई प्रकार के Calculating Machine का उपयोग किया गया। Abacus का उनमें सबसे प्रमुख रहा है। जिसका एशिया के कई देशों में आज भी प्रयोग होता है। हालांकि आविष्कार बेबिलोनियन में 3000 वर्ष पूर्व हो गया था। परंतु जिस रूप में हम सबसे अधिक परिचित हैं उसे china में पहली बार लगभग 500 वर्ष पूर्व विकसित किया गया था। चीन में इसे Calculating कहा जाता है।

What is History of Computer Hindi me

यह डिवाइस मुख्य रूप से लकड़ी के फ्रेम में बनी होती है। जिसमें कई धातु की छड़ लगी होती है। जिन पर लकड़ी या मिट्टी से बने मोतियों को पिरोया गया होता है। इसके चित्र में आप देखेंगे मोतियों को एक केंद्र छड़ी जिसे बार कहते हैं, की मदद से विभाजित किया जाता गया है। इन मोतियों को नियम के हिसाब से ऊपर नीचे करके ही बुनियादी अंकगणितीय गणनाये जैसे जोड़ और घटाव किया जाता था।

नेपियर बोंस (Napier Bones)

नेपियर बोंस क्या है? (What is Napier Bones)

Calculation को आसान करने में एक मुख्य बदलाव तब आया जब एक स्कॉटलैंड के गणितज्ञ Jhon Napier ने सन 1617 ईस्वी में एक बेहद ही खास मशीन Jhon Napier Bones का आविष्कार किया। इस कैलकुलेटिंग यंत्र की मदद से गुणा और भाग किया जा सकता था।

What is History of Computer Hindi me

यह और कुछ नहीं बल्कि हड्डी या लकड़ी का एक टुकड़ा था जिस पर अंको को प्रिंट किया गया होता था। जिसमें क्रमशः 0 से 9 पहाड़े लिखे होते थे। यह यंत्र Napier Bones के नाम से जाना जाता है। इसे  ‘Rabbology’ भी कहा जाता है, जो Jhon Napier द्वारा अविष्कृत एक शब्द है।

स्लाइड रूल (Slide Rule)

स्लाइड रूल क्या है? (What is Slide Rule)

अंग्रेजी गणितज्ञ Admund Guntur ने Slide Rule या विसर्पी गणक विकसित किया। एडमंड गुंटर ने सबसे पहले Logarithmic Rule को तैयार किया।

यह मशीन जोड़ घटाव गुणा भाग जैसे क्रिया कर सकती थी । इसे 16 वीं शताब्दी में यूरोप में व्यापक रूप से प्रयोग में लाया गया। सन 1620 में Slide Rule जिसे संयुक्त राज्य अमेरिका में, बोलचाल के रूप में भी जाना गया, यह एक यांत्रिक एनालॉग कंप्यूटर (Machanical Analog Computer) होता है।

What is History of Computer Hindi me

Slide Rule ग्राफिकल Analog Computer के रूप में, नोमोग्राम से संबंधित था। लेकिन पूर्व में इसका उपयोग मुख्य रूप से सामान्य गणनाओं जैसे गुणन और विभाजन के साथ Root, Logorithm, और त्रिकोणमिति जैसे गणना कार्यों के लिए भी किया जाता था। इसके अतिरिक्त जोड़ और घटाव के लिए नहीं। बाद में इसका अनुप्रयोग विशिष्ट गणनाओं के लिए किया गया।

यह यंत्र लघुगणक विधि के आधार पर कार्य करता था। बीसवीं शताब्दी के आठवें दशक में Electronics Computer का आविष्कार होने पर इसका प्रयोग बंद हो गया।

पास्कलाइन (Pascaline)

पास्कलाइन क्या है? (What is Pascaline)

शताब्दियों बाद अनेक यांत्रिक मशीनें अंकों की गणना के लिए विकसित की गई। आपने शायद Blaise Pascal का नाम सुना होगा। उसने 19 वर्ष की आयु में एक मशीन Pascal Computer बनाई जो जोड़ और घटाने का काम कर सकती थी। इस मशीन में पहिए, गियर और सिलेंडर हुआ करता था। 17 वीं शताब्दी में फ्रांस के गणितज्ञ ब्लेज पास्कल ने एक यांत्रिक आंकिये गणना यंत्र मैकेनिकल डिजिटल केलकुलेटर 1662-1644 में विकसित किया। इस मशीन को एडिंग मशीन कहा जाता था। क्योंकि यह केवल जोड़ सकती थी। यह मशीन घड़ी और ऑडोमीटर के सिद्धांत पर कार्य करती थी। ब्लेज पास्कल कि इस एडिंग मशीन को पास्कलाइन का नाम दिया गया। जो सबसे पहला यांत्रिक गणना यंत्र था।

What is History of Computer Hindi me

वर्ष 1694 में जर्मन गणितज्ञ व दार्शनिक गोट फ्रेड वॉन लेबनीज ने पास्कलाइन का विकसित रूप तैयार किया। जो जोड़ के अलावा गुणा और भाग भी कर सकता था।

लेबनीज मशीन (Leibniz Machine)

लेबनीज केलकुलेटर क्या है? (What is Leibniz Calculator)

वर्ष 1617 में जर्मन दार्शनिक और गणितज्ञ गोटफ्राइड वॉन  लेबनीज ने पास्कल मशीन का अनुसरण कर गणना यंत्र बनाया। जिस पर केलकुलेटर के भागों को सुविधा अनुसार दाएं और बाएं ओर खिसकाया जा सकता था। जर्मन गणितज्ञ गोटफ्राइड वॉन  लेबनीज ने यांत्रिक केलकुलेटर का आविष्कार किया था। यह मशीन जोड़ के साथ-साथ गुना व भाग कर सकने में भी समर्थ थी।

लेबनीज ने पास्कल यंत्र में सुधार कर एक जटिल गणना मशीन का निर्माण किया। जिस पर जोड़ के साथ ही गुना व भाग संबंधी गणना करने की गति बहुत तेजी से किया जा सकता था।

जैक्वार्ड लूम मशीन (Jacquard Loom Machine)

जैक्वार्ड लूम क्या है? (What is Jacquard Loom Machine)

सन 1801 में फ्रांसीसी बुनकर जोसेफ जैक्वार्ड ने कपड़े बुनने के ऐसे लूम का आविष्कार किया जो कपड़ों में डिजाइन या पैटर्न स्वतः बना देता था। इस युग की विशेषता यह थी कि यह कार्य बोर्ड के छिद्रित पंच कार्डों के साथ कपड़े के पैटर्न को नियंत्रित करता था।

पंच कार्ड पर छेदों की उपस्थिति या अनुपस्थिति से धागों को निर्देशित किया जाता था।

चार्ल्स बैबेज का डिफरेंस इंजन (Difference engine of Charles Babbage)

डिफरेंस इंजन क्या है? (What is Difference engine)

सन 1823 में ब्रिटिश गणितज्ञ चार्ल्स बैबेज ने गणित की जटिल गणना करने के लिए एक यंत्र का आविष्कार किया। इसे Difference engine कहते थे। बाद में उसने सामान्य कार्यों की गणना करने की मशीन विकसित किया। जिसे Analytical Engine के नाम से जाना जाता था। आइए विस्तार से जानते हैं।

कंप्यूटर के इतिहास में 19वीं शताब्दी के प्रारंभिक समय को कंप्यूटर विकास का स्वर्णिम युग (Golden Age) कहा जाता है। जिसमें ब्रिटिश गणितज्ञ चार्ल्स बैबेज को एक यांत्रिक गणना मशीन का निर्माण करने की आवश्यकता महसूस हुई। जबकि गणना के लिए प्रयुक्त सारणी में त्रुटि थी क्योंकि यह सारणियाँ  हाथों से बनाई गई थी। इसलिए उन्हें विभिन्न त्रुटि हुआ करती थी।

चार्ल्स बैबेज ने सन 1822 में एक यांत्रिक मशीन का निर्माण किया था, जो ब्रिटिश सरकार द्वारा संरक्षित किया गया था। इस मशीन को Difference Engine का नाम दिया गया। इस मशीन में गियर और सॉफ्ट लगा हुआ करता था. और साथ ही यह भाप  से चलती थी।

एनालिटिकल इंजन (Analytical Engine)

एनालिटिकल इंजन क्या है? (Analytical Engine)

1833 में चार्ल्स बैबेज (Charles Babbage) ने एक शक्तिशाली मशीन विश्लेषणात्मक इंजन (Analytical Engine) का निर्माण किया, यह डिफरेंस इंजन का एक विकसित रूप था। चार्ल्स बैबेज ने कंप्यूटर के विकास में बहुत बड़ा योगदान दिया। चार्ल्स बैबेज का विश्लेषणात्मक इंजन आधुनिक कंप्यूटर का आधार बन गया। और यही कारण है कि चार्ल्स बैबेज (Charles Babbage) को कंप्यूटर विज्ञान का पिता कहा जाता है। यहीं से आधुनिक कंप्यूटर युग का आरंभ हुआ।

इस आधुनिक कंप्यूटर के मुख्यतः 5 भाग होते थे-

इनपुट यूनिट, स्टोर यूनिट, एल्गोरिथम यूनिट, कंट्रोल यूनिट और आउटपुट यूनिट

हॉलेरिथ सेंसस टेबुलेटर (Hollerith Census Tabulator)

हॉलेरिथ सेंसस टेबुलेटर क्या है? (What is Hollerith Census Tabulator)

अमेरिकी गणितज्ञ हरमन हॉलेरिथ, जो लेखांकन में शीघ्र गणना कार्य हेतु एक इलेक्ट्रोमैकेनिकल पंच कार्ड (Electromachenical Punch Card) युक्त मशीन का आविष्कार किया है। जिसे वर्ष 1880 में शुरू की गई। अमेरिका की जनगणना में 7 वर्ष से कम समय लगे थे। कम समय में जनगणना के कार्य को संपन्न करने के लिए हरमन हॉलेरिथ ने एक टेबुलेटिंग मशीन (Tabulating Machine) का निर्माण किया। यह पहली यांत्रिक मशीन थी जो विद्युत से चलने वाली मशीन थी।

इस मशीन में (Electromachenical Punch Card) कार्ड का उपयोग किया जाता था। जिसमें पंच कार्डों को विधि द्वारा संचालित किया गया। इस मशीन की सहायता से जनगणना का कार्य केवल 3 वर्ष में संपन्न हो गया।

पंच कार्ड क्या है? हरमन हॉलेरिथ ने अपनी एक कोड विकसित किया, जिसे ‘हॉलेरिथ कोड’ कहा जाता था। इस कोड के द्वारा पंच कार्ड में सूचना का संग्रह करना संभव हो पाया। इन पंच कार्ड में सूचना संग्रहण हेतु जो चित्र होते थे, वह 1 अंक एवं छिद्र नहीं होते थे वह 0 को प्रदर्शित करता था।

कंप्यूटर, इतिहास में, इस पंच कार्ड मशीन निर्माण से भविष्य के लिए सूचनाओं को संग्रहित करना संभव हो सका। पंच कार्ड के अविष्कार करने का श्रेय हरमन हॉलेरिथ को दिया जाता है। सन 1896 में हरमन हॉलेरिथ एक कंपनी का निर्माण किया और कंपनी में टेबुलेटिंग मशीन बेचा करते थे। 1924 में कंपनी अन्य कंपनी से विलय होकर आईबीएम कंपनी बनी।

सन 1911 में संयोजित कंप्यूटिंग टेब्लिंग रिकॉर्डिंग कंपनी। 1924 में आईबीएम कंपनी का नाम दिया गया। जो इंटरनेशनल बिजनेस मशीन कॉर्पोरेशन के नाम से जाने जाने लगी।

एबीसी क्या है? (What is ABC)

सन 1945 में एटानासोफ और किलफर्ड बेरी द्वारा एक डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक मशीन को विकसित किया गया। एटाना सॉफ और क्लिफर्ड बेरी कंप्यूटर, जिससे इंग्लैंड में बनाया गया था। एटानासॉफ बेरी कंप्यूटर (Atanasoff-Berry Computer) सबसे पहला स्वचालित इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल कंप्यूटर था। जिसका नाम एबीसी (ABC) रखा गया। ABC- शब्द Atanasoff-Berry Computer का संक्षिप्त रूप है।

यांत्रिक और विद्युत संगणक (Machanical and Electrical Computer)

19वीं शताब्दी के प्रारंभ में सभी प्रकार के गणितीय सवालों को हल करने के लिए यांत्रिक संगणक विकसित किया गया था। सन 1960 की शताब्दी तक इसका प्रयोग व्यापक रूप से होता था। बाद में यांत्रिक संगणक के घूमने वाले भाग के स्थान पर विद्युत मोटर लगाई गई। इसलिए यह विद्युत संगणक कहलाता था।

आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर (Modern Electronic Computer)

सन 1960 की शताब्दी में प्रयुक्त Electronic Calculator Electron Tube से चलता था। जो बहुत बड़ा था। बाद में इन ट्यूबों का स्थान ट्रांजिस्टर ने ले लिया। जिसके फलस्वरूप कैलकुलेटरों  का आधार बहुत छोटा हो गया।

आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक कैलकुलेटर (Modern Electronic Calculator) गणित के सभी प्रकार के गणितीय कार्य कर सकता है। इसका प्रयोग कुछ आंकड़ों को अस्थाई रूप से सुरक्षित रखने के लिए भी किया जा सकता है। कुछ कैलकुलेटरों में जटिल गणना करने के लिए उनमें अंतर निर्मित क्षमता होती है।

सन 1950 में आधुनिक कंप्यूटर के विकास के साथ यूरोप के बाजार में उतारा गया। सभी कंप्यूटर इलेक्ट्रॉनिक हुआ करते थे। मार्क -1 और इसके आसपास के कंप्यूटर अस्तित्व में आए थे। जैसे ENIAC, EDSAC, EDVAC, LEO, UNIVAC-1 इत्यादि। यह कंप्यूटर विकास की प्रथम पीढ़ी के रूप में माना जाता है।

आपने की सीखा? 

दोस्तों आज की पोस्ट में मैंने कंप्यूटर के इतिहास के बारे में जानकारी देने की पूरी कोशिस की है। आशा करता हूँ आपको मेरी आज की पोस्ट अच्छी लगी होगी। अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। और अगर किसी प्रकार की कोई प्रश्न हो तो कमेंट करे। धन्यवाद!

ये मेरे पहले के पोस्ट देखना न भूलें।

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

Generation of Computers, Knowledge of Computer Generations 2022

 

कंप्यूटर की पीढ़ियां (Generations Of Computers)

 Generation of Computers आज के वर्तमान Generation में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं होगा, जिन्होंने Computer शब्द का नाम नहीं सुना होगा। आपने अपने घर में। ऑफिस में, कॉलेज में, अस्पतालों में विश्वविद्यालय में। या कोई भी संस्था आदि में कंप्यूटर का प्रयोग जरूर देखा होगा। या प्रयोग किया होगा। आज के कंप्यूटर इतने अधिक फास्ट है। जो कुछ ही क्षणों में बड़े से बड़े गन्ना गणना कर सकते हैं।

आज किसी भी ऑफिस का लगभग 90% काम Computer से होने लगा है लेकिन क्या आपने कभी सोचा है? कि क्या पहले भी इसी तरह के कंप्यूटर थे? पहले के लोगों के पास जब कंप्यूटर नहीं थे, तो वह गणना कैसे करते थे? पहले कंप्यूटर की कीमत क्या थी? ऐसे बहुत से सवाल है जो आपके दिमाग में उठते होंगे।

इन छोटे-छोटे प्रश्नों के जवाब के लिए मैंने आपके लिए आज की यह पोस्ट लिखा है। जिसमें मैं कंप्यूटर के Generation के बारे में बताऊंगा। पहले का कंप्यूटर आज के जैसा नहीं था आज मैं कंप्यूटर कुल 5 Generation के बारे में बताऊंगा।

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]  kaise karen?

ऐसे तो कंप्यूटर का इतिहास काफी पुराना है लेकिन कंप्यूटर की शुरुआत सन 1946 में हुई थी। आज से लगभग 30000 वर्ष पहले एक यंत्र का निर्माण किया गया था जिसका नाम है। यह एक Counting फ्रेम होता है जिसका उपयोग छोटी-छोटी गणनाओं के लिए किया जाता था। ABACUS में हिंदू अरेबिक नंबर सिस्टम का प्रयोग किया गया था। जिसके हर छड़ में 0 से 9 तक की संख्या होती थी।

प्राचीन कंप्यूटर और आज के कंप्यूटर में जमीन आसमान  का अंतर है। वैसे तो इसकी शुरुआत हजारों वर्ष पहले हो चुकी थी। लेकिन इलेक्ट्रॉनिक उपकरण के निर्माण से कंप्यूटर के विकास से काफी मददगार है।

कंप्यूटर के विकास में समय-समय पर तकनीकों में काफी परिवर्तन हुआ है। इन्हीं परिवर्तनों को कंप्यूटर की पीढ़ियों में बांटा गया है। अब देखते हैं कंप्यूटर के पीढ़ियों बारे में।

कंप्यूटर का विकास (Computer Development)

कंप्यूटर का निर्माण जब से प्रारंभ हुआ तब से अब तक निश्चित रूप से कंप्यूटर का इतिहास हमेशा समय-समय पर विकसित होता रहा है। अर्थात बदलता रहा है। जबकि पहले कंप्यूटरों को केवल जोड़ और घटाव गणितीय संचालन के लिए उपयोग किया जा सकता था। परंतु अब इसका उपयोग डिजाइनिंग जैसे अधिक जटिल चीजों के लिए किया जा सकता है।

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

सबसे पहला Electronic Computer का नाम ENIAC (Electronic Numeric Integrator And Computer) था। Computer के विकास में First Generation के कंप्यूटर, Second Generation के कंप्यूटर, Third Generation के कंप्यूटर, Fourth Generation के कंप्यूटर। और अब हम जो कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं उससे पांचवी Generation के कंप्यूटर में कई बदलाव हुए हैं।

कंप्यूटर के पीढ़ियों को निम्नलिखित 5 भागों में बांटा गया है। प्रत्येक पीढ़ी का निश्चित रूप से अपना इतिहास रहा है।

  1. कंप्यूटर की पहली पीढ़ी 1946 से 1956
  2. कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी 1956 से 1964
  3. कंप्यूटर की तीसरी पीढ़ी 1964 से 1971
  4. कंप्यूटर की चौथी पीढ़ी 1971 से 1985
  5. कंप्यूटर की पांचवी पीढ़ी 1985 से अब तक

 

1- कंप्यूटर की पहली पीढ़ी 1946 से 1956 (First Generation of Computers)

कंप्यूटर की पहली पीढ़ी में 1946 से लेकर 1956 तक बनने वाले सभी कंप्यूटर को रखा गया है। 1940 के बाद कंप्यूटर की पहली पीढ़ी कंप्यूटर के निर्माण के लिए एक बुनियादी कंपोनेंट के रूप में जाने जाते हैं। जो Vaccum Tube उपयोग करके बनाई गई थी। परंतु Vaccum Tube को सही नहीं माना जाता है। क्योंकि यह बहुत जल्दी गर्म होती है। और इसके लिए बहुत ज्यादा मात्रा में बिजली की आवश्यकता होती है।

Electronic Numeric Integrator And Computer यह कंप्यूटर की पहली पीढ़ी का एक उदाहरण है। जे प्रॉस्पर एकेर्ट और जॉन मौच्ली ने  पेनसिलवेनिया यूनिवर्सिटी में 18000 वैक्यूम ट्यूबों का उपयोग करके ENIAC का निर्माण किया।

ENIAC प्रोग्राम बनाने में 3 साल का समय लगा। हालाँकि इसे 1942 से डिजाईन किया गया था। यह केवल 1943 में शुरू हुआ और इसका निर्माण 1946 में पूरा हुआ। ENIAC का आकार इतना बड़ा था कि यह 500 मीटर स्क्वायर स्थान घेरता था।

इसके अलावा ENIAC 75000 रिले और स्विच, 18000 ट्यूब, 70000 प्रतिरोधक और 10,000 कैपेसिटर का उपयोग करके बनाया गया था। ऑपरेशन में ENIAC को एक बहुत बड़ी मात्रा में इलेक्ट्रिसिटी की आवश्यकता होती थी, जो 140 किलो वाट है।

कंप्यूटर की पहली पीढ़ी में प्रयुक्त भाषा मशीन लैंग्वेज का उपयोग किया गया। यह भाषा प्रोग्रामिंग भाषा में बेसिक भाषा है। और इससे केवल कंप्यूटर द्वारा समझा जा सकता है।

प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं (Features of first generation computers)

  • कंप्यूटर निर्माण के लिए सरल  थे और कंप्यूटर में डाटा स्टोरेज की भी सुविधा बनाई गई थी।
  • प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर में डाटा भंडारण के लिए चुंबकीय ड्रम का उपयोग होता था।
  • डाटा को सुरक्षित रखने के लिए पंच कार्ड का उपयोग होता था।
  • इस पीढ़ी के कंप्यूटर में प्रयुक्त भाषा असेंबली तथा मशीन भाषा थी। जहां सभी निर्देशों तथा डाटा 0 तथा 1 में दिया जाता था।
  • यह उस समय के अन्य उपकरणों की तुलना में तेजी से काम करने में सक्षम था।

प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर की कमियां (Disadvantages of first generation computers)

    • प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटर का आकार काफी बड़ा था, लगभग 1 बड़े घर के आकार का इसलिए पोर्टेबल नहीं था। इस उपकरण का वजन लगभग 30 टन था।
    • प्रथम की पीढ़ी के कंप्यूटर में बहुत अधिक हीटिंग की समस्या थी और बिजली की खपत भी बहुत अधिक थी।
    • निर्देशों के आधार पर परिणाम बहुत देर से प्राप्त होते थे।
    • इस पीढ़ी के कंप्यूटर बहुत महंगे थे।
    • इस मशीन को हीटिंग नियंत्रण की आवश्यकता थी।
    • इसकी भाषा को केवल कंप्यूटर के द्वारा ही समझा जा सकता था।

कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी (Second Generation of Computers) 1956- 1964

इस पीढ़ी के अंतर्गत 1956 से लेकर 1964 तक बनने वाले सभी कंप्यूटर को रखा गया है। 1956 में Vaccum Tube को जो पहली पीढ़ी का बुनियादी उपकरण था। उससे ट्रांजिस्टर द्वारा बदल दिया गया था।

यह मुख्य उपकरण का प्रतिस्थापन किया जाता है क्योंकि ट्रांजिस्टर को Vaccum Tube की तुलना में बेहतर माना जाता है। इस ट्रांजिस्टर का आविष्कार 1947 में विलियम शॉक्ली तथा उनकी सहयोगी टीम द्वारा अमेरिका में किया गया था। एक ट्रांजिस्टर का उपयोग करके कंप्यूटर का आकार Vaccum Tube का उपयोग करने की तुलना में छोटा हो जाता है।

ऑपरेशन के लिए भी बिजली की कम खपत होती है। छोटे आकार के साथ यह दूसरी पीढ़ी का कंप्यूटर विश्वविद्यालयों, कंपनियों से लेकर सरकार तक में इसका उपयोग किया जाने लगा। इन कंप्यूटर को चलाने के लिए एक से दो व्यक्ति पर्याप्त होते थे। इन्हें एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाना बहुत मुश्किल था। क्योंकि यह आकार में काफी बड़े थे।

इस तकनीकी का उपयोग सबसे पहले सुपर कंप्यूटर में किया गया था। आईबीएम ने स्प्रे रैंड और स्ट्रेच नामों के सुपर कंप्यूटर बनाएं। आईबीएम ने परमाणु ऊर्जा का उपयोग करके प्रयोगशाला में विकसित LARC नाम से कंप्यूटर भी बनाया।

1965 में विभिन्न बड़ी कंपनियों ने सूचना को संशोधित करने के लिए दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर का उपयोग करना प्रारंभ कर दिया।

कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी की विशेषताएं (Features of first generation computers)

  • दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में मशीन लैंग्वेज के बदले Fortran और Cobol, Algol जैसे High Level Language का प्रयोग किया गया।
  • डाटा को सुरक्षित रखने के लिए External Memory के रूप में Magnetic Disk Punch Card और Magnetic Tape आदि का प्रयोग हुआ।
  • कंप्यूटर पर डाटा Stored रखने के लिए Magnetic Drum के बजाय मैग्नेटिक मेमोरी का प्रयोग हुआ।
  • पहली पीढ़ी की तुलना में कर्म Heating का उत्पादन।
  • पहली पीढ़ी के कंप्यूटरों की तुलना में अधिक विश्वसनीय।
  • पहली पीढ़ी की तुलना में आकार में छोटा और तेज, बिजली की खपत में बहुत कमी, इस पीढ़ी के कंप्यूटर की कीमत बहुत कम थी।

कंप्यूटर की तीसरी पीढ़ी (Third Generation of Computers) 1964- 1971

इस पीढ़ी के अंदर 1964 से 1971 तक बनने वाले सभी कंप्यूटर को रखा गया है। कंप्यूटर की तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर को Transistor के बजाय एक Integrated Circuit (IC) का उपयोग करके बनाया गया था।

Integrated Circuit का आविष्कार 1998 में Texas Instruments कंपनी के एक इलेक्ट्रिक इंजीनियर जैक किल्बी द्वारा किया गया था।

इस पीढ़ी में पहली बार Operating System के साथ Keyboard और Monitor का उपयोग किया गया था। इसके अलावा इस पीढ़ी के कंप्यूटर को बनाने में होने वाली लागत बहुत सस्ती थी। ताकि आम जनता इससे उपयोग कर सके। इस पीढ़ी के कंप्यूटर में पास्कल और फोट्रोन जैसे उच्च स्तरीय भाषा का प्रयोग किया गया था।

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर का परफॉर्मेंस दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर से काफी तेज था। इससे कंप्यूटर की दूसरी पीढ़ी को छोड़ दिया जाने लगा। जब इसकी तुलना पुराने कंप्यूटर से की जाती है तो देखा जाता है कि इस पीढ़ी कंप्यूटर में बहुत तेजी से बदलाव आया है। साथ ही इसका आकार, ऊर्जा की खपत, तथा कीमत आदि में भी कमी पाई।

तीसरी पीढ़ी की कंप्यूटर की विशेषताएं (Features of Third Generation Computers)

  • तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में Transistor के स्थान पर Integrated Circuit का इस्तेमाल किया गया।
  • दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर की अपेक्षा इसकी लागत कम थी।
  • दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर से कम बिजली खपत करता था।
  • पहली पीढ़ी के कंप्यूटर की तुलना में इस कंप्यूटर की गति 10000 गुना थी।
  • तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग हुआ जिससे मल्टिप्रोसेसिंग किया जा सकता था।

कंप्यूटर की चौथी पीढ़ी (Fourth Generation of Computers) 1971 – 1985

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर के अंदर 1971 से लेकर 1985 तक आने वाले सभी कंप्यूटर को रखा गया है। यह पीढ़ी के कंप्यूटर Circuit और Components के आकार को काम करने के साथ स्पष्ट विकास लक्ष्य के साथ बनाई गई थी।

इस पीढ़ी में Integrated Circuit के बजाय वेरी Very Large Scale Integration (VLSI) का प्रयोग किया गया जिसे माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor) के नाम से भी जाना जाता है।

Micro Processor के आने से Micro Computer का निर्माण हुआ। यह कंप्यूटर आसानी से पोर्टेबल था तथा इन्हें Table पर रख कर भी इस्तेमाल किया जा सकता था। यह कंप्यूटर User Friendly थे इन्हें समझना आसान था।

1984 में Apple ने पहली बार Macintosh को कंप्यूटर डिवाइस से चलाने के लिए एक Operating System के रूप में इस्तेमाल किया। कंप्यूटर की चौथी पीढ़ी बहुत तेजी से आगे बढ़ी है। यहां तक Mouse, Graphical User Interface और Portable Computer जिन्हें हम लैपटॉप के रूप में जानते हैं, का निर्माण हुआ था।

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं (Features of Fourth Generation Computers)

  • चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर में Integrated Circuit के बजाय Very Large Scale Integration का उपयोग किया गया।
  • चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर व्यक्तियों के लिए उपयुक्त था।
  • यह कंप्यूटर कुशल थे और इन्हें लैपटॉप की तरह कहीं भी ले जा सकता था। 
  • मेमोरी के स्थान पर Semiconductor Memory और Microprocessor का प्रयोग किया गया।
  • इस पीढ़ी के कंप्यूटर पर कार्य करने के लिए Operating System तथा कई सॉफ्टवेयर तैयार किए गए जैसे Word Processing, Spreadsheet, Database पर कार्य करना आसान हो गया।
  • इस पीढ़ी के कंप्यूटर को बहुत कम Air Conditioning की जरूरत होती थी।

कंप्यूटर के पांचवी पीढ़ी (Fifth Generation of Computers) 1985 से अब तक 

 

कंप्यूटर की पांचवी पीढ़ी के अंदर 1985 से लेकर अभी तक। तथा भविष्य में बनने वाले कंप्यूटर को रखा गया है। इस पीढ़ी के कंप्यूटर को परिभाषित करना कठिन है। क्योंकि यह कंप्यूटर अभी भी बनाने की प्रक्रिया में है।

इस पीढ़ी के कंप्यूटर में कृत्रिम बुद्धिमत्ता या Artificial Intelligence का प्रयोग किया जा रहा है। जो कंप्यूटर को इंसान के जैसा बनाने का माध्यम है। इससे यह कंप्यूटर मनुष्य के साथ बातचीत करने। और Voice के आधार पर निर्देशों का पालन करने वाले होंगे।

इस पीढ़ी में सभी उच्च स्तरीय भाषा। जैसे – C और C++, Java, .net आदि का उपयोग किया जाता है। पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर में Very Large Scale Integration Circuit  के स्थान पर Ultra Large Scale Integration Circuit का माइक्रो प्रोसेसर के साथ उपयोग किया गया।

आज के इस तकनीकी से माइक्रोप्रोसेसर के आकार में कमी आई तथा उनके कार्य करने की क्षमता में वृद्धि हुई। इन कंप्यूटर का प्रयोग Designing, Accounting, Research, Gaming, Multitasking आदि ने किया जाने लगा।

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर की विशेषताएं (Features of Fourth Generation Computers)

  • Artificial Intelligence का उपयोग किया गया है। जिसे प्राप्त कर सकते हैं और उनसे बात भी कर सकते हैं, और निर्णय ले सकते हैं।
  • . इस पीढ़ी के कंप्यूटर के भण्डारण क्षमता बहुत अधिक है।
  • . यह कंप्यूटर पिछले चार पीढ़ियों के कम्प्यूटरों की तुलना में सस्ती है।
  • इन कंप्यूटर की आकर काफी छोटा है। जिसे कहीं भी आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाया जा सकता है।

आपने क्या सीखा?

दोस्तों इस पोस्ट में मैंने कंप्यूटर के पांच पीढ़ियों के बारे में जानकारी दिया हूँ। और आशा करता हूं की आपको यह जानकार अच्छी लगी  होगी। यदि आपको मेरा पोस्ट पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों और सहपाठियों के साथ भी शेयर करें।

जिससे उन्हें भी यह जानकारी मिल सके। यदि आपको कंप्यूटर के किसी भी जेनरेशन को लेकर कोई सवाल है, तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। हम आपके सवालों का जवाब जितना जल्दी हो देने का प्रयास करेंगे।

इस पोस्ट को अंत तक पढ़ने के लिए आपको बहुत-बहुत धन्यवाद।

ये मेरे पहले के पोस्ट देखना न भूलें।

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

Operating System Kya hai? Operating System ka Upyog Part 2

Operating System क्या है ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग हिंदी में भाग २

दोस्तों अब तक आप लोग Operating System क्या है? यह कैसे काम करता है? Operating System कितने प्रकार के हैं? इन सब के बारे में सिख चुके हैं। अगर अब तक आपने यह पोस्ट नहीं देखा है। तो इस पोस्ट के नीचे लिंक दिया जा रहा है। आप वहां क्लिक करके देख सकते हैं।

Operating System Kya hai? Operating System ka Upyog Part 2

आइए आज के इस पोस्ट में हम जानते हैं। इसके आगे Operating System के कार्य और इसकी विशेषताओं बारे में के बारे में। तो बिना देर किए आइए चलते हैं। आज के इस पोस्ट की ओर और देखते हैं उपरोक्त विषय के बारे में।

Function of Operating System (ऑपरेटिंग सिस्टम के कार्य)

दोस्तों इतना जानने के बाद अब हमारे मन में प्रश्न आता है। कि आखिर यह Operating System काम कैसे करता है? इसके मुख्य कार्य कौन-कौन से हैं? तो वास्तव में Operating System कई सारे कामों को करता है। यहां तक की पूरे कंप्यूटर को चलाता है। फिर भी इसके कुछ विशेष कार्य है, जो बहुत ही महत्वपूर्ण है। 

Main Function of Operating सिस्टम (ऑपरेटिंग सिस्टम के मुख्य कार्य )

1. Memory Management (मेमोरी मैनेजमेंट)

कंप्यूटर में मुख्य रूप से दो प्रकार की मेमोरी होती है। एक को Primary Memory तथा दूसरे को Secondary Memory कहा जाता है। Primary Memory, RAM (Random Access Memory) और ROM (Read Only Memory) शामिल है। वही Secondary Memory मैं Hard Disk, CD, DVD, और दूसरी चीजें आती है।

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

जब हम अपने कंप्यूटर में कोई सॉफ्टवेयर जैसे कि Photoshop, MS Office, Page Maker आदि Open करते हैं। तो उसे मेमोरी की आवश्यकता होती है। परंतु जब हम एक साथ एक से अधिक प्रोग्राम चलाते हैं। तो हर प्रोग्राम को अलग से मेमोरी की जरूरत पड़ती है।

ऐसे में किस प्रोग्राम को कितनी RAM देनी है। और कितनी ROM यह ऑपरेटिंग सिस्टम निर्णय करता है। साथ ही नए शुरू होने वाले प्रोग्राम को मेमोरी देना करना और बंद होने वाले प्रोग्राम से मेमोरी वापस लेना भी Operating System का ही काम है। 

म एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

अगर एकआसान भाषा में कह तो Operating System कंप्यूटर में चलने वाले सभी प्रोग्राम को मेमोरी बैठता है। और हिसाब किताब रखता है। अर्थात प्रत्येक प्रोग्राम पर नजर रखता है। और पता लगाता है की कौन सा प्रोग्राम कहां क्या कर रहा है? और वहां कितना मेमोरी का उपयोग हो रहा है।

2. CPU Management (सीपीयू मैनेजमेंट)

कंप्यूटर में चलने वाले सभी प्रोग्राम को CPU (Power) की जरुरत पड़ती है। पूरी तरह से Operating System पर निर्भर होता है। क्योंकि CPU Management का काम Operating System ही देखता है। इसलिए किस प्रोसेस या टास्क को प्रोसेसर देना है? और कितनी देर का लिए देना है? यह Operating System ही निर्णय करता है।

किसी विशेष कार्य को प्रोसेसर का एलोकेट करना Processor Scheduling कहा जाता है। इसके अलावा Operating System CPU के प्रत्येक गतिविधि पर नजर रखता है। अर्थात सीपीयू कहां और किस कार्य के लिए प्रयोग हो रहा है। कौन-कौन से कार्य हो रहा है। कौन-कौन से टास्क परफॉर्म कर रहा है, कौन-कौन से टस्क पूरे हो चुके हैं।

और कौन-कौन से टास्क चल रहे हैं। इसका पूरा हिसाब किताब रखता है और ट्रैफिक कंट्रोलर की मदद से CPU के स्टेटस से अवगत करवाता रहता है।

3. File Management (फाइल मैनेजमेंट)

एक कंप्यूटर में अनगिनत फाइल होती है। इसलिए किसी खास फाइल को खोजना बहुत ही मुश्किल भरा काम होता है। परंतु इस मुश्किल काम को आसान भी बनाता है और वह है Operating System. कैसे? दरअसल Operating System फाइलों को अलग अलग फोल्डर और डायरेक्टरी के रूप में व्यवस्थित रखता है और प्रत्येक फाइल का रिकॉर्ड रखता है। जैसे कि Name, Size, Format, Location आदि।

4. Device Management (डिवाइस मैनेजमेंट)

संबंधित एक कंप्यूटर को कई सारे उपकरणों के साथ काम करना पड़ता है। जैसे कि कीबोर्ड, माउस, प्रिंटर, माइक, स्पीकर, वेबकैम, स्टोरेज डिवाइस, वायरलेस डिवाइस, मॉनिटर आदि। परंतु इन सभी उपकरणों को कंप्यूटर के साथ कम्युनिकेट करने के लिए Coordination की जरूरत होती है। क्योंकि बिना कोआर्डिनेशन के कोई भी उपकरण सुचारू रूप से काम नहीं करता है। इसलिए Operating System की आवश्यकता पड़ती है।

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

 Operating System उपकरण को कंप्यूटर के साथ Communicate करने में मदद करता है। और उसे तमाम जरूरी संसाधन मुहैया करवाता है। साथ ही कंप्यूटर से जुड़े सभी उपकरण को मैनेज करता है और उनमें रिसोर्स का बंटवारा करता है। अगर आपके कंप्यूटर में Operating System नहीं होगा, तो वह किसी भी डिवाइस को सपोर्ट नहीं करेगा।

5. Play Mediators Roll (प्ले मेडिएटर्स रोल)

Operating System कंप्यूटर और यूजर के बीच मेडिएटर की भूमिका निभाता है। और कंप्यूटर की बात यूजर को इस तरह दोनों के बीच संवाद स्थापित करने में मदद करता है। हालांकि इसके बारे में ऊपर बात कर चुके हैं इसलिए ज्यादा कुछ कहने की जरूरत नहीं है।

6. Improve Performance (इंप्रूव परफॉर्मेंस)

Operating System कंप्यूटर पर नजर रखता है। और उसे Improve करने की कोशिश करता रहता है। इसके लिए वह प्रत्येक सर्विस Request और Response में लगने वाले टाइम को रिकॉर्ड करता है। और System Health को मॉनिटर करता है। अगर System Response Time Slow होता है। या फिर सिस्टम में कोई गड़बड़ी पाई जाती है, तो Operating System उसके बारे में तुरंत सूचित कर देता है।

7. Secure The System (सिक्योर द सिस्टम)

प्रत्येक उपयोगकर्ता अपने कंप्यूटर में अपना बहुत सारा पर्सनल डाटा स्टोर करके रखता है। और कोई भी यह नहीं चाहता है कि उसके कंप्यूटर से डाटा चोरी हो जाए। या उसका कंप्यूटर हैक हो जाए। क्योंकि डाटा की कीमत सबको पता है। इसलिए प्रत्येक उपयोगकर्ता अपने डेटा की सुरक्षा के लिए हर संभव प्रयास करता है। लेकिन आपको बताना चाहूंगा कि Operating System भी इसमें आपकी पूरी मदद करता है।

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

अर्थात कि आपके सिस्टम को सिक्योर रखने के लिए कई सुरक्षा मुहैया करवाता है। जैसे कि Password Protection और Firewall को ही ले लीजिये। इनकी व्यवसाय आप अपने कंप्यूटर में Unauthorized Users को प्रवेश करने से रोक सकते हैं।

8. Job Accounting (जॉब अकाउंटिंग)

Operating System हर यूजर और हर टास्क का रिकॉर्ड रखता है। जैसे कि किसी उपयोगकर्ता ने कब Login किया? कब कौन सा Task परफॉर्म किया? कौन-कौन से प्रोग्राम्स को उपयोग किया और किस प्रोग्राम को कितनी देर उपयोग किया? इसी तरह प्रत्येक उपयोगकर्ता के प्रत्येक एक्टिविटी का सिलसिलेवार और उपयोगकर्ता को ट्रैक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

9. Error Detection (एरर डिटेक्शन)

जब हमारे कंप्यूटर में कोई दिक्कत आती है। तो Operating System सिस्टम आपको बता देता है। साथ ही उससे फिक्स करने का विकल्प और तरीका भी बता देता है। यहां तक कि आपको गाइड करके उस प्रॉब्लम को फिक्स भी कर देता है। जिसे ट्रबल शूटिंग कहा जाता है। यह आपको हर Operating System में देखने को मिल जाता है।

10. Graphical User Interface (ग्राफिकल यूजर इंटरफेस)

अगर हम कंप्यूटर के बारे में ठीक-ठीक जानकारी रखते हैं। तो आपको CLI (Command Line Interface) और गई (Graphical User Interface) के बारे में जरूर पता होगा। यह दो अलग-अलग यूजर इंटरफेस है। जो कंप्यूटर को ऑपरेट करने के लिए प्रयोग होते हैं। पुराने Operating System कमांड लाइन इंटरफेस के साथ आते थे।

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

इसलिए इन्हें इस्तेमाल करना काफी मुश्किल होता था। क्योंकि हर Command के लिए अलग-अलग Code लिखने पड़ते थे। लेकिन आज के दिन करीब करीब Operating System Graphical User Interface के साथ आते हैं। जिनमें Menu Bar, Icons और Button. का प्रयोग होता है।

इसीलिए कमांड देने के लिए सिर्फ माउस क्लिक करना पड़ता है। यानि कि हर कमांड के लिए अलग-अलग Code लिखने नहीं पड़ते हैं। हालांकि Linux Operating System में अभी भी Command Prompt इस्तेमाल होता है। Terminal, Shell, Console जैसे नामों से जाना जाता है। यानी कि CLI और GUI का मिश्रण है।

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Operating System का मुख्य उद्देश्य कंप्यूटर के प्रयोग को आसान बनाना है। और इसके लिए ग्राफिकल यूजर इंटरफे। सबसे अच्छा है। क्योंकि इसकी मदद से कोई भी कंप्यूटर का प्रयोग कर सकता है। इसके लिए Command Codes की किताब लेकर नहीं बैठना पड़ता है।

Characteristics of Operating System (ऑपरेटिंग सिस्टम की विशेषताएं)

अब सवाल यह आता है कि Operating System की क्या-क्या विशेषताएं होती है? या यूं कहें कि एक ऑपरेटिंग सिस्टम की मुख्य विशेषताएं कौन-कौन सी है? तो आइए जानते हैं Operating System की मुख्य विशेषताओं के बारे में।

1 Operating System, Graphical User Interface प्रदान करता है। जो कंप्यूटर के उपयोग को आसान बनाता है।

2 Operating System विभिन्न हार्डवेयर कंपोनेंट्स के साथ Coordinate करता है। और हार्डवेयर डिवाइस के साथ उसी की भाषा में कम्युनिकेट करता है। इसके लिए यह एक खास Translation Software का उपयोग करता है। जिसे डिवाइस ड्राइवर के नाम से जाना जाता है।

3 . Operating System सॉफ्टवेयर को रन करने के लिए एक एनवायरनमेंट प्रदान करता है। और प्रत्येक सॉफ्टवेयर को जरूरी संसाधन मुहैया करवाता है।

4 Operating System Primary Memory, Secondary Memory और CPU को मैनेज करता है। और विभिन्न प्रोग्राम और Task को मेमोरी और CPU पावर Distribute करता है।

5 . यह कंप्यूटर में मौजूद तमाम फाइल्स को मैनेज करता है और इन्हें Directory के रूप में व्यवस्थित रखता है। साथ ही फाइल्स और फोल्डर को Copy, Move, Rename और Delete करने की सुविधा देता है।

6 यह सिस्टम हेल्थ को मॉनिटर करता है। और Performance को Improve करने में मदद करता है।

7 . यह Hardware और Software दोनों को मैनेज करता है। और इनके बीच तालमेल बिठाकर कंप्यूटर और अन्य प्रोग्राम को सही ढंग से चलाने में मदद करता है।

यह Password Firewall और अन्य तकनीकों की मदद से सिस्टम को सुरक्षित रखने में मदद करता है। और Error तथा Malwares के बारे में जानकारी देता है। साथ ही Error को फिक्स करने में भी मदद करता है।

8 यह Hardware और Software दोनों को Manage करता है। और इनके बीच तालमेल बिठाकर कंप्यूटर और अन्य प्रोग्राम्स को सही ढंग से चलाने में मदद करता है। 

9 यह कंप्यूटर यूजर और कंप्यूटर हार्डवेयर के बीच सामंजस्य बिठाता है और कम्युनिकेट करने में मदद करता है।

10 यह एक कंप्यूटर के तमाम उपयोगकर्ताओं और उनके द्वारा परफॉर्म किए गए टास्क का रिकॉर्ड रखता है। और प्रत्येक उपयोगकर्ता की प्रत्येक एक्टिविटी का तारीख और समय वार हिसाब रखता है। यानी कि एक तरफ से पूरी लॉगबुक मेंटेन करके रखता है।

What have you learn (आपने क्या सीखा?)

आज की इस पोस्ट में Operating System क्या है? इस पोस्ट की कुछ भाग इससे पहले के पोस्ट में देख चुके हैं। जिसमे आप Operating System के कार्य तथा उसकी विशेषताओं के बारे विस्तार से पढ़ चुके हैं। इस पोस्ट को  पढ़ने के बाद आप किसी भी तरह का परीक्षा के लिए उपयोग कर सकते हैं। यह सभी तरह की परीक्षाओं के लिए बहुत जरुरी है। यह पोस्ट आपको अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों को भी शेयर करे। 

ये मेरे पहले के पोस्ट देखना न भूलें।

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

What is Operating System types of operating system 2022

 What is Operating System? ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है ?

दोस्तों अब तक आपने कोई ना कोई फोन, कंप्यूटर या लैपटॉप का  प्रयोग किए होंगे। और इन्हें प्रयोग करने के दौरान कभी ना कभी एंड्रॉयड Operating System और विंडोज़ का नाम तो जरूर सुना होगा। यह सभी कुछ प्रसिद्ध Operating System है जो Smartphone, Tablet, Laptop, Computer, ATM Machines तथा Robots में भी प्रयोग करते हैं। लेकिन दोस्तों क्या आपको पता है?

Operating System Kya hai? Operating System ka Upyog Part 2

यह Operating System क्या होता है? और कौन-कौन से होते है। तथा यह कैसे काम करता है? अगर नहीं तो यह पोस्ट आपके लिए ही है। क्योंकि आज की इस पोस्ट में मैं इसी के विषय में विस्तार से बता रहा हूं।

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि एक कंप्यूटर सिर्फ बायनरी संख्या प्रणाली अर्थात बायनरी भाषा को समझता है और उसी में Communicate करता है, परंतु जब हम अपने कंप्यूटर को निर्देश देते हैं तो वह बायनरी भाषा में ना होकर हिंदी, अंग्रेजी या फिर किसी अन्य भाषा में हो फिर भी कंप्यूटर समझ जाता है। और हमारा काम को आसान बना देता है।

ऐसे प्रश्न यह आता है कि आखिर कंप्यूटर को इन निर्देशों को समझाता कौन है? यह समझता कैसे हैं? तो दोस्तों यहां पर कंप्यूटर को Operating System की जरूरत होती है।

ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है? (What is Operating System?)

Operating System एक सिस्टम सॉफ्टवेयर है जिसे Operating System के नाम से भी जाना जाता है। यह प्रोग्रामों का एक सेट है। जिसमें कंप्यूटर के लिए अनगिनत निर्देश होते हैं। जब हम कंप्यूटर को कोई काम करने का आदेश देते हैं तो वह इन्हीं निर्देशों की मदद से उसे पूरा करता है।

अर्थात कह सकते हैं कि Operating System कंप्यूटर का मुख्य सॉफ्टवेयर होता है। अन्य सॉफ्टवेयर प्रोग्राम को चलाता है। जैसे Windows Operating System, VLC Player, Winamp Player, Microsoft Office, Photoshop आदि सभी Application Software को चलाता है ।

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Operating System को इसे ऐसे भी जान सकते हैं-

  1. Operating System एक सॉफ्टवेयर है जो कि कंप्यूटर तथा प्रयोगकर्ता के बीच इंटरफेस की तरह कार्य करता है। इससे सिस्टम सॉफ्टवेयर कहते हैं।
  2. यह कंप्यूटर में लोड होने वाला पहला प्रोग्राम होता है। इसे प्रोग्रामों का प्रोग्राम भी कहा जाता है।
  3. सॉफ्टवेयर Operating System कंप्यूटर के सभी कार्य को मैनेज करता है।
  4. Operating System दो प्रकार के होते हैं-
    1. कैरेक्टर यूजर इंटरफेस (CUI= Character User Interface) – यह यूजर फ्रेंडली नहीं होता है तथा इस OS को चलाने के लिए हमेशा कमांड को टाइप करना पड़ता है। जैसे DOS एक CUI ऑपरेटिंग सिस्टम है। 
    2. ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (GUI= Graphical User Interface)- यह यूजर फ्रेंडली होता है और इस Operating System को चलाने के लिए कमांड नहीं देनी पड़ती है। बल्कि जिस प्रोग्राम को ओपेन करना है उसमे माउस से क्लिक करना पड़ता है। जैसे Windows एक GUI Operating System है। 
  5. बिना किसी Operating System के एक कंप्यूटर यूजलेस होता है

 

TYPES OF OPERATING SYSTEM

Operating System कई प्रकार के होते हैं। जैसे उपयोग के आधार पर, कार्य के आधार पर और डाटा प्रोसेसिंग के आधार पर। Operating System के अलग-अलग प्रकार है। तो आइए जानते हैं इसके सभी भागों के बारे में विस्तार से एक-एक करके-

Batch Processing Operating System-

Batch Processing Operating System का उपयोग खासतौर पर ऐसे कार्यों के लिए किया जाता है, जहां कम समय में अधिक डाटा प्रोसेसिंग करने की जरूरत पड़ती है। क्योंकि यह Operating System डाटा को बैच के रूप में प्रोसेस करता है। अर्थात एक जैसे डाटा  को समूहों के रूप में निष्पादित किया जाता है। और यह पूरी तरह से स्वचालित होती है।

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

 इस ऑपरेटिंग सिस्टम को उपयोगकर्ता सीधे अपने कंप्यूटर से संपर्क नहीं करता है बल्कि ऑफलाइन मोड में काम करता है। और जब काम पूरा हो जाता है, तो कंप्यूटर ऑपरेटर के पास भेज देता है। फिर कंप्यूटर ऑपरेटर एक जैसे डाटा का बैच बनाता है। और उसे समूह में निष्पादित करता है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम को खासतौर पर ऐसे कार्यों में उपयोग किया जाता है जहां बड़ी मात्रा में डाटा प्रोसेस करना होता है।

Time Sharing Operating System

इस ऑपरेटिंग सिस्टम की मदद से एक समय में एक से अधिक उपयोगकर्ता अलग-अलग टास्क कर सकते हैं। इसलिए इसे मल्टीटास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम भी कहा जाता है। ये बात अलग है कि सारे उपयोगकर्ता मिलकर एक ही सिस्टम का उपयोग करते हैं, परंतु प्रत्येक टास्क को एक निश्चित समय दिया जाता है। इसलिए सभी उपयोगकर्ता को बराबर मौका मिलता है।

अगर आसान शब्दों में कहा जाए तो इसमें सीपीयू टाइम को उपयोग कर्त्ता के बीच शेयर किया जाता है। और प्रत्येक टास्क को बराबर समय दिया जाता है। जिसे Time Quantam कहा जाता है। जब एक एक टास्क पूरा हो जाता है तो दूसरा टास्क को निष्पादित किया जाता है। और उसके बाद तीसरे, चौथे, पांचवें आदि। इस तरह एक के बाद एक सभी टास्क को क्रमबद्ध तरीके से निष्पादित किया जाता है।

Distributed Operating System-

इस  Operating System में बहुत सारे सिस्टम होते हैं जो एक नेटवर्क के रूप में काम करते हैं। इसमें सारे सिस्टम एक शेयर्ड कम्युनिकेशन नेटवर्क के माध्यम से जुड़े हुए होते हैं। और मिलकर काम करते हैं। साथ ही प्रत्येक सिस्टम के पास अपना CPU, Primary Memory, Secondary Memory और बाकी सारे Resources होते हैं। इसलिए प्रत्येक सिस्टम Individually भी काम कर सकते हैं।

Multiprocessing Operating System-

इसमें एक ही कार्य को Multiprocessor मिलकर पूरा करते हैं। इसलिए इसे Multiprocessing Operating System भी कहा जाता है। परंतु यह सामान्य उपयोगकर्ता के लिए नहीं है। क्योंकि एक समान उपयोगकर्ता को इतनी ज्यादा कंप्यूटिंग पावर की जरूरत ही नहीं पड़ती है, तो फिर यह किसके लिए बनाया गया है। और इसका प्रयोग किसके लिए किया जाता है।

जी हां इसका उपयोग में Supper Computers में होता है। क्योंकि इसकी कंप्यूटिंग पावर और स्पीड अकल्पनीय है। साथ ही इसका काम करने की तरीका एकदम अलग है। यह एक को Task को कई सारे Sub-Task में बांटता है। और हर Task को अलग-अलग CPU से पूरा करवाता है। इसलिए बहुत कम समय में टास्क पूरा हो जाता है।

Network Operating System-

यह एक सर्वर Based ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसमें कई सारे कंप्यूटर मिलकर एक नेटवर्क के रूप में कार्य करते हैं। अर्थात कि सारे कंप्यूटर एक प्राइवेट नेटवर्क के जरिए आपस में जुड़े होते हैं। और एक ही सर्वर पर काम करते हैं। इसलिए सर्वर में मौजूद डाटा को सारे कंप्यूटर एक्सेस कर सकते हैं। बस उनके Login ID और Password होना चाहिए।

इसका सबसे अच्छा उदाहरण है बैंक अगर आपने कभी बैंक गए होंगे। तो वहां देखे होंगे कि वहां कई सारे कंप्यूटर होते हैं। और सभी कंप्यूटर एक ही सर्वर से जुड़े होते हैं इसलिए जब आप अपने बैंक अकाउंट से जुड़े कोई भी काम करवाने जाते हैं। तो वहां मैनेजर से लेकर कैशियर तक हर कोई आपका अकाउंट को एक्सेस कर सकता है।

Real Time Operating System

रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम एडवांस ऑपरेटिंग सिस्टम है। जो डाटा को रियल टाइम में प्रोसेस करता है इसकी मदद से बेहद कम समय में बहुत ही ज्यादा और महत्वपूर्ण काम किया जा सकता है। खासकर तब जब गणना महत्वपूर्ण हो, और समय बहुत कम हो।

जैसे की Satellite Launch करते समय या फिर Guided Missiles को ऑपरेट करते समय इसकी सबसे ज्यादा जरूरत पड़ती है। Real Time Operating System दो प्रकार के होते हैं एक हार्ड रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम और दूसरा सॉफ्ट रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम। अब आप कहेंगे कि इन दोनों में फर्क क्या होता है। तो फर्क बस इतना ही है कि हार्ड रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम वक़्त का पाबंद होता है। अर्थात की हर काम दिए गए समय में पूरा कर देता है। जबकि सॉफ्ट टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम समय का इतना ज्यादा पाबंद नहीं होता है।

Embedded Operating System

यह ऑपरेटिंग सिस्टम नन-कंप्यूटर उपकरण के लिए बनाया गया है। अर्थात उन उपकरणों के लिए जो कंप्यूटर नहीं है। जैसे की Lifts, Petrol Pump,  ATM Machine, POS Machine, Phones, Smart watches आदि। इन सभी उपकरणों मैं Embedded ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल किया जाता है। एम्बेडेड ऑपरेटिंग सिस्टम की खास बात यह है कि उपकरण के हिसाब से बनाया जाता है। अर्थात जिस उपकरण के लिए बनाया जाता है सिर्फ उसी में काम करता है।

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की इस पोस्ट में मैंने ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे विस्तार से पूरी जानकारी देने की पूरी कोशिश की है परन्तु यह पोस्ट अधिक लम्बा होने के कारन इस पोस्ट में इतना ही जानकारी दी है। इस पोस्ट की अगला भाग अगले पोस्ट में दूंगा। तो दोस्तों मेरा इससे आगे की पोस्ट देखना न भूले। और मेरी पोस्ट आपको अच्छी लगती है कृपया कमेंट करे। और अपने दोस्तों को भी शेयर करें। 

ये मेरे पहले के पोस्ट देखना न भूलें।

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

Excel में Count, IF, Maximum, Minimum का प्रयोग हिंदी  में [2022]

Excel में Count, IF, Maximum, Minimum का प्रयोग हिंदी  में [2022]

दोस्तों पीछे के पोस्ट हमने सीखा एक्सेल की SUM, SUBTRACTION, MULTIPLICATION, DIVISION, PERCENT, AVERAGE और DIVISION FORMULA का उपयोग कैसे करते हैं। इन सबके बारे में विस्तार से। एक्सक्ल में सिर्फ इतना ही फॉर्मूला नहीं है, और भी बहुत सरे हैं।

तो दोस्तों आज की पोस्ट में इससे आगे की COUNT, IF, MAXIMUM, MINIMUM फॉर्मूला के बारे में हम सीखेंगे। अगर अब तक आप मेरे पीछे के पोस्ट नहीं पढ़ें हैं तो नीचे लिंक दिया गया है उस पर क्लिक करके सीधे पोस्ट पर जा सकते हैं। 

तो दोस्तों आज को पोस्ट में आइये सीखतें हैं COUNT, IF, MAXIMUM, MINIMUM आदि फॉर्मूला के बारे में एक एक करके। तो बिना देर किये चलते हैं अपने आज को पोस्ट की ओर, पुरे पोस्ट को पढ़ने के लिए अंत तक देखें। 

COUNT, IF, MAXIMUM, MINIMUM का उपयोग 

Excel में Count, IF, Maximum, Minimum का प्रयोग हिंदी  में [2022]

COUNT FORMULA का उपयोग 

COUNT FORMULA का काम सेल की एक रेंज में उन सभी सेल्स को काउंट करना होता है जिसजे नम्बर्स या डाटा मौजूद रहता है। 

Example :- =COUNT(value1, value2, ……)

जैसे अगर आपकी वर्कशीट में सेल A1 से लेकर सेल A8 तक डाटा एंटर किया गया है। जिसमे कुछ सेल खली है। अब इसमें देखना है की कितनी सेल में data/Number हैं। इसके लिए COUNT FORMULA का प्रयोग किया जायगा। 

FORMULA =COUNT(A1:H1)

Excel में Count, IF, Maximum, Minimum का प्रयोग हिंदी  में [2022]

IF FORMULA का उपयोग 

दोस्तों IF फार्मूला का उपयोग बहुत ज्यादा किया जाता है। जब भी किसी गई गई कंडीशन का टेस्ट किया जाता है और उसके टुरे परिणाम के लिए एक वैल्यू तथा फालसे परिणाम के लिए अन्य वैल्यू देता है। 

Example :- =IF(Logical_test, value_if_true, value_if_false)

उदहारण के लिए एक कंपनी की यह कंडीशन है। यदि को कर्मचारी एक दिन में 10000 से ऊपर की सेल करता है तो कमीशन के लिए Yes लगाए। और यदि 10000 से कम सेल करता है तो कमीशन No लगाए। 

Formula =IF(B2>C2,”Yes”,”No”)

Excel में Count, IF, Maximum, Minimum का प्रयोग हिंदी  में [2022]

MAXIMUM FORMULA का उपयोग 

दोस्तों जब हम किसी कंपनी या बड़े वर्कशॉप पर जहाँ बहुत सारे एम्प्लोयी काम करते हों। वहाँ हमें अपने एम्प्लोयी किस सैलरी में से ये पता करना हो की आखिर किस एम्प्लोयी को सबसे अधिक सैलरी मिलता है तो एक फॉर्मूला के उपयोग से आसानी से पता कर सकते हैं। 

उसके लिए आपको एक फॉर मैक्सिमम का फार्मूला का उपयोग करना होगा जो नीचे दिया गया है। 

Example :- =MAX(CELL RANGEFIRST:CELL RANGE LAST)

Formula =MAX(B2:B13)

Excel में Count, IF, Maximum, Minimum का प्रयोग हिंदी  में [2022]

MINIMUM FORMULA का उपयोग 

दोस्तों जब हम किसी कंपनी या बड़े वर्कशॉप पर जहाँ बहुत सारे एम्प्लोयी काम करते हों। वहाँ हमें अपने एम्प्लोयी किस सैलरी में से ये पता करना हो की आखिर किस एम्प्लोयी को सबसे कम सैलरी मिलता है तो एक फॉर्मूला के उपयोग से आसानी से पता कर सकते हैं। 

Example :- =MAX(CELL RANGEFIRST:CELL RANGE LAST)

Formula =MIN(B2:B13)

Excel में Count, IF, Maximum, Minimum का प्रयोग हिंदी  में [2022]

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की पोस्ट में मैंने आपको एक्सेल की कुछ बेसिक फार्मूला का उपयोग करना बताया है, जिसके द्वारा आप आसानी से एक्सेल में COUNT, IF, MAXIMUM और MINIMUM FORMULA की मदद से निकल सकेंगे। तो दोस्तों इसी तरह की और जानकारी प्राप्त करने के लिए मेरी पोस्ट को ज्वाइन करें। 

ये मेरे पहले के पोस्ट देखना न भूलें।

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

MS Excel में Formula का उपयोग कैसे करें [2022]

MS Excel में Formula का उपयोग कैसे करें [2022]

दोस्तों आज के समय में सभी अपने कामों को जल्दी करना चाहते हैं। जिसके लिए अलग अलग काम को करने के लिए अलग अलग तरह की मशीनों का उपयोग करते हैं। उसी तरह अपने दैनिक जीवन के आय – व्यय या अन्य कई तरह का हिसाब- किताब का रिकॉर्ड करने या कहें उसका एंट्री करने के लिए कई तरह का सॉफ्टवेयर का प्रयोग करते हैं।

जिनमे उन सॉफ्टवेयर के लिए पैसे देने पड़ते हैं। उसी तरह से आप बिना पैसे दिए भी अपने डाटा को मैनेज करने के लिए सॉफ्टवेयर का उपयोग कर सकते हैं। जो दस बिल्कुल फ्री और बहुत ही सरल है। जी हाँ दोस्तों हम बात कर रहे हैं, Microsoft Office  द्वारा प्रयुक्त MS Excel की।

इसमें बहुत ही सरल तरीके से फार्मूला का उपयोग करते हुए अपने डाटा को मैनेज कर सकते हैं। तो दोस्तों आइये आज को पोस्ट में हम सीखते हैं। Microsoft Excel में फार्मूला का उपयोग कैसे करते हैं। 

उससे पहले एक्सेल की कुछ जानकारियां देखते हैं- 

What is MS Excel? ( एक्सेल क्या है?)

English:- MS Excel is a windows based spreadsheet program. It is actually called electronic spreadsheet. It is a part of Microsoft Office, it is a useful and powerful tool for data analysis and documentation.

हिंदी:- माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल विंडोज पर आधारित एक स्प्रेडशीट का प्रोग्राम है। इसे इलेक्ट्रॉनिक स्प्रेडशीट भी कहा जाता है। यह माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस का एक भाग है। जो डाटा विश्लेषण और डॉक्यूमेंटेशन के लिए उपयोगी और शक्तिशाली टूल है। 

What is Spreadsheet? (स्प्रेडशीट क्या है?)

A spreadsheet is a collection of rows and columns. Where you use it to manage and edit your data. In this, we can manage the data using the formula of Microsoft Excel.

स्प्रेडशीट रौ और कॉलम का संग्रह है। जहाँ अपने डाटा को  मैनेज और एडिट करने के लिए इसका प्रयोग करते हैं। इसमें हम माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल की फार्मूला का उपयोग करते हुए डाटा को मैनेज कर सकते हैं। 

Excel Formula:-

MS Excel me Formula एक Expression है जो हमारे द्वारा एक्सेल वर्कशीट पर किसी सेल या सेल्स की एक रेंज में एंटर की गई डाटा या वैल्यूज को गणना करता है। फॉर्मूला ऐसे एक्वेशन्स होते हैं जो कैलकुलेशन के साथ साथ और भी बहुत कुछ कर सकते हैं। 

दोस्तों हम जब भी एक्सेल में कोई फार्मूला का प्रयोग करते हैं तो उसमे सबसे पहले Equal Sign (=) से शुरू होता है, उसके बाद ही Constants होते है, जो Numeric Value और Calculation Operators जैसे Plus (+), Minus (-), Slash (/), Asterisk (∗), या Percentage (%) आदि के Sign होते हैं। 

हम एक्सेल की शीट पर फार्मूला को काम के अनुसार सेट करते हैं। जैसे – जोड़, घटाव, गुणा या भाग। 

Formula Bar:-

Excel Worksheet के ठीक ऊपर और रिबन बार के ठीक नीचे एक पतली पट्टी होती है। हम वर्कशीट के किसी भी सेल में डाटा या फार्मूला लिखते हैं, तो यह Formula Bar में दिखाई देता है। इस फॉर्मूला बार की मदद से हम किसी भी सेल की डाटा या फार्मूला को देख सकते हैं तथा इसे एडिट भी कर सकते हैं। 

अगर हमारे वर्कशीट में किसी वजह से फार्मूला बार दिखाई नहीं दे रहा हो, तो View Tab में क्लिक करके फार्मूला बार को ऑन कर सकते हैं। 

Use of Some Basic Excel Formula

SUM FORMULLA का उपयोग  

Excel में SUM Function का प्रयोग सबसे ज्यादा किया जाता है। इसके द्वारा स्प्रेडशीट में दो या दो से अधिक न्यूमेरिक वैल्यूज का योग (SUM) निकलने के लिए प्रयोग किया जाता है। स्प्रेडशीट में मौजूद डाटा का जोड़ने के लिए आप कई विधि का उपयोग कर सकते हैं। जैसे –

पहला विधि:- अगर आपके पास डाटा शीट में क्रम से Horizontal ya Vertical में लिखा हो। तो उसके लिए फार्मूला का प्रयोग इस तरह से करते हैं। 

Formula =SUM(First Cell Name:Last Cell Name)

=SUM(D2:N2)

दूसरा विधि:- अगर आपके शीट में डाटा अलग अलग सेल में है और उसे आपको जोड़ना है तो भी फार्मूला का प्रयोग करके आप आसानी से जोड़ सकते हैं। उसके लिए दो फार्मूला का प्रयोग कर सकते हैं। 

Example 1:- =SUM(Number1, Number2, Number3……)

Formula =SUM(F3,E6,G5,F8,H7,I5,H4,I2,J8)

Example 2:- =(Number1+ Number2+ Number3+……)

SUBTRACTION FORMULLA का उपयोग  

 दोस्तों जिस तरह से SUM का फार्मूला का प्रयोग करते हैं उसी तरह SUBTRACTION फार्मूला का भी प्रयोग किया जाता है। जैसे – अगर आप दो डाटा जिसमे पहले सेल के डाटा को दूसरे सेल के डाटा में घटना चाहते हैं तो सबसे पहले (=) का SIGN डालें फिर पहले सेल का नाम उसके बाद MINUS चिन्ह (-) उसके बाद दूसरे सेल का नाम। और फिर एंटर के दबाएं।

Example:- =(First Cell-Second Cell)

Formula =D2-E2

दो डाटा को घटने के लिए आप सीधे तरीके से भी घटा सकते हैं उसके लिए भी को फार्मूला का प्रयोग करना पड़ेगा। जैसे- =100-75 फिर एंटर के प्रेस करें।

MULTIPLICATION FORMULLA का उपयोग

EXCEL में वैल्यूज को गुना करने के लिए Multiplication Formula का उपयोग किया जाता है। इसके लिए घटाव फार्मूला की तरह दो सेल के बीच में गुना करने के लिए (*) का उपयोग किया जाता है। जैसे-

Example:- =(First Cell*Second Cell)

Formula =D2*E2

DIVISION FORMULLA का उपयोग

EXCEL में वैल्यूज को Divide करने के लिए Divide Formula का उपयोग किया जाता है। इसके लिए Multiplication फार्मूला की तरह दो सेल के बीच में Forward Slash करने के लिए (/) का उपयोग किया जाता है। जैसे-

Example:- =(First Cell/Second Cell)

Formula =D2/E2

MS Excel में Formula का उपयोग कैसे करें

AVERAGE FORMULLA का उपयोग

अगर आपको Excel में Numbers के एक समूह का औसत निकालना है। इसके लिये Average Function का उपयोग किया जाता है।

4553524646544649

इसके लिए Average फार्मूला का उपयोग करेंगे 

Example:- =Average(First Cell/Last Cell)

Formula =AVERAGE(E2:L2)

MS Excel में Formula का उपयोग कैसे करें

PERCENTAGE FORMULLA का उपयोग

दोस्तों जैसा की हम जानते हैं प्रतिशत एक हिस्सा है 100 का। जिसे जिस संख्या का प्रतिशत निकलना होता है उसे उसके कुल नंबर से भाग दिया जाता है। उसके लिए हम ये फार्मूला का प्रयोग कर सकते हैं। 

Example:- =(Obtain Marks/Total Marks%)

Formula =G5/G4%

MS Excel में Formula का उपयोग कैसे करें

आपने क्या सीखा? 

दोस्तों आज को पोस्ट के माध्यम से है सीखा कैसे हम अपने वर्कशीट के डाटा को जोड़, घटाव, गुणा, भाग, औसत या परितशत निकल सकते हैं। और यह कितना सरल है। आज की पोस्ट में हमने बेसिक फार्मूला का उपयोग के बारे में बताया है, आगे की पोस्ट में एक्सेल की एडवांस फार्मूला के बारे बताऊंगा। तो दोस्तों आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी। अगर अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों को भी शेयर करे और मुझे कमेंट करे। अगर कोई सुझाव हो तो बेशक बता सकते हैं। 

पीछे की post

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

 

Microsoft Power Point me View Tab ka upyog kaise karen [2022]

Microsoft Power Point me View Tab का उपयोग करना [2022]

दोस्तों Microsoft Power Point के अन्य कई टैब के बारे में हम पढ़ चुके हैं, जिसमे है – Home Tab, Insert Tab, Design Tab, Transition Tab, Animation Tab, Review Tab तथा Slide Show Tab आदि के बारे में विस्तार से पढ़ चुके हैं। इसी तरह एक और टैब है जिसका नाम है – View Tab

तो दोस्तों अब आपको पता चल ही गया होगा की हम आज किसके बारे में पढ़ने जा रहे हैं। जी हाँ Microsoft Power Point के अंतिम टैब अर्थात View Tab के बारे में। तो बिना देर किये आइये चलते हैं हमारी आज की पोस्ट View Tab की ओर।

What is View Tab? [ व्यू टैब क्या हैं?]

View Tab- View Tab Power Point प्रोग्राम का एक खास टैब है जिसके द्वारा हम स्लाइड में जो भी काम करते हैं। उसके विभिन्न फॉर्मेट किये गए प्रेजेंटेशन को देखने के लिए करते हैं। इसके द्वारा हम यह निश्चित कर सकते हैं की अपने स्लाइड में रूलर को प्रदर्शित करे या नहीं।

सभी टैब के अलग अलग ग्रुप होते हैं और सभी का अपना अपना कार्य। इसी तरह View Tab के भी कुछ ग्रुप और उनके कार्य हैं। तो आइये देखते हैं View Tab के ग्रुप और उनके कार्य। 

View Tab के ग्रुप के नाम और उनके कार्य 

View Tab के मुख्य रूप से सात ग्रुप हैं। 

  • Presentation Views
  • Master Views
  • Show
  • Zoom
  • Color/ Grayscale
  • Window
  • Macros

⇒Presentation Views Group- 

इस ग्रुप के अंदर और चार ऑप्शंस हैं –

  1. Normal View- जब हम Microsoft Power Point में काम करने के लिए एक ओपन करते हैं तो डिफ़ॉल्ट रूप से नार्मल वेव व्यू ही खुलता है। इसमें आप अपने स्लाइड में किसी भी तरह का डिज़ाइन डिज़ाइन डाल सकते हैं। उसमे एडिट कर सकते हैं। तथा हटाना चाहे तो हटा सकते हैं। अर्थात किसी भी तरह का काम करना है तो वो आप नार्मल व्यू में कर सकते हैं। 
  2. Slide Shorter View- माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट में काम करते शामे आप जीतें भी स्लाइड का प्रयोग करेंगे। उन सारे स्लाइड को एक साथ छोटे छोटे पेज के रूप में डेक सकते हैं। 
  3. Notes Page- इस ऑप्शन का प्रयोग जब में स्लाइड में काम कर रहे हैं। और किसी स्लाइड के बारे में कुछ नोट्स लिखना चाहते हैं। तो आप यहाँ आसानी से दे सकते हैं। 
  4. Reading View/Slide Show View- नार्मल व्यू में आप जितने स्लाइड का प्रयोग करते हैं और उनमे जो प्रेजेंटेशन बनाते हैं। उन सभी को प्रस्तुत करने के लिए रीडिंग व्यू का उपयोग किया जाता है। 

 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

⇒Master views Group- 

इस ग्रुप के अंदर तीन ऑप्शंस आते हैं –

Microsoft Power Point me View Tab

  1. Slide Master- नार्मल view के डिजाइन और लेआउट को बदलने के लिए इस ऑप्शन प्रयोग किया जाता है। साथ ही स्लाइड मास्टर के माध्यम से आप पावर पॉइंट के सभी स्लाइड में वाटर मार्क के रूप कोई डिजाइन दे सकते हैं। और यह सभी स्किड में शो करता है। 
  2. Handout Master- इस कमांड के माध्यम से एक पेज में प्रेजेंटेशन के कितनी स्लाइड को प्रिंट करना हैं। उसको व्यवस्थित किया जाता है। 
  3. Notes Master- इस ऑप्शन के द्वारा नोट्स पेज को प्रदर्शित करने और प्रिंट करने के तरीके को बदलने के लिए किया जाता है। 

⇒Show Group- 

इस ग्रुप में भी तीन ऑप्शन आते हैं। 

  1. Ruler- माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट के स्लाइड में Horizontal और Vertical Ruler को प्रदर्शित करने के लिए। इस ऑप्शन का उपयोग किया जाता है। 
  2. Greedline- स्लाइड के किसी भी प्रेजेंटेशन में Greedline प्रदर्शित करने के लिए इस ऑप्शन का उपयोग किया जाता है। 
  3. Guides – इस कमांड के माध्यम से स्लाइड में ड्राइंग guide को दिखने के लिए  kiya जाता हैं। जिसके द्वारा स्लाइड पर Object को अलाइन कर सकते हैं। 

⇒Zoom Group- 

  • Zoom- माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट के स्लाइड की स्थिति को देखने के लिए। अर्थात (बड़ा/ छोटा) के लिए इस ऑप्शन का उपयोग किया जाता है। 
  • Fit to Window- इस कमांड के प्रयोग से स्लाइड को एक निश्चित साइज में फिट करने के लिए किया जाता है। ताकि अपने स्लाइड को एक साथ पूरा देख सके।

Microsoft Power Point me View Tab

⇒Color/Grayscale Group- 

इस ग्रुप के द्वारा हम कलर से सम्बंधित कार्य करने के लिए करते हैं। 

  • Color- इस कमांड के द्वारा पावर पॉइंट में प्रेजेंटेशन को Color Mood में देखने के लिए किया जाता है। या प्रेजेंटेशन का डिफ़ॉल्ट ऑप्शन होता है।  
  • Grayscale- इस ऑप्शन का प्रयोग में प्रस्तुति को देखने के लिए किया जाता है। ग्रे स्केल टोन के साथ काले और सफेद रंग में प्रस्तुति को दर्शाता है। 
  • Black and White- जब Black and White ऑप्शन को चुना जाता हैं तो प्रेजेंटेशन बिना किसी ग्रे के काले और सफेद रंग में दिखाई जायगी। 

Microsoft Power Point me View Tab

⇒Window Group- 

इस ग्रुप के माध्यम से हम स्लाइड के विंडो को अलग अलग रूप में ओपन कर सकते हैं।

Microsoft Power Point me View Tab

  • New Window- पावर पॉइंट में एक नया विंडो को ओपन करने के लिए इस कमांड का उपयोग किया जाता है। 
  • Arrange All- स्क्रीन में खुले पावर पॉइंट के एक से अधिक विंडो खुलता है। जिसको एक साथ अर्रेंज करने के लिए इस ऑप्शन का प्रयोग किया जाता है। 
  • Cascade- एक साथ खुली एक से अधिक विंडो खुलता है। जिसको एक के ऊपर एक रिस्टोर की स्थिति में अर्रेंज करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। 
  • Move Split- इस ऑप्शन का उपयोग करके आप Slide Pane, Note Pane और Slide Area को घटा बढ़ा सकते हैं।
  • Switch Window- इस स्विच विंडो का उपयोग करके हम एक विंडो से दूसरी विंडो में जा सकते हैं। 

⇒Macros- 

इस Micros ऑप्शन का प्रयोग करके आप अपने स्लाइड में एक तरह के काम बार बार नहीं का उसे रिकॉर्डिंग कर सकते हैं। और जब जब जरुरत हो आप उसे चला कर सकते हैं।

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की इस पोस्ट के माध्यम से मई आपको View Tab से जुडी हर तरह की जानकारी देने की पूरी कोशिश की है। आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी। अगर अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे ताकि उन्हें भी यह जानकारी मिल सके।

और कमेंट box मुझे भी बताये की यह पोस्ट आपको कैसा लगा। और अगर आपके पास भी कोई सुझाव हो तो आप मुझे कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं।

इसे भी देखें! 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

Microsoft Power Point me Review Tab ka upyog karna HIndi Me [2022]

Microsoft Power Point में Review Tab का  उपयोग करना हिंदी में [2022]

दोस्तों हम पिछली पोस्ट में Microsoft Power Point और इसके Tabs – Home Tab, Insert Tab, Design Tab, Transition Tab, Animation Tab तथा Slide Show Tab आदि के बारे में सिख चुके हैं। इन सभी में हमने देखा की कैसे हम इन सभी Tabs का उपयोग कर सकते हैं। और सरल तरीके से अपने Slide को डिजाइन कर सकते हैं, इसमें Transition तथा Animation डाल कर उसे Animate कर सकते हैं।

आइये आज की पोस्ट में सीखते हैं Microsoft Power Point me Review Tab के बारे में।

Microsoft Power Point में Review Tab का  उपयोग करना हिंदी में [2022]

अगर आपने अभी तक मेरे पीछे के पोस्ट को नहीं पढ़ा है तो पेज के दाईं ओर Power Point के केटेगरी में क्लिक कर देख सकते हैं। इसके इस पोस्ट के नीचे भी लिंक दिया गया है वहां से भी क्लिक कर के देख सकते हैं। 

Review Tab Kya Hai? [ रिव्यु टैब क्या है?] 

दोस्तों हम जब भी Microsoft Word, Excel, या Power Point में काम करते हैं तो इसमें एक बहुत ही खास Tab मिलता है। जिसमे काम करते वक्त हम कुछ भी टाइप करते चले जाते हैं और कहाँ पर क्या गलती टाइप किये पता नहीं चलता है। उसी को पता लगाने के लिए Microsoft Office प्रोग्राम में एक खास टैब का प्रयोग किया गया है, जिसका नाम है – Review Tab.

Microsoft Power Point में Review Tab का  उपयोग करना हिंदी में [2022]

 इस टैब के द्वारा हम अपनी Text को पता कर सकते हैं की कहाँ पर गलती है और उसे सुधार सकते हैं। अब तक जितने भी MS Power Point के अनतर्गत आने वाले Tab के बारे में पढ़े हैं। उनमे से सभी मेनू के कई सब ग्रुप्स के बारे देखें। उसी तरह आज की इस पोस्ट में अर्थात Review Tab या मेनू के सब ग्रुप्स के बारे में विस्तार से सीखेंगे। तो आइये देखते हैं क्या है Review Tab.

Review Tab के ग्रुप और इसके कार्य 

दोस्तों इस View Tab के अंदर इसके मुख्य चार ग्रुप्स हैं। 

Microsoft Power Point में Review Tab का  उपयोग करना हिंदी में [2022]

  • Proofing
  • Language
  • Comments
  • Compare

तो दोस्तों आइये जानते हैं इन सभी के बारे में एक एक करके –

⇒Proofing Group

  • Spelling:- दोस्तों इस कमांड के द्वारा आप अपने slide में टाइपिंग करते समय हो रहे गलतियों का पता लगा सकते हैं। और उसे सुधार भी कर सकते हैं। जैसे अगर किसी वर्ड की स्पेलिंग में गलती होती है। तो उसके नीचे Red Line और अगर किसी वर्ड या सेंटेंस के ग्रामर में गलती हो, तो उसके नीचे Green Line आ जाती है। इस तरह से आपको पता चलता है की आपके सेंटेंस में कहीं पर गलती हो गई है। तो आप उसे आसानी से सुधार सकते हैं।
  • Research:- रिसर्च- इस कमांड की सहायता से आप जो अपने Slide पेज पर टाइपिंग करते हैं, वहां पर अगर किसी वर्ड के बारे में खोज करना है। तो आप इस रिसर्च ऑप्शन का प्रयोग कर के डिक्शनरी, इनसाइक्लोपीडिया  और ट्रांसलेशन में आसानी से खोज सकते हैं। परन्तु इसके लिए आपके कंप्यूटर या लैपटॉप जहाँ पर भी काम कर रहे हैं। वहां इंटरनेट से कनेक्ट होना जरुरी है।
  • Thesaurus:- दोस्तों इस कमांड की सहायता से आप किसी एक वर्ड का समानार्थी word की खोज कर सकते हैं। इसके द्वारा आप किसी भी कठिन वर्ड का अलग अलग अर्थ का पता लगा सकते हैं।

⇒Language

  • Language:- दोस्तों यह कमांड भाषा से संबंधित है आप अपने स्लाइड में कौन सी भाषा का प्रयोग करेंगे वह यहां से चुन सकते हैं। और अपनी पसंद की भाषा में काम कर सकते हैं।
  • Translate:- दोस्तों यह टूल भी एक रिसर्च टूल की तरह काम करता है। इसकी मदद से आप एक भाषा से दूसरी भाषा में अपने डाटा को अनुवाद कर सकते हैं। इस ऑप्शन में काम करने के लिए भी रिसर्च टूल की तरह आपके कंप्यूटर में इंटरनेट कनेक्शन  जारी होना चाहिए। 

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

⇒Comments-

  • Comments: दोस्तों यह आपके स्लाइड में किसी नई वर्ड या सेंटेंस के बारे में छोटी छोटी जानकारी देने के लिए किया जाता है। जिससे आप बाद में कभी भी उस छोटी छोटी कमेंट्स की मदद से आप डॉक्यूमेंट के अंदर उस नई वर्ड के बारे में जान सकते हैं।
  • New Comments:- इस ऑप्शन की मदद से आपके पास जितनी भी नई नई वर्ड के छोटी छोटी कमेंट्स देना चाहेंगे, दे सकते हैं। 
  • Edit Comments:- यदि आपके द्वारा दी गई कमेंट में किसी प्रकार की परिवर्तन या बदलाव करना चाहते हैं तो आप इस एडिट कमांड का प्रयोग कर सकते हैं।
  • Delete Comments:- इस कमांड का उपयोग कर यदि आपके स्लाइड में दी गई कमेंट को हटाना चाहते हैं तो डिलीट कमेंट के द्वारा हटा सकते हैं।
  • Previous:- इस ऑप्शन के द्वारा स्लाइड में पीछे के कमेंट को प्रदर्शित कर sakte हैं।
  • Next: इस ऑप्शन के द्वारा में स्लाइड में आगे के कमेंट को प्रदर्शित कर सकतें हैं।

⇒Compare-

  • Compare:- दोस्तों यह कमांड का प्रयोग प्रस्तुति के दो या अधिक संस्करणों की तुलना करने के लिए किया जाता है।Accept:- इस कमांड के माध्यम से प्रेजेंटेशन में किये गे बदलाव को स्वीकार करने के लिए किया जाता है। 
  • Reject:-  इस कमांड के माध्यम से प्रेजेंटेशन में किये गे बदलाव को  अस्वीकार करने के लिए किया जाता है। 
  • Previous:- इस कमांड का उपयोग बर्तमान स्लाइड से पहले किये गए बदलाव को देखने के लिए किया जाता है। 
  • Next:- इस कमांड का उपयोग बर्तमान स्लाइड के बाद में किये गए बदलाव को देखने के लिए किया जाता है। 
  • Reviewing Panel:- इस ऑप्शन के द्वारा कमेंट को Horizontal और Vertical रूप में दिखाया और छुपाया जाता है। 
  • End Review:- इस कमांड के द्वारा बर्तमान के रिव्यु को समाप्त करने और रिव्यु को स्वीकार या अस्वीकार करने के लिए किया जाता है। 

आपने क्या सीखा?

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से मैंने आपको माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट के रिव्यु टैब के सभी ऑप्शन के उपयोग को विस्तार पूर्वक बताने के पूरी कोशिश की है। आशा करता हूँ आज की यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी। अगर आपके पास भी कुछ इस तरह की जानकारी है तो कृपया मुझे कमेंट करें। 

इसे भी देखें! 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

Microsoft Power Point me Slide Show Tab ka upyog [2022]

Microsoft Power Point में Slide Show Tab का उपयोग हिंदी में [2022]

 दोस्तों हमें अपनी बातों या विचारो को आकर्षक ढंग से प्रस्तुत करने के लिए बहुत ही सरल और सस्ता सॉफ्टवेयर का निर्माण किया गया है। जिसका नाम है Microsoft Power Point.  इसमें जो tab है Slide Show, इसके माधयम से आप अपनी जानकारियों को बड़ी ही आसानी से दूसरों समझा सकते हैं। इसके लिए Microsoft Power Point में कई अलग अलग टैब का निर्माण किया गया है। जिसमे कुछ टैब के बारे में आपको जानकारियां दिया जा चूका है। और आज फिर माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट की ही एक और खास टैब के बारे में जानकारी शेयर करने जा रहा हूँ जिसका नाम है – Slide Show View.

अभी तक हमने सीखा पावर पॉइंट में Slide कैसे Insert करते हैं, Slide में Transition कैसे डालते हैं, Slide के Object में Animation कैसे डालते हैं आदि के बारे में। आइए अब देखते हैं इन सभी स्लइडों को प्रेजेंट कैसे करते हैं।

Microsoft पावर पॉइंट में Home Tab, Insert Tab, Design Tab, Transition Tab, Animation Tab की तरह Slide Show भी एक खास Tab है।  इस Tab के भी अपने कई Options हैं। तो बिना देर किये आइये चलते हैं इसके सभी ऑप्शन की ओर एक एक करके और जानते हैं इसका उपयोग कैसे होता है। 

Microsoft Power Point के Slide Show Tab के Group और उसके कार्य।  

Microsoft Power Point के Slide Show Tab में मुख्य रूप से तीन समूह आते हैं- 

  • Start Slide Show Group
  • Set Up Group
  • Monitors Group

Start Slide Show Group-

Slide को कैसे प्रस्तुत किया जाय उसके लिए 4 ऑप्शन दिए गए हैं। 

  • From Beginning- इस कमांड का उपयोग प्रेजेंटेशन को आरम्भ से दिखने के लिए अर्थात पहली Slide से दिखाने के लिए किया जाता है। 
  • From Current Slide- इस कमांड का उपयोग प्रेजेंटेशन को बर्तमान Slide अर्थात जो Slide सामने खुली रहती है वहीं से प्रेजेंटेशन दिखाने के लिए किया जाता है। 
  • Broadcast Slide Show- इस कमांड के माध्यम internet से Slide Import करके दिखाने के लिए किया जाता है। 
  • Custom Slide Show- इस कमांड से Slide को अपने इच्छानुसार Presentation के क्रम को बदलकर दिखाने के लिए किया जाता है। इस Option पर क्लिक कर अपने इच्छानुसार इसके क्रम को बदल सकते हैं और क्लिक करके दिखा भी सकते हैं। 

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

Set Up Group- 

 इस ग्रुप के माधयम से प्रेजेंटेशन को लोगो के सामने किस प्रकार से प्रस्तुत किया जाय उसके लिए नीचे ऑप्शन दिया गया है। 

  • Setup Slide Show :- इसका उपयोग अगर हमारे पास बहुत अधिक स्लाइड है तो वहां पर स्लाइड को के क्रम को कहाँ से कहाँ तक प्रेजेंट करना है उसके किया जाता है। 
  • Hide Slide :- इस कमांड का प्रयोग सिलेक्टेड स्लाइड को छुपाने के लिए किया जाता है। 
  • Rehearse Timings :- इस ऑप्शंस का प्रयोग स्लाइड की समय को सेट करने के लिए किया जाता है। 
  • Record Slide Show :- इस कमांड का उपयोग स्लाइड की टाइमिंग को रिकॉर्ड करने के किया जाता है। 
  • Play Narrations :- इस कमांड का उपयोग Rehears Timing या Record Slide Show के Play  होने की Time को On/Off करने के लिए किया जाता है। 
  • Use Timings :- इस कमांड का उपयोग Rehears Timing या Record Slide Show के Time को On/Off करने के लिए किया जाता है।
  • Show Media Controls :- इस कमांड का उपयोग Rehears Timing या Record Slide Show के Media को Control करने की Timing को On/Off करने के लिए किया जाता है।

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Monitors Group :- 

इस ग्रुप में Slide Show के Picture के Quality के ऑप्शन दिए गए हैं। 

  • Resolution :- इस कमांड का उपयोग Slide के View को बदलने के लिए किया जाता है। अर्थात Resolution को बदलने के लिए किया जाता है। 
  • User Presenter View :- इस कमांड का उपयोग Slide में उसे किये गए Resolution को देखने के लिए किया जाता है। 

आपने क्या सीखा?

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से मैंने आपको माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट के स्लाइड शो टैब के सभी ऑप्शन के उपयोग को विस्तार पूर्वक बाटने के पूरी कोशिश की है। आशा करता हूँ आज की यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी। अगर आपके पास भी कुछ इस तरह की जानकारी है तो कृपया मुझे कमेंट करें। 

इसे भी देखें! 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

Microsoft Power Point में Animation Tab का प्रयोग 2022

Power Point में Animation Tab का प्रयोग पावर पॉइंट में एनीमेशन टैब का उपयोग [2022]

दोस्तों अब तक हम Microsoft Power Point में Animation Tab का Prayog 2022 के कई टैब जैसे Home Tab, Insert Tab, Design Tab और Transition Tab के बारे में पढ़ चुके हैं। जिसमें Microsoft Power Point में इन टैबों का कैसे प्रयोग करते हैं उसके बारे में जान चुके हैं। अगर अभी तक आप मेरे इन टैबों को नहीं पढ़ें हैं। तो इस पोस्ट के नीचे पहले के सरे पोस्ट की लिंक मैं दे दे रहा हूँ आप उस पर क्लिक करके के देख सकते हैं। आइये अब देखते है Animation Tab के बारे में।

 दोस्तों हम सभी अब तक जान चुके हैं की Microsoft Power Point Microsoft कंपनी द्वारा निर्मित की गई एक Application Software है। जिसका उपयोग हम किसी भी चीज का प्रेजेंटेशन बनाने के लिए करते हैं। यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण टैब है। जिसके द्वारा हम अपने स्लाइड में अलग- अलग तरह के एनीमेशन दाल सकते हैं। और अपने प्रेजेंटेशन को आकर्षक बना सकते हैं। तो दोस्तों अब बिना देर किये आइये चलते हैं। हमारी आज की पोस्ट की ओर और देखते हैं। हमारी आज की नई पोस्ट जिसका नाम है – ANIMATION TAB.

एनीमेशन क्या होता है? (What is Animation Tab?)

  दोस्तों जिस तरह आप Transition का उपयोग पुरे Slide में Visual Effect देने के लिए करते हैं। उसी तरह Slide के अंदर आपके Text या Object में अलग अलग Visual Effect देने के लिए आप Animation का प्रयोग करते हैं।  जो आपके Text या Object को और ज्यादा आकर्षक बनता है।

MS Power Point  जैसे लोकप्रिय Presentation Software को कई तरह के एनीमेशन फीचर्स के साथ तैयार किया गया है, ताकि आप इसके Graphics, Text, Bullets, Title, Image और अन्य Visual Content को Animate करने के लिए विभिन्न विधियों का उपयोग कर सकें। पावर पॉइंट में प्रेजेंटेशन देखने वालों को प्रस्तुति में रूचि महसूस कराने में मदद करता है। 

पावर पॉइंट का एनीमेशन टैब (Animation Tab of Power Point)

Animation Tab एक Presentation Tab है और इसके कई समूह हैं। आइये देखते हैं इसके सभी समूह के बारे में एक एक करके।

Power Point में Animation Tab

एनीमेशन टैब के मुख्य रूप से 4 (चार) समूह हैं। 

  • Preview Group
  • Animation Group
  • Advanced Animation Group
  • Timing Group

Preview Group ( प्रीव्यू समूह) –

इस समूह का उपयोग अपने Slide पर डाले गए Text या Object के Animation को देखने के लिए करते हैं। डाला गया Animation अच्छा लगा तो ठीक नहीं तो उसके स्थान पर New Animation डाला जाता है। 

 Power Point में Animation Tab

Animation Group (एनीमेशन समूह) – 

  • Animation Group- यह एक Animation Effect का संग्रह है जहाँ विभिन्न तरह के एनीमेशन डिजाइन दिए गए हैं। इनमे से आप अपने इच्छानुसार Effect डाल सकते हैं। 
  • Animation Effect- यह एक और आकर्षक तरीका है जिसमे आप  अपने Text या Object को अपने Slide के किस ओर से एनिमेट करना चाहते हैं, उसे सेट करने के लिए। 

Advanced Animation ( एडवांस्ड एनीमेशन)-

इस समूह के अंदर भी और कई ऑप्शन आते हैं जैसे –

  • Add Animation- इस ऑप्शन के माध्यम से एक ही Text या Object में अलग अलग एक से अधिक एनीमेशन जोड़ सकते हैं। 
  • Animation Pane- यह Text या Object में जोड़े गए एनीमेशन की एक सूची है जिसमें आप अपने Text या Object के सेटिंग को बदल सकते हैं। इसमें आप अपने Object को कैसे प्रदर्शित करना चाहते हैं On Mouse click, After Previous या With Previous, Effect Options आदि सेट कर सकते हैं। 
  • Trigger- इस Option का उपयोग करके आप एनीमेशन को ट्रिगर कर सकते हैं जैसे किसी Image को Mouse से क्लिक करते हैं तो ये Text Show हो उसके लिए Trigger का उपयोग किया जाता है।
  • Animation Painter-  इस ऑप्शन का उपयोग एक बार एनीमेशन बन जाने के बाद दुबारा उसी एनीमेशन को फिर से किसी अन्य Text या Object पर लागु करने के लिए किया जाता है। एनीमेशन को एक से अधिक Text या Object  पर सेट करने के लिए Animation Painter button पर क्लिक करें। फिर जिस जिस पर Animation को सेट करना है उन सभी पर क्लिक करें। 
    Power Point में Animation Tab

Timing Group ( टाइमिंग ग्रुप)- 

इस टाइमिंग समूह के अंदर कई ऑप्शन है जिससे यह पता चलता है की प्रेजेंटेशन कब चलना है। जैसे –

  • Start- इस ऑप्शन का प्रयोग प्रेजेंटेशन को चालू करने के लिए किया जाता है। इसमें तीन ऑप्शन आते हैं- On Click, With Previous और After Previous. 
  • Duration- इस ऑप्शन का प्रयोग अपने Presentation में Animation को कितने देर तक एनिमेट करना है, इसे सेट कर सकते हैं। 
  • Delay- इस विकल्प का उपयोग यह निर्देश देने के लिए किया जाता है। की एनीमेशन स्टार्ट होने से पहले कितने देर तक इंतजार करना है। 
  • Reorder Animation- इसके द्वारा सेलेक्ट किये गए एनीमेशन के क्रम को निर्धारित करने के लिए नीचे दिए गए दो विकल्पों का उपयोग किया जाता है। जिसके द्वारा हम यह निर्धारित करते हैं की पहले कौन सी स्लाइड को चलाना है। 
  • Move Earlier- Object को अपने बर्तमान स्थिति से पहले चलाने के लिए इस ऑप्शन का प्रयोग करते हैं। 
  • Move Later- Object को अपने बर्तमान स्थिति के बाद में चलाने के लिए इस ऑप्शन का प्रयोग करते हैं।

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की पोस्ट में हमने सीखा एनीमेशन टैब के बारे में विस्तार से। इसमें एनीमेशन टैब समूह के सभी ऑप्शन के बारे में अलग अलग सीखा। इसमें हमने देखा किस समूह से क्या काम कर सकते हैं। आशा करता हूँ मेरी आज की पोस्ट आपको बहुत अच्छा लगा होगा। अगर अच्छा लगा हो तो कमेंट जरूर करें और कोई सुझाव या शिकायत हो तो भी कमेंट करें। 

मेरी पीछे की पोस्ट 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

A to Z Keyboard Shortcut Key

दोस्तों हमेशा की तरह आज फिर एक नया पोस्ट लेकर आया हूँ, जिसका नाम है – A to Z Keyboard Shortcut Key.

तो दोस्तों आपका बहुत – बहुत स्वागत है मेरी पोस्ट www.computernoteshindi.com पर। 

 दोस्तों जब भी हम कंप्यूटर पर किसी भी प्रोग्राम में काम करते हैं और अगर हमें Keyboard Shortcut key मालूम नहीं होती है, तो हमे काम करने में बहुत अधिक समय लगता है। वहीं पर यदि हमें Shortcut मालूम हो, तो कम समय और बहुत ही सरल तरीके से किसी भी काम को कर सकते हैं। चाहे यह काम आप का किसी भी प्रोग्राम का हो।

इन्सर्ट टैब क्या है ?

आप बड़ी ही सरलता के साथ कर सकते हैं। और सामने वाला बंदा देखता ही रह जायगा। इस तरह आप अपने काम को स्मार्ट तरीके से करते हैं तो आपका बॉस भी आप से खुश रहेंगे। 

तो दोस्तों आज की पोस्ट के माध्यम से हम सीखते हैं A to Z की सभी Keyboard Shortcut Key के बारे में।

  1. Ctrl + A (Select All)- इस की के प्रयोग से डॉक्यूमेंट में मौजूद सभी टेक्स्ट या ऑब्जेक्ट को एक ही बार में सेलेक्ट कर सकते हैं। 
  2. Ctrl + B (Bold)- इस की के प्रयोग से डॉक्यूमेंट में मौजूद सभी सिलेक्टेड टेक्स्ट को एक ही बार में मोटा (Bold) कर सकते हैं। 
  3. Ctrl + C (Copy)- इस की के प्रयोग से डॉक्यूमेंट में मौजूद किसी भी टेक्स्ट या ऑब्जेक्ट को कॉपी (Duplicate) कर सकते हैं। 
  4. Ctrl + D (Font Dialog box)- इस कमांड के द्वारा फॉण्ट का डायलॉग बॉक्स ओपन होगा जिसमे से डिफ़ॉल्ट रूप से Font Style, Font Size, Font Color, Underline, Under Color Effect आदि डिफ़ॉल्ट रूप से सेट कर सकते हैं। साथ ही किसी भी वेबपेज को बुकमार्क करने के लिए किया जाता है।
  5. कंप्यूटर क्विज मिक्स 5

    Ctrl + E (Center Alignment)- डॉक्यूमेंट पेज में किसी भी टेक्स्ट को पेज के बीच में करने या लिखने के लिए।

  6. Ctrl + F (Find)- इस की Find Window Open करके कंप्यूटर की फाइल या फोल्डर को खोजने के लिए।
  7. Ctrl + H (Replace)- माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में किसी टेक्स्ट को खोजने तथा उसे बदलने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। 
  8. Ctrl + I (Italic)- सेलेक्ट किये गए टेक्स्ट को तिरछा (Italic) करने के लिए।
  9. Ctrl + J (Justify Align)- वर्ड डॉक्यूमेंट में टेक्स्ट को दोनों ओर बराबर (Justify) करने के लिए।
  10. Ctrl + K (Insert Hyperlink)- माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में सेलेक्ट किये गए टेक्स्ट का हाइपरलिंक बनाने के लिए। 
  11. Ctrl + L (Left Alignment)- सिलेक्टेड टेक्स्ट को बायीं ओर (Left Align) लिखने के लिए तथा इंटरनेट ब्राउज़र में एड्रेस बार को सेलेक्ट करने के लिए भी किया जाता है। 
  12. Ctrl + M (Moving Text)- माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में सिलेक्टेड टेक्स्ट को आगे खिसकाने (Move) करने के लिए।
  13. Ctrl + N (New File)- इस कमांड की सहायता से आप कोई नया फाइल खोल सकते हैं। 
  14. Ctrl + O (Old File)- इस कमांड की सहायता से ऑफिस प्रोग्राम के पुराने फाइल को खोल सकते हैं। 
  15. Ctrl + P (Print File)- इस ऑप्शंस की मदद से किसी भी फाइल को प्रिंट का कमांड दे सकते हैं। 
  16. Ctrl + R (Right Align)- माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में टेक्स्ट को पेज के दायीं (Right Align) की ओर सेट करने के लिए। तथा ब्राउज़र को रीलोड करने के लिए। 
  17. Ctrl + S (Save File)- किसी भी फाइल को सेव करने के लिए इस कमांड का प्रयोग करते हैं। 
  18. Ctrl + T (Setting Tab)- माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में तब को सेट करने के लिए और ब्राउज़र में नया तब खोलने के लिए। 
  19. Ctrl + U (Underline)- सिलेक्टेड टेक्स्ट को अंडरलाइन करने के लिए। 
  20. Ctrl + V (Paste)- कॉपी किये गए टेक्स्ट को चिपकने (Paste) करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। 
  21. Ctrl + W (Close File)- स्क्रीन में खुले ब्राउज़र और वर्ड प्रोसेसर के खुले फाइल को बंद करने के लिए। 
  22. Ctrl + X (Cutting Text/Object)- सिलेक्टेड टेक्स्ट या ऑब्जेक्ट को कट करने के लिए। 
  23. Ctrl + Y (Redo)- कार्य करते समय एक स्टेप पीछे किए गए टेक्स्ट या ऑब्जेक्ट के आगे जाने के लिए रेडू का प्रयोग किया जाता है।
  24. Ctrl + Z (Undo)- किसी कार्य को एक स्टेप पीछे आने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। 
  25. Ctrl + Home Key (Moving Cursor)- टेक्स्ट में कर्सर को लाइन के आगे लाने के लिए। 
  26. Ctrl + End Key (Moving Cursor)- टेक्स्ट में कर्सर को लाइन के अंत में ले जाने के लिए। 
  27. Ctrl + Esc (Open Start Menu)- कम्प्यूटर के स्टार्ट मेनू को खोलने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। 
  28. Ctrl + Tab Key (Going Next Tab)- इंटरनेट ब्राउज़र में बायीं से दायीं ओर अगले टैब में जाने के लिए।
  29. Ctrl + Shift + Tab (Coming Back Tab)- इंटरनेट ब्राउज़र में दायीं से बायीं पीछे के टैब में वापस आने के लिए। 
  30. Ctrl + [ (Decrease Font Size)- फॉण्ट के साइज को कम करने के लिए।
  31. Ctrl + ] (Increase Font Size)- फॉण्ट के साइज को बढ़ाने के लिए। 
  32. Ctrl + Page Up Key (To Go Back Tab)- इंटरनेट ब्राउज़र में पीछे के टैब में आने के लिए।
  33. Ctrl + Page Down Key (To Go Next Tab)- इंटरनेट ब्राउज़र में आगे के टैब में आने के लिए।
  34. Ctrl + → (Right Arrow)- आगे के वर्ड में कर्सर को ले जाने लिए। 
  35. Ctrl + ← (Left Arrow)- पीछे के वर्ड में कर्सर को लेन के लिए। 
  36. Ctrl + Delete (Delete Letter)- कर्सर के दायीं ओर के word को मिटाने के लिए। 
  37.  Windows Key + A (To Open Action Center)- Action Center को ओपन करने के लिए। 
  38. Windows Key + C (To Open Cortana Listing Mode)- Cortana को लिसनिंग मोड में ओपन करने लिए। 
  39.   Windows Key + D (Minimizing)- Desktop स्क्रीन में खुले सभी फाइल को मिनीमाइज करने के लिए। 
  40. Windows Key + E (To Open File Explorer)- कंप्यूटर के File Explorer को खोलने के लिए। 
  41.    Windows Key + I (To Open Setting Option)- सेटिंग ऑप्शन को खोलने के लिए। 
  42. Windows Key + K (To Connect Quick Action Page)- कनेक्ट क्विक एक्शन पेज को खोलने के लिए। 
  43. Windows Key + L (To Open Lock Windows)- कंप्यूटर को लॉक करने के लिए। 
  44. Windows Key + M (To Minimize All Window)- स्क्रीन में खुले सभी विंडो को मिनीमाइज करने के लिए। 
  45. Windows Key + P (To Open Project Option)- प्रोजेक्ट ऑप्शन को ओपन करने के लिए। 
  46. Windows Key + R (To Open Run Dialog Box)- रन डायलॉग बॉक्स को खोलने के लिए। 
  47. Windows Key + S (To Open Search Box)- स्क्रीन में सर्च बॉक्स को खोलने के लिए। 
  48. Windows Key + U (To Open Erase to Access)- Erase to Access सेण्टर को खोलने के लिए। 
  49. Windows Key + X (To Open Quick Link Menu)- क्विक लिंक मेनू को खोलने के लिए इसका प्रयोग करते हैं। 
  50. Windows Key + → (Right Arrow)- खुली हुई Window को दायीं ओर छोटा करने के लिए।
  51. Windows Key + ← (Left Arrow)- खुली हुई विंडो को बायीं ओर छोटा करने के लिए। 

मेरी पीछे की पोस्ट 

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

Computer Quiz Mix Part 5 हिंदी 2021

Computer Quiz Mix part 5

 

हैल्लो दोस्तों 

कैसे हैं आप सब! आशा करता हूँ बहुत अच्छे होंगे आप सभी। और मेरी अगली कोई नयी पोस्ट के इंतजार में होंगे, तो दोस्तों मैं आ गया हूँ फिर से एक नए पोस्ट लेकर। परन्तु आज की पोस्ट में मैं आपलोगो के लिए एक Computer Quiz Mix part 5  लेकर आया हूँ। जिससे आप अपने बारे में पता कर सकते हैं की अब तक आप कितना सिख चुके हैं।

दोस्तों क्या आप जानते हैं हम टेस्ट क्यों देते हैं। इससे हमारी ज्ञान का पता चलता है। हमने क्या सीखा है और क्या सीखा है इससे जानने के लिए ही हम टेस्ट दबा पड़ता है। इसलिए कभी भी हमें टेस्ट देने से घबराना नहीं चाहिए। तो दोस्तों बिना देर किये आइये चलते हैं अपने पोस्ट की ओर और देखते हैं हमारी आज की पोस्ट कंप्यूटर टेस्ट को। 

तो दोस्तों आइये बिना देर किये चलते हैं अपने क्विज की ओर।

Please go to Computer Quiz Mix Part 5 हिंदी 2021 to view the test

दोस्तों इससे पहले भी मैंने और कई क्विज टेस्ट आपके लिए बना चुका हूँ। जिसमे MS Word, MS Excel, Computer Fundamental, Internet आदि शामिल हैं। अगर अभी तक आप मेरे पुराने टेस्ट नहीं देखे हैं तो इस पोस्ट के नीचे लिंक दिया गया जहाँ से आप जाकर सभी टेस्ट दे सकते हैं। यह टेस्ट भी आपके ज्ञान को बढ़ाने में बहुत मदद करेगी। 

Previous Post Link 

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3

Transition Tab kya hai MS Power Point Hindi me 2021

What is Transition Tab in MS Power Point 

एम एस पावर पॉइंट में ट्रांजीशन टैब क्या है?

दोस्तो नमस्कार

हम पिछली पोस्ट में  MS Power Point के बारे में पढ़ चुके हैं। जिसमें MS Power Point के अब तक के तीन Tab Home Tab, Insert Tab और Design Tab के बारे में पढ़ चुके हैं।

इसमें हमलोग अब तक देख चुके हैं कि MS Power Point एक प्रेजेंटेशन प्रोग्राम हैं। जिसमे अलग-अलग Slide में अलग-अलग तरह  के Themes Design डाल सकते हैं। अगर आप मेरी पीछे की पोस्ट नहीं देखें हैं तो इस पोस्ट के नीचे लिंक दी गई है। जहाँ आप क्लिक करके सीधे उस Tab पर जा सकते हैं। 

दोस्तों आज हम सीखेंगे MS Power Point के ही एक बहुत ही खास Tab के बारे में जिसका नाम हैं – “Transition Tab”

इसके द्वारा हम सीखेंगे अपने Slide पर अलग-अलग Transition कैसे डालते हैं। उस पर टाइमिंग कैसे डालते हैं? इन सबके बारे में विस्तार से सीखेंगे। तो दोस्तों बिना देर किये आइये चलते हैं हमारी आज की पोस्ट Transition Tab क्या है में। 

कंप्यूटर क्या है?

दोस्तों Transition Tab क्या है?

Transition अर्थात गति – MS Power Point के Slide में गति डालने या उस पर प्रभाव डालने के लिए Transition का उपयोग किया जाता है। दोस्तों जब हम किसी विषय में प्रेजेंटेशन तैयार करते हैं, तो कई स्लाइडों की आवश्यकता पड़ती है। तब हम प्रत्येक स्लाइड को किस तरह से प्रस्तुत कराना है यह Transition के द्वारा निर्धारित करते हैं। इसमें बहुत सारी अलग-अलग तरह की Transition उपलब्ध है। हम अपनी इच्छानुसार Transition अपने Slide पर डालते हैं। इसमें Transition की गति को सेट कर सकते हैं। प्रत्येक स्लाइड में साउंड लगा सकते हैं। Transition Tab के प्रयोग के लिए इसके मुख्य रूप से तीन Groups दिए गए हैं। आइये एक-एक करके देखते हैं –

Transition Tab के समूह और उसके कार्य 

  1. Preview
  2. Transition To This Slide
  3. Timing

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड क्या है?

Preview ( प्रीव्यू)

इस कमांड के उपयोग से हम अपने स्लाइड पर किसी ट्रांजीशन का प्रयोग किये हैं, तो वह किस प्रकार कार्य कर रहा है उसे देखने के लिए इसका प्रयोग करते हैं।

Transition To This Slide (ट्रांजीशन टू दिस स्लाइड) –

इस ग्रुप्स के अंदर और कई ऑप्शन्स आते हैं जैसे –

    1. Transition Gallery (ट्रांजीशन गैलरी) – इसमें एक स्लाइड या प्रेजेंटेशन में सभी स्लाइड के लिए अलग-अलग ट्रांजीशन डालने के लिए इसमें ट्रांजीशन का समूह दिया गया है। जिसमे से हम अपने इच्छानुसार ट्रांजीशन का चुनाव कर सकते हैं। 
    2. Effect Options (इफेक्ट ऑप्शन) – आपके द्वारा चुने गए ट्रांजीशन में अलग-अलग इफेक्ट को बदलने के लिए इसका प्रयोग करते हैं। इसमें हम अपने स्लाइड की ट्रांजीशन की दिशा को चुन सकते हैं।

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है?

Timing ( टाइमिंग) –

इस ग्रुप में भी कई ऑप्शन्स आते हैं – 

    • Sound (साउंड) – इस कमांड का उपयोग ट्रांजीशन इफेक्ट में ध्वनि डालने के लिए किया जाता है। इसमें अलग-अलग तरह के साउंड की सूची है जिसमे से हम अपने पसंद के अनुसार साउंड चुनते हैं। इसमें सेट करने से पहले साउंड इफेक्ट सुनने के लिए माउस पॉइंटर को एक-एक करके साउंड सूची में ले जाते हैं। फिर जो अच्छा लगता है उस पर क्लिक कर सेट कर लेते हैं। 
    • Duration (समयावधि) – इस विकल्प से अपने स्लाइड पर इफेक्ट कीटने देर तक चलाना है, उसे सेट करता हैं। 
    • Apply to All ( अप्लाई टू ऑल) – इस विकल्प के द्वारा एक ही तरह के ट्रांजीशन इफेक्ट्स को सभी स्लाइड में लागू काने के लिए किया जाता है। 

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में पेज लेआउट क्या है?

Advance Slide ( एडवांस स्लाइड) –

इस विकल्प का उपयोग अपने स्लाइड को दूसरी स्लाइड में ट्रांजीशन कैसे करना है। इसके लिए किया जाता है। जैसे – 

    • On Mouse click- इस ऑप्शन के माध्यम से जब तक माउस से कहीं पर भी क्लिक नहीं करेंगे। तब तक अगली स्लाइड ट्रांजीशन शो नहीं करेगा। अर्थात जब माउस से क्लिक करेंगे तब दूसरी स्लाइड से ट्रांजीशन खुलेगी। 
    • After – इसका उपयोग जब हमारे पास दो या दो से अधिक स्लाइड होता है, तो इसके बीच इस आफ्टर ऑप्शन का प्रयोग होता है। अर्थात जब यह ओप्शस सक्रिय करेंगे तो पहली स्लाइड प्रस्तुत होने के बाद स्वतः दूसरी स्लाइड फिर तीसरी स्लाइड, फिर चौथी स्लाइड। इस तरह से लगातार आगे बढ़ती रहेगी। 

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज की पोस्ट में हम सीखे ट्रांजीशन क्या होता है? यह स्लाइड पर कैसे लगाया जाता है। और यह कैसे कार्य करता है। इन सभी के बारे में विस्तार पूर्वक। आशा करता हूँ मेरे द्वारा दी गई आज की यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी। अगर आपके मन में कोई प्रश्न हो तो कृपया कमेंट करके बताये। 

धन्यवाद!

इसे भी देखें! 

Computer Quiz Mix Part- 3 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 2 [2021]

Computer Quiz Mix Part- 1 [2021]

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 1 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -1]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 2 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -2]

कंप्यूटर क्विज एम एस वर्ड पार्ट – 3 [COMPUTER QUIZ MS WORD PART -3]

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Design Tab in MS Power Point

माइक्रोसॉफ्ट एप्लीकेशन में डिजाइन टैब का उपयोग करना 

दोस्तों, पीछे की पोस्ट में हम MS Power Point के बारे में पढ़ चुके हैं। जिसमे पावर पॉइंट क्या होता है, MS Power Point में Home Tab और Insert Tab के बारे में अलग – अलग और विस्तार से पढ़ चुके है। हम पढ़ चुके है के MS Power Point एक प्रेजेंटेशन एप्लिकेशन प्रोग्राम है। जिसका उपयोग हम सुन्दर और आकर्षक प्रेजेंटेशन बनाने के लिए करते हैं। Design Tab भी Home और Insert Tab की तरह एक बहुत ही महत्वपूर्ण टैब है, जिसके द्वारा हम अपनी स्लाइड में अलग – अलग तरह के Design का उपयोग कर सकते हैं। 

पवार पॉइंट में डिज़ाइन टैब क्या है –

Design Tab MS, Power Point के एक खास टैब में से है। जिसका उपयोग प्रेजेंटेशन में स्लाइड के डिज़ाइन को उपयोग करने के लिए किया जाता है। इसमें हम अपनी इच्छानुसार बदलाव भी कर सकते है। जैसे- स्लाइड का आकार, स्लाइड का बैकग्राउंड, स्लाइड का रंग तथा अन्य डिज़ाइन का बदलाव करना। इस Tab के अंतर्गत कई समूह आते है। आईये  इसके समूह के सभी टूल्स के बारे में एक-एक कर के विस्तार से देखते है-

डिज़ाइन तब के समूह के नाम और उसके कार्य –

दोस्तों इस Design Tab समूह में मुख्य रूप से तीन टूल दिए गए है-

  1. Page Setup (पेज सेटअप) 
  2. Themes Group ( थीम्स ग्रुप)
  3. Background (बैकग्राउंड)

पेज सेटअप ग्रुप –

  1. Page Setup (पेज सेट अप)- यह ऑप्शंस के द्वारा पावर पॉइंट के पेज अर्थात स्लाइड का सेट उप किया जाता है, जिसमे इसकी लम्बाई, चौड़ाई तथा स्लाइडों की संख्या तय करते हैं। 
  2. Slide Orientation (स्लाइड ओरिएंटेशन)- इस टूल्स की मदद से हम अपने स्लाइड का प्रकार चुनते हैं। पोर्ट्रेट या  लैंडस्केप – इसे दो तरह से सेट कर सकते हैं।  

Themes Group (थीम्स ग्रुप) –

इस ग्रुप से अलग अलग स्लाइड के लिए अलग – अलग थीम का चुनाव कर सकते हैं। थीम का लाइव प्रीव्यू देखने के लिए प्रत्येक डिजाइन पर माउस पॉइंटर पर ले जा कर देख सकते हैं। इनमे से जिस थीम डिजाइन को आप अपने स्लाइड पर सेट करना चाहते हैं उस पर क्लिक कर दें। और अधिक थीम्स डिजाइन देखना या स्लाइड पर सेट करना चाहते हैं, तो थीम्स गैलरी पर जा सकते हैं और वहां से किसी एक थीम को चुन सकते हैं। 

  1. Colors (कलर्स) – इस कमांड का प्रयोग चुने गए थीम के रंग को बदलने के लिए किया जाता है। 
  2. Effects (इफेक्ट्स) – ये लाइनों का एक सेट है जिसका उपयोग एक थीम पर कर सकते हैं। इसके द्वारा अलग-अलग थीम के लिए अलग-अलग इफेक्ट्स चुन सकते हैं। 

बैकग्राउंड –

Background Style (बैकग्राउंड स्टाइल्स) – इसके द्वारा सभी स्लाइड पर अलग – अलग बैकग्राउंड डाल सकते हैं। जिसमे विभिन्न बैकग्राउंड की एक गैलरी प्रदर्शित होगी और उसमे से कोई एक बैकग्राउंड को चुन सकते हैं। इसमें फॉर्मेट बैकग्राउंड ऑप्शन को ओपन करें और उसमे से किसी खास रंग, ग्रीडेंट कलर या टेक्सचर अथवा पिक्चर का बैकग्राउंड बना सकते हैं। 

Hide Background (हाईड बैकग्राउंड ग्राफ़िक्स) – इस टूल्स का उपयोग बैंकग्रॉउंड के ग्राफिक्स या डिज़ाइन की छिपाने के लिए किया जाता है। इस ऑप्सन से ग्राफिक्स  के साथ-साथ स्लाइड की थीम भी हाईड हो  जाती है।

कस्टमाइज ग्रुप –

  1. Slide Size (स्लाइड साइज) – इस कमांड्स के द्वारा स्लाइड के साइज स्टैण्डर्ड से लेकर पूरी स्क्रीन तक उपयोग कर सकते है। इससे स्लाइड को पोट्रेट या लैंडस्केप में भी सेट कर सकते है।
  2. Format Background (फोर्मेट बैकग्राउंड) – इस ऑप्सन्स के द्वारा स्लाइड के बैकग्राउंड को परिवर्तन कर सकते है। जैसे – उसमे लिखा टेकस्ट, डिज़ाइन, थीम्स आदि। 

आपने क्या सीखा –

आज के इस पोस्ट में हमने आपको  एम एस पावर पॉइंट के डिज़ाइन टैब के बारे  में विस्तार पूर्वक जानकारी देने की पूरी कोशिश की है हमने डिज़ाइन टैब के सभी ग्रुप्स को अलग-अलग करके बताया है। उम्मीद है करता हूँ। आपको यह जानकारीअच्छी लगी होगी और इसका उपयोग करने में  आपको आसानी होगी।
धन्यवाद। 

विभिन्न पोस्ट के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें। 

पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब क्या है?

MS Power Point kya hai? माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट क्या है ?

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

Insert Tab in Power Point

दोस्तों जब भी आप MS Power Point में प्रेजेंटेशन बनाते हैं। तो आपको स्लाइड में कई प्रकार के Link, Object, Images, Photo Album, Smart Art, Word Art, आदि Insert करने की जरुरत होती है। ऐसे में Insert Tab उपयोग करना होता है। तो आइये आज सीखते हैं MS Power Point में Insert Tab का उपयोग करना। 

MS Power Point me Insert Tab ka upyog karna एम एस पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग करना।

दोस्तों आज की इस पोस्ट में आपका बहुत बहुत स्वागत है। आज मैं आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताऊंगा MS Power Point me Insert Tab का प्रयोग कैसे करते हैं। 

सबसे पहले तो आप MS Power Point प्रोग्राम को ओपन करेंगे। फिर Insert Tab पर क्लिक करेंगे जो आपके स्क्रीन के मेनू बार में दूसरे नंबर पर स्थित है। 

दोस्तों इस टैब के बारे में विस्तार से जानने के लिए इसके सभी ग्रुप्स को देखें। इन्सर्ट टैब को कई समूह में बाँटा गया है। आइये देखते हैं इसके ग्रुप्स के नाम और उसके कार्य को एक एक करके।

इन्सर्ट टैब के समूह के नाम और उसके कार्य 

दोस्तों Power Point के Insert Tab में मुख्य रूप से 5 समूह होते हैं- 

  • Table
  • Illustrations
  • Links
  • Text 
  • Media

Table Groups- इस टेबल ऑप्शन का प्रयोग कर स्लाइड में टेबल इंसर्ट करने के लिए किया जाता है। इसमें आप अपनी इच्छा अनुसार से टेबल के रो (Row) और कॉलम (Column) बना सकते हैं। साथ ही इंसर्ट टेबल के अलावे आप ड्रॉ टेबल का प्रयोग कर अपनी सुविधानुसार पेंसिल से टेबल बना सकते हैं और मिटा सकते हैं।

 

इन्हें भी देखें 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

Images Group –

इस ग्रुप के माध्यम से आपके कंप्यूटर में सेव किये गए इमेजेस को स्लाइड पर लेन के लिए किया जाता है। 

Pictures – यह ऑप्शन से कंप्यूटर में सेव किये गए फोटो को स्लाइड में इन्सर्ट कर प्रयोग कर सकते हैं। 

Clip Art – इस कमांड के द्वारा कंप्यूटर में मौजूद पावर पॉइंट ऍप्लिकेशन्स प्रोग्राम में स्थित चित्रों को स्लाइड में प्रयोग कर सकते हैं। 

Screenshot – इस कमांड के द्वारा किसी भी प्रोग्राम के स्क्रीनशॉट की इमेज को डालने के लिए किया जाता है। इसके लिए वह फाइल खुला हुआ होना चाहिए, जिसका स्क्रीनशॉट लेनी हो। 

Photo Album – फोटो के एक सेट को एक साथ स्लाइड में लेने और उसे प्रेजेंटेशन के द्वारा दिखाने के लिए इस ऑप्शन का प्रयोग किया जाता है। प्रेजेंटेशन आकर्षक बनाने के लिए सभी स्लाइड में एनीमेशन तथा कैप्शन जोड़ा जा सकता है। 

Illustration Group –

इस ग्रुप के अंदर भी कई ऑप्शन आते हैं- 

Shape – इस ऑप्शन के माध्यम से स्लाइड में विभिन्न प्रकार के आकृतियों को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है। इसमें बहुत सारे आकृतियों की गैलरी दिखाई देगी जिसमे से आप आवश्यकता अनुसार प्रयोग कर सकते हैं। जैसे – Line Shape, Starts & Banners, Callouts, Flowcharts, Equations Shapes etc.

Smart Art – इसके द्वारा Smart Art ग्राफ़िक को स्लाइड में इन्सर्ट करने के लिए उपयोग किया जाता है। इस ऑप्शन के अंदर अनेक प्रकार के Smart Art ग्राफ़िक्स जैसे – वेन आरेख, पिरामिड, आर्गेनाईजेशन चार्ट और चार्ट जैसे ऑब्जेक्ट इन्सर्ट कर सकते हैं। 

Chart – प्रेजेंटेशन बनाने के लिए अपने स्लाइड में चार्ट इन्सर्ट करने के लिए इस कमांड का उपयोग किया जाता है। इसमें विभिन्न प्रकार की चार्टों की एक गैलरी होती है। 

इन्हें  भी  देखें ?

एम एस वर्ड में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

एम एस वर्ड में इन्सर्ट टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Word?

Links Groups –

इसके द्वारा प्रेजेंटेशन स्लाइड में लिंक इन्सर्ट किया जाता है। 

Hyperlink – प्रेजेंटेशन की स्लाइड में वेब पेज, डॉक्यूमेंट का वेब पेज, ईमेल एड्रेस या किसी अन्य पेज के लिंक एड्रेस को जोड़ने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। ये लिंक डालने के लिए इस पर क्लिक कर Hyperlink डायलॉग बॉक्स खुलेगा जहाँ से लिंक को इन्सर्ट किया जा सकता है। 

Action – जब कुछ Action जैसे किसी वस्तु के लिए Hyperlink बनाने या साउंड जोड़ना हो, तो इस ऑप्शन से कर सकते हैं। इस कमांड के द्वारा दूसरी फाइल के लिए Hyperlink बनाई जा सकती है। 

Text Group –

इसके द्वारा प्रेजेंटेशन में किसी Text को Highlight करने के लिए Text Box का उपयोग किया जाता है। इस Text Box की गैलरी में विभिन्न प्रकार की Text  Style बने हुए हैं। 

Header & Footer – इस कमांड की सहायता से स्लाइड के ऊपर Header तथा नीचे Footer डालने के लिए किया जाता है। इसमें अपने इच्छानुसार डिज़ाइन चुन सकते हैं। 

Word Art – अपने Slide में Word Art का प्रयोग करने के लिए इस कमांड का उपयोग किया जाता है। यहाँ Word Art की एक गैलरी होती है जहाँ विभिन्न स्टाइल की एक फॉर्मेट बना हुआ है। आप वहां से अपने पसंद के अनुसार डिज़ाइन चुन सकते हैं। 

Date & Time – अपने सामने की प्रेजेंटेशन में दिनांक और समय डालने के लिए इस कमांड का प्रयोग किया जाता है। 

Slide Number – इस ऑप्शन की मदद से स्लाइड में नंबर का प्रयोग कर सकते हैं। 

Object – इस कमांड की मदद से किसी Object जैसे Excel Worksheet, या Excel Chart को प्रेजेंटेशन में शामिल करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। 

Symbols Group –

दोस्तों जब आप Document में काम कर रहे होते हैं और वैसे स्थिति में कुछ ऐसे सांकेतिक चिन्हों की जरुरत होती है। जो आपके Keyboard पर उपलब्ध नहीं होती है। तब वैसे स्थिति में यह Symbols कमांड आपकी मदद करता है। यह दो ग्रुप में होता है –

Education- इस कमांड की मदद से गणितीय समीकरणों में प्रयोग होने वाले प्रतीकों को लेने के लिए किया जाता है। 

Symbols- इस कमांड के द्वारा अन्य सभी प्रकार के सांकेतिक चिन्हों का प्रयोग कर सकते हैं।

Media Group –

इसके द्वारा अपने Slide में Audio, Video, Screen Recording आदि का प्रयोग करते हैं। 

Video – इस ऑप्शन के प्रयोग से प्रेजेंटेशन स्लाइड में वीडियो विकल्प दाल सकते हैं। यह वीडियो आपके कंप्यूटर के फाइल या फोल्डर वेब, फेसबुक, यूट्यूब आदि से दाल सकते हैं। 

Audio – किसी प्रेजेंटेशन में ऑडियो या रिकॉर्डिंग इन्सर्ट करने के लिए इस ऑप्शन का उपयोग किया जाता है। ध्वनि को कंप्यूटर फाइल या ऑनलाइन इन्सर्ट किया जा सकता है। 

Screen Recording – इस कमांड के द्वारा स्लाइड पर स्क्रीन रिकॉर्डिंग डालने के लिए किया जा सकता है। 

आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज आपलोगों को इस पोस्ट के माध्यम से पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है। इसमें आपको MS Power Point में Image, Object, Links आदि कैसे Insert करते हैं। आशा करता हूँ आपलोगों को मेरा आज का पोस्ट अच्छा लगा होगा। अगर अच्छा लगा हो तो कृपया इस पोस्ट को शेयर करे और अगर कुछ गलती हुई हो या कुछ सुधार चाहते हैं, तो कमेंट करके बताएं।  

इसे भी देखें! 

MS Power Point kya hai? माइक्रोसॉफ्ट पावर पॉइंट क्या है ?

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

View Tab kya hai? What is View Tab? Use of View Tab me 2021

Review tab ka use kaise karen.

कंप्यूटर क्या है ? What is computer?

एम एस वर्ड क्या है ? What is MS Word?

पेज लेआउट  टैब क्या है ? What is Home Tab?

माय यूट्यूब चैनल . My You Tube Channel.