How to Use Keyboard of Computer

How to Use Keyboard of Computer कीबोर्ड का उपयोग कैसे करें।

How to Use Keyboard of Computer  – Keyboard एक प्रचलित Electromachenical  इनपुट डिवाइस है। जिसका प्रयोग कंप्यूटर में Alphanumeric डाटा डालने के लिए किया जाता है। Keyboard पर टाइप किया जाने वाला डाटा कंप्यूटर मॉनिटर के स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। Keyboard का उपयोग माउस की तरह Pointing Device के रूप में भी किया जा सकता है। 

आजकल 104 बटनों वाले ‘QWERTY’ कीबोर्ड का प्रयोग प्रचलन में है। इसमें बाणों की व्यवस्था प्रचलित Typewriter बटनों की तरह होती है। जिसमे अंग्रेजी के सभी अक्षरों को तीन पंक्तियों में व्यवस्थित किया गया होता है। इसे ‘QWERTY’ कीबोर्ड कहा जाता है। क्योंकि अक्षरों के सबसे ऊपर वाली पंक्ति के बायीं ओर के 6 बटन Q, W, E, R, T तथा Y के क्रम में होते हैं। कंप्यूटर कीबोर्ड के कुछ बटन ऐसे भी होते है। जिन्हे प्रयुक्त Software के अनुसार कंप्यूटर को निर्धारित निर्देश देने के लिए प्रयोग किया जाता है। 

KEYBOARD

Keyboard को P/S -2 (Plug Station- 2) पोर्ट द्वारा सीपीयू से जोड़ा जाता है। आजकल, Keyboard को यूएसबी (USB) पोर्ट द्वारा भी जोड़ सकते हैं। वायरलेस कीबोर्ड सिस्टम से भौतिक संपर्क बनाये बिना रेडियो तरंगो पर कार्य करता है। तथा इसे ब्लूटूथ (Bluetooth) द्वारा कंप्यूटर से जोड़ा जाता है। 

कार्य और स्थिति के अनुसार कीबोर्ड को निम्नलिखित भागों में बाँट सकते हैं। 

कीबोर्ड के मुख्य भाग और उसके कार्य 

  1. मुख्य कीबोर्ड (Main Keyboard)- या टाइपराइटर बटन (Typewriter Key) – यह Keyboard के बाएं – मध्य भाग में अंग्रेजी Typewriter के समान व्यवस्थित होता है। इसमें अंग्रेजी के सभी अक्षर (A से Z), अंक (0 से 9) तथा कुछ विशेष चिन्ह रहते हैं। इसे अक्षर बटन (Alphabet Key) यथा संख्यात्मक बटन (Numeric Key) भी कहा जाता है। इनका प्रयोग कंप्यूटर में Alphanumeric डाटा डालने के लिए तथा Word Processing प्रोग्राम में किया जाता है। मुख्य Keyboard में कुछ विराम चिन्ह (Punctuation Keys) भी होते हैं। कीबोर्ड पर स्थित कोई अक्षर, संख्या या प्रतिक जिसे हम कंप्यूटर में टाइप कर सकते हैं, कैरेक्टर (Character) कहलाता है। 
  2. फंक्शन बटन (Function Button ) यह कीबोर्ड के सबसे ऊपर F1 से F12 तक अंकित बटन होते हैं। इनका कार्य प्रयोग किए जाने वाले सॉफ्टवेयर पर निर्भर करता है। वास्तव में यह एक पूरे आदेश के बराबर होते हैं जिनकी हमें बार-बार आवश्यकता पड़ती है। इससे समय की बचत होती है। https://computernoteshindi.com/?p=1984&preview=true
  3. संख्यात्मक कीपैड (Numerical Keypad) कीबोर्ड की दाएं ओर केलकुलेटर के समान स्थित बटनो को संख्यात्मक कीपैड कहा जाता है। इनका प्रयोग संख्या को तीव्र गति से भरने के लिए किया जाता है। जिसमें 0 से 9 तक, दशमलव, जोड़, घटाओ, गुना तथा भाग के साथ न्यूमेरिकल लोक तथा एंटर बटन होते हैं। ध्यान रहे कि 0 से 9 तक की संख्याओं के बटन मुख्य कीबोर्ड पर भी निर्भर होते हैं। तथा दोनों का समान परिणाम होता है।
    https://computernoteshindi.com/?p=1984&preview=true

    NUMERICAL KEY

 

Numeric Keypad के कुछ बटन दो कार्य करते हैं। इन दोनों का प्रयोग कीबोर्ड द्वारा कर्सर को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए माउस के विकल्प के रूप में भी किया जाता है। अतः इन्हें कंट्रोल बटन भी कहा जाता है। इसका उपयोग कंप्यूटर गेम को नियंत्रित करने में भी किया जाता है।

 

यदि Num Lock बटन ऑन हो तो Numerical Keypad का प्रयोग संख्याओं को टाइप करने के लिए किया जाता है। यदि Num Lock बटन ऑफ हो तो इन बटनों का प्रयोग एरो तथा एंड, होम पेज, पेज डाउन, इन्सर्ट तथा डिलीट फंक्शन के लिए किया जाता है। Num Lock होने पर  इनसे संख्या टाइप नहीं की जा सकती है। किसी किसी कीबोर्ड में Num Lock ऑन होने पर एक हरी बत्ती भी जलती है।

कर्सर मूवमेंट बटन Cursar Movement Button)

कीबोर्ड में निचले भाग पर तीर (Arro) के निशान वाले चार बटन होते हैं। इस तीर के निशान वाले बटन का उपयोग पेज में कर्सर को लाइन के ऊपर, नीचे या दाएं, बांये करने के लिए किया जाता है। 

  • होम बटन (Home Key) – इस बटन की सहायता से कर्सर को लाइन के आरम्भ में ले जाने के लिए किया जाता है। 
  • एन्ड बटन (End Key) – इस बटन की सहायता से कर्सर को लाइन के अंत में करने के लिए किया जाता है। 
  • पेज अप बटन (Page Up) – इस पेज अप बटन के द्वारा कर्सर को डॉक्यूमेंट के पिछले पेज में ले जाने के लिए किया जाता है।
  • पेज डाउन बटन (Page Down Key) – इस पेज डाउन बटन के द्वारा कर्सर को डॉक्यूमेंट पेज के आगे वाले  पेज में ले जाने के लिए किया जाता है। 

मोडीफायर बटन (Modifire Key) – कंप्यूटर में बना कुछ बटन या बटनों का समूह जिसके उपयुयग से किसी अन्य बटनों से होने वाली कार्य में परिवर्तन हो जाता है, मोडीफायर कहलाता है। मोडीफायर बटन स्वयं कोई कार्य नहीं करता परंतु दूसरे बटनो के कार्य में बदलाव करता है। मोडीफायर बटन का प्रयोग किसी अन्य बटन के साथ मिलकर किसी विशेष कार्य को पूरा करने के लिए किया जाता है। मोडीफायर बटन निम्नलिखित है। Shift, Alter, Control तथा Windows बटन। इनका प्रयोग कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर के अनुसार बदलता रहता है। सुविधा के लिए कीबोर्ड पर Shift, Alter, Control तथा Windows बटन के दो दो बटन बनाए जाते हैं जो मुख्य कीबोर्ड के दोनों किनारों पर स्थित होते हैं।

क्या आप जानते हैं?

कंप्यूटर यूनिट के साथ मिलकर कीबोर्ड तथा मॉनिटर वीडियो डिस्प्ले टर्मिनल या मात्र टर्मिनल कहलाते हैं। टर्मिनल का अर्थ है वह स्थान जहां संचार पथ का अंत हो जाता है।

मुख्य उद्देश्य बटन

कंप्यूटर कंप्यूटर कीबोर्ड कुछ कुछ खास उद्देश्य के लिए बनाए जाते हैं, जिन्हें स्पेशल पर भी कहा जाता है कुछ स्पेशल परपज बटन निम्नलिखित है-

    • न्यूमैरिक लॉक बटन (Num Lock)- इस बटन का प्रयोग नंबर की को लॉक करने के लिए किया जाता है। लॉक ऑन रहता है तो कीबोर्ड के दाएं और के नंबर बटन काम नहीं करते हैं।
    • कैप्स लॉक बटन (Caps Lock)- इसका उपयोग जब हमें अंग्रेजी के सभी अक्षरों को कैपिटल लेटर में लिखना होता है तो कैप्स लॉक ऑन कर देते हैं। कैप्स लॉक ऑन रहने पर जितने भी बटन टाइप करते हैं वह सारे कैपिटल लेटर में होते हैं। जब हमें सभी लेटर को छोटे अक्षरों में लिखना होता है तो इस Caps Lock ऑन को पुनः  दबाकर ऑफ कर देते हैं। कैप्स लॉक और Num Lock बटन को टॉगल बटन भी कहते हैं। क्योंकि प्रतीक बार प्रेस करने पर इनका फंक्शन उल्टा हो जाता है।
    • शिफ्ट बटन (Shift Key)- इसे संयोजन बटन भी कहा जाता है। क्योंकि इसका उपयोग किसी दूसरे बटन के साथ में किया जाता है। जिस बटन पर दो चिह्न होते हैं उसमें ऊपर वाले चीन को लिखने के लिए Shift Key को दबाकर लिखा जाता है।
    • टैब बटन (Tab Key)- यह कर सको एक निश्चित दूरी, जो रूलर द्वारा तय की जा सकती है तक जंप करते हुए ले जाने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। किसी चार्ट, टेबल या एक्सेल प्रोग्राम में एक खाने से दूसरे खाने तक जाने के लिए भी टैब का प्रयोग किया जाता है।
    • रिटर्न बटन या इंटर बटन (Enter Key)- कंप्यूटर को दिए गए निर्देशों को कार्यान्वित करने के लिए तथा स्क्रीन पर टाइप डाटा को कंप्यूटर में भेजने के लिए इंटर बटन का प्रयोग किया जाता है। वर्ड प्रोसेसिंग प्रोग्राम में नया पैराग्राफ या लाइन आरंभ करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है।
    • एस्केप बटन (Esc Key)- बटन का उपयोग पिछले कार्य को समाप्त करने या चल रहे प्रोग्राम से बाहर जाने के लिए होता है।
    • बैक स्पेस बटन (Back Space Key)- इस बटन के उपयोग से कर सके ठीक भाई और स्थित अक्षर या स्पेस को एक-एक कर मिटाया जाता है। इसका प्रयोग टाइपिंग के साथ गलतियां ठीक करने में किया जाता है।
    • डिलीट बटन (Delete Key)- इस बटन का उपयोग कर सके ठीक दाएं और स्थित अक्षर स्पेस को एक-एक कर मिटाया जाता है। इससे कर सर के बाद के सभी डाटा एक स्पेस बाई और खिसक जाते हैं। इससे चयनित शब्द, लाइन, पैराग्राफ, पेज या फाइल को एक साथ मिटाया जा सकता है।
    • प्रिंट स्क्रीन बटन (Print Screen Key)- इस स्क्रीन पर जो कुछ भी दिख रहा है उसे प्रिंट किया जा सकता है। प्रिंट स्क्रीन बटन कंप्यूटर स्क्रीन का फोटो क्लिपबोर्ड में संग्रहित कर लेता है जिसे बाद में किसी अन्य प्रोग्राम में पेस्ट या एडिट किया जा सकता है।

  • स्क्रोल लॉक बटन (Scroll Lock Key)- इस बटन को दबाने से कंप्यूटर स्क्रीन पर आ रही सूचना एक स्थान पर रुक जाती है। सूचना को फिर से शुरू करने के लिए यही बटन दुबारा दबाना पड़ता है।
  • पॉज बटन (pause Key)- इसका कार्य स्क्रोल लॉक बटन जैसा ही है। किसी भी दूसरे बटन को दबाने पर सूचना पुनः आने शुरू हो जाती है।
  • इन शर्ट बटन (Inser Key)- इसका उपयोग करने के लिए किया जाता है नया टाइप हो जाता है। इन शर्ट बटन दबाकर कोई टाइपिंग बटन दबाने पर कर सके ठीक बाद स्थित आज्ञा अक्षर मिट जाता है। कथा उसके स्थान पर नया टेस्ट टाइप हो जाता है।
  • कंट्रोल + ऑल्ट + डिलीट (Ctrl + Alt + Del)- इन तीनों को एक साथ दबाने से कंप्यूटर में चल रहे प्रोग्राम बंद हो जाते हैं। तथा कंप्यूटर फिर से स्वयं शुरू होने वाली अवस्था में पहुंच जाती है। ऐसा अक्सर तब किया जाता है जब कंप्यूटर हैंग हो जाता है या काम करना बंद कर देता है। अर्थात किसी अन्य बटन के आदेश का पालन नहीं करता। इन्वर्टर नो का उपयोग कर रीस्टार्ट करने के लिए किया जाता है इसे रीसेट भी कहते हैं।
  • स्पेस बार (Space Bar)– यह कीबोर्ड में सबसे नीचे की पंक्ति में स्थित सबसे लंबा बटन होता है। मुख्य रूप से इस बटन का उपयोग टाइप करते समय दो अक्षरों के बीच में खाली स्थान या स्पेस देने के लिए किया जाता है।

आपने क्या सीखा? 

दोस्तों आज की पोस्ट के द्वारा हम कंप्यूटर कीबोर्ड पर काम कैसे करते हैं उसके बारे में विस्तार से। जिसमे कीबोर्ड के प्रकार और उसके बटनों के बारे जाना। आशा करता हूँ। आपको भी मेरी आज की यह पोस्ट पसंद आई होगी। मेरी पुरे पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद्। 

Previous Post Link देखना ना भूलें।

Computer MCQ- 14 [2022]

What is Memory of Computer?

कंप्यूटर MCQ 6

कंप्यूटर का इतिहास एवं उसका विकास 

A to Z Keyboard Shortcut key [2022]

Transition Tab kya hai 2021

Use of Design Tab in MS Power Point in हिंदी [2021] What is Design Tab in MS Power Point

Insert Tab in Power Point, पावर पॉइंट में इन्सर्ट टैब का उपयोग [2021]

What is computer?

व्यू टैब क्या है? व्यू टैब का प्रयोग एम एस एक्सेल में 

एम एस एक्सेल में होम टैब क्या है ? What is Home Tab in MS Excel?

होम टैब क्या है ?

इन्सर्ट टैब क्या है ?

पेज लेआउट  टैब क्या है ?

कंप्यूटर क्या  वीडियो है?

28 thoughts on “How to Use Keyboard of Computer

  1. Pingback: How to Use of Mouse Mouse ka prayog kaise kare - COMPUTER NOTES HINDI

  2. JacksonExcew

    8 sınıf okulistik deneme sınavı cevaplarıfen animasyonları indir banka hangi durumlarda hesaba bloke koyar barcelona deplasman forması 2019galatasaray fenerbahçe derbisi online izle
    havacД±lД±k kurallarД± pdfdiyanet yurtdД±ЕџД± yГјksek lisans en iyi rakД± 2019 gaziantep haberdarideal trend
    edirne kiralД±k 3 1gerel hisse investing forum galatasaray beЕџiktaЕџ oranlarД± fifa 19 uygun fiyatlД± oyuncularfarming simulator 18 para hilesi pc
    dolunay tüm bölümleri izle4 sınıf 2 dönem 2 matematik sınavı 6 sınıf ingilizce ders kitabı sayfa 18 cevapları 7sınıf matematik sayfa 32 cevaplarıfarmasi mart kataloğu 2020 pdf
    30 ağustos 2018 hava durumubedava hint filmleri canlıkolik tasarım güneş gözlüğüatlasbet giris

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *